महात्मा गांधी | Latest Mahatma Gandhi (Mohandas Karamchand Gandhi) Info, Bio, News updates in Hindi | Mahatma Gandhi, Father of The Nation, breaking news in Hindi | Mahatma Gandhi, Bapu Photos & Videos at Lokmat News Hindi

लाइव न्यूज़ :

AllNewsPhotosVideos
महात्मा गाँधी

महात्मा गाँधी

Mahatma gandhi, Latest Hindi News

2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में जन्मे मोहनदास करमचन्द गांधी को दुनिया महात्मा गांधी के नाम से जानती है। उन्होंने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में सबसे अहम भूमिका निभाई थी। वे सत्य और अहिंसावादी ‌थे। उन्होंने 200 सालों की अंग्रेजी हुकुमत को अहिंसावादी अंदोलनों से उखाड़ फेंका। इसमें स्वदेशी अंदोलन, भारत छोड़ो आंदोलन, सविनय अवज्ञा आंदोलन, नमक सत्याग्रह जैसे प्रमुख आंदोलन हैं। आजादी के वक्त वह भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के खिलाफ ‌‌थे। आजादी के बाद 30 जनवरी, 1948 को ना‌थूराम गोडसे ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी।
Read More
ब्लॉग: देश में राम राज लाने के प्रबल आकांक्षी थे महात्मा गांधी - Hindi News | Mahatma Gandhi had a strong desire to bring Ram Raj in the country | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :ब्लॉग: देश में राम राज लाने के प्रबल आकांक्षी थे महात्मा गांधी

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी देश में स्वराज के साथ राम राज के भी प्रबल आकांक्षी थे और इन दोनों के लिए उन्होंने अपनी आखिरी सांस तक कुछ भी उठा नहीं रखा। इससे आगे की बात करें तो वे इन दोनों को अन्योन्याश्रित मानते थे और उनके मन-मस्तिष्क में इन दोनों की तस् ...

History 30 January Today: 30 जनवरी, 1948 की शाम को गोडसे ने महात्मा गांधी की जान ली, यह दिन इतिहास में सबसे दुखद दिनों में शामिल, जानें आज क्या-क्या हुआ... - Hindi News | History 30 January Today aaj kya-kya hua tha evening of January 30-1948 Nathuram Godse took life of Mahatma Gandhi this day most tragic days in history know what happened today | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :History 30 January Today: 30 जनवरी, 1948 की शाम को गोडसे ने महात्मा गांधी की जान ली, यह दिन इतिहास में सबसे दुखद दिनों में शामिल, जानें आज क्या-क्या हुआ...

History 30 January Today: जीवनकाल में अपने विचारों और सिद्धांतों के कारण चर्चित रहे मोहन दास करमचंद गांधी का नाम दुनियाभर में सम्मान से लिया जाता है। ...

ब्लॉग: नेताजी सुभाषचंद्र बोस : महानायक भी और मिथक भी ! - Hindi News | Netaji Subhash Chandra Bose A great hero as well as a myth! | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :ब्लॉग: नेताजी सुभाषचंद्र बोस : महानायक भी और मिथक भी !

1897 में आज ही के दिन कटक में धर्मपरायण माता प्रभावती देवी और वकील पिता जानकीनाथ बोस के पुत्र के रूप में जन्मे सुभाष चंद्र बोस के व्यक्तित्व व कृतित्व में बचपन से ही वीरता व बुद्धिमत्ता का मणिकांचन संयोग था। ...

New Year 2024: आने वाली पीढ़ी ने महानायकों को याद करते हुए किया 2023 को विदा, देखा नये भारत का सपना - Hindi News | New Year 2024: The coming generation bid farewell to 2023 remembering the great heroes and saw the dream of a new India | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :New Year 2024: आने वाली पीढ़ी ने महानायकों को याद करते हुए किया 2023 को विदा, देखा नये भारत का सपना

साल 2023 कुछ खट्टी-मिठी यादों के साथ इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया। बीते साल भारत ने कई ऐसी उपलब्धियां हासिल की, जिस पर हर भारतीय को ताउम्र गर्व रहेगा। ...

डॉक्टर विजय दर्डा का ब्लॉग: आओ, नववर्ष में जी लें, क्यों न कुछ बातें जिंदगी की कर लें! - Hindi News | Dr. Vijay Darda's Blog: Come, let's live in the New Year, why not do some things about life! | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :डॉक्टर विजय दर्डा का ब्लॉग: आओ, नववर्ष में जी लें, क्यों न कुछ बातें जिंदगी की कर लें!

मौका चूंकि नए साल का है तो मैंने सोचा कि क्यों न कुछ बातें जिंदगी की कर लें, जिंदगी जीने की कर लें, वक्त की कर लें। ...

ब्लॉग: सात्विक जीवन के कीर्तिस्तंभ थे महामना - Hindi News | Blog: Mahamana was a pillar of virtuous life | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :ब्लॉग: सात्विक जीवन के कीर्तिस्तंभ थे महामना

मदन मोहन मालवीय को गांधीजी ने ‘महामना’ कहकर संबोधित किया था और वे असाधारण व्यक्तित्व की महिमा से सम्पन्न महामना सही अर्थों में जन-नायक थे। वे भारत में एक सामाजिक–सांस्कृतिक परिवर्तन के सूत्रधार बने। ...

ब्लॉग: कहां गई वह जनाधार और सरोकारों वाली पीढ़ी - Hindi News | Blog: Where has that generation with mass support and concerns gone? | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :ब्लॉग: कहां गई वह जनाधार और सरोकारों वाली पीढ़ी

भारतीय लोकतंत्र अब परिपक्व हो रहा है। संसार में थोड़ी-थोड़ी धाक भी जमने लगी है। नई पीढ़ी ने अपनी प्रतिभा के बूते कमोबेश सभी देशों में अपने हुनर, कौशल और ज्ञान से अलग पहचान बनाई है। ...

ब्लॉग: सरदार पटेल और पंडित नेहरू : रिश्तों की धूप-छांव - Hindi News | Sardar Patel and Pandit Nehru Sunshine and shade of relations | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :ब्लॉग: सरदार पटेल और पंडित नेहरू : रिश्तों की धूप-छांव

नेहरूजी की गांधीजी और सरदार पटेल से पहली मुलाकात 1916 में लखनऊ कांग्रेस अधिवेशन में हुई थी, जिसमें लोकमान्य तिलक समेत उस दौर के सारे दिग्गज नायक पधारे थे और कांग्रेस में एकता का एक नया दौर दिखा था। तब से आखिरी सांस तक उनका रिश्ता बना रहा। ...