Next

इस मंदिर में होता है चमत्कार, बिना दवाई के सही हो जाते मरीज

By रामदीप मिश्रा | Published: December 28, 2017 08:27 PM2017-12-28T20:27:13+5:302017-12-28T20:31:30+5:30

इतिहास में चमत्कारी के कई उदाहरण भरे पड़े हैं। आस्था रखने वाले के लिए आज भी अने�..


इतिहास में चमत्कारी के कई उदाहरण भरे पड़े हैं। आस्था रखने वाले के लिए आज भी अनेक चमत्कार के उदाहरण मिलते हैं, ऐसा ही उदाहरण नागौर के 40 किलोमीटर दूर स्तिथ ग्राम बुटाटी में देखने को मिलता है। मान्यता है कि जहां चतुरदास जी महाराज के मंदिर में लकवे से पीड़ित मरीज का राहत मिलती है। वर्षों पूर्व हुई बिमारी का भी काफी हद तक इलाज होता है। यहां कोई पण्डित महाराज या हकीम नहीं होता, ना ही कोई दवाई लगाकर इलाज किया जाता। यहां मरीज के परिजन नियमित लगातार 7 मन्दिर की परिक्रमा लगवाते हैं। हवन कुण्ड की भभूति लगाते हैं और बीमारी धीरे-धीरे अपना प्रभाव कम कर देती है। शरीर के अंग जो हिलते डुलते नहीं हैं वह धीरे-धीरे काम करने लगते हैं। लकवे से पीड़ित जिस व्यक्ति की आवाज बन्द हो जाती वह भी धीरे-धीरे बोलने लगता है। इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिलता, लेकिन दुनिया में आस्था का कोई जवाब नहीं है और प्रमाण भी नहीं मिल पाता। यहां लोग आते हैं और अपनी तकलीफ दूर कर वापस जाते हैं।

टॅग्स :राजस्थान समाचारलोकमत हिंदी समाचारrajasthan newsLokmat hindi news