Next

कोरोना वायरस के कहर से कैसे निपटेगी हमारी सरकार

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: March 4, 2020 05:23 PM2020-03-04T17:23:13+5:302020-03-04T17:29:40+5:30

नई दिल्ली: देश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 28 पुष्ट मामले सामने आए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि अब सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों और यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी.  इससे पहले 12 देशों के यात्रियों की ही स्क्रीनिंग की जा रही थी.  हर्षवर्धन ने कहा कि यदि ईरान की सरकार मदद करने को तैयार होती है तो वहां भी एक जांच केंद्र बनाया जा सकता है. ऐसा होने से स्क्रीनिंग के बाद ईरान से भारत के नागरिकों को वापस लाने में मदद मिलेगी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के 28 मामलों में से एक व्यक्ति दिल्ली से और उसके छह रिश्तेदार आगरा से, एक तेलंगना से जबकि 16 इटली के नागरिक और उनका भारतीय चालक शामिल हैं.  इसके अलावा, तीन पुराने मामले केरल के हैं. अब तक हवाई अड्डों पर 5,89,000 लोगों की, जबकि सीमाओं पर दस लाख से भी ज्यादा लोगों की स्क्रीनिंग की गई है. इसके साथ ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कोरोना वायरस से संक्रमित दिल्ली के मरीज के संपर्क में आने वाले 88 लोगों की जांच के की कोशिश की जा रही है. दिल्ली सरकार कोरोना वायरस संक्रमण की जांच के लिए लेडी हार्डिंग अस्पताल और एलएनजेपी अस्पताल में दो लैब बनाएगी. सीएम ने दावा किया कि मास्क की कोई कमी नहीं है, साथ ही दिल्ली के नगर निगम उन चार देशों से आने वाले पर्यटकों से संपर्क कर रहे हैं और उनकी जांच करवा रहे हैं जहां कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले हैं. शहर के होटलों और अतिथि गृहों में भी जांच की जा रही है. किसी इमरेजेंसी के दौरान 19 सरकारी और छह प्राइवेट अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं. 

टॅग्स :कोरोना वायरसनोएडा समाचारदिल्लीअरविन्द केजरीवालमोदी सरकारCoronavirusnoida newsdelhiArvind Kejriwalmodi government