Indian Army has code-named its anti COVID19 operations as Operation Namaste | भारतीय सेना कोरोना वायरस से लड़ने को तैयार, 'ऑपरेशन नमस्ते' के जरिए करेगी लोगों की मदद, सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने कही ये बात
भारतीय सेना कोरोना वायरस से लड़ने को तैयार। (फाइल फोटो)

Highlightsकोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारतीय सेना की भी तैयारियां जोरों पर हैं और उसने अब तक देश में आठा क्वारनटीन सेंटर बनाए हैं।सेना प्रमुख ने कहा कि आर्मी चीफ होने के नाते मेरी प्राथमिकता अपनी सेना को सुरक्षित रखना है।

कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए भारत युद्धस्तर पर कार्य कर रहा है। देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन किया हुआ है। इस घातक वायरस से लड़ने के लिए भारतीय सेना की भी तैयारियां जोरों पर हैं और उसने अब तक देश में आठा क्वारनटीन सेंटर बनाए हैं। बता दें, कारोना के भारत में अबतक 724 मरीज सामने आ चुके हैं और 17 लोगों की मौत हो चुकी है।

समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना ने  कोविड 19 के खिलाफ चलाए जाने वाले ऑपरेशन को 'ऑपरेशन नमस्ते' नाम दिया है। उसने बताया है कि सेना अब तक देश में 8 क्वारनटीन सेंटर बना चुकी है।

भारतीय सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा है कि सेना अतीत में सभी अभियानों में सफल हुई है और 'ऑपरेशन नमस्ते' को भी सफलतापूर्वक अंजाम देगी। साथ ही साथ उन्होंने कहा कि आर्मी चीफ होने के नाते मेरी प्राथमिकता अपनी सेना को सुरक्षित रखना है। हम तभी अपनी ड्यूटी निभा पाएंगे जब हम कोरोना वायरस की बीमारी से दूर रहेंगे। अगर हमें अपने देशवासियों की मदद करनी है तो हम ये मदद तभी कर पाएंगे जब हम सुरक्षित होंगे, फिट होंगे। 


दरअसल, सेना की उत्तरी कमान ने छुट्टी या बाहरी ड्यूटी से लौट रहे अपने जवानों से कहा है कि वे सीधे विभिन्न ट्रांजिट कैंपों में स्थापित स्क्रीनिंग केंद्रों पर रिपोर्ट करें। कोरोना वायरस के प्रसार पर काबू पाने के लिए किए जा रहे उपायों के तहत यह कदम उठाया गया। एक अधिकारी ने कहा कि मेडिकल स्क्रीनिंग के बाद जवानों को 14 दिनों के लिए पृथक रखा जा रहा है। 

उत्तरी कमान के पीआरओ लेफ्टिनेंट कर्नल अभिनव नवनीत ने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में भारतीय सेना के प्रयासों में गति आई है। सेना द्वारा अपने कर्मियों के बीच महामारी को रोकने के लिए कई उपाय किए जा रहे हैं ताकि वे अपने प्राथमिक कार्य के लिए उपलब्ध रहें और कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में लोगों की मदद कर सकें।  सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए, बैरकों में बिस्तरों के बीच की दूरी बढ़ाई गई है, डाइनिंग हॉल में भीड़ से बचने के लिए कदम उठाए गए हैं। इकाई स्तर पर सेना के सभी कर्मियों द्वारा गतिशील और विवेकपूर्ण दृष्टिकोण अपनाया गया है। 

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में हंगामा बरपा हुआ है। भारत में इसके 724 मरीज सामने आ चुके हैं और 17 लोगों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सुबह नौ बजकर 15 मिनट पर अपने ताजा आंकड़ों में बताया कि महाराष्ट्र में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि गुजरात में तीन लोगों की मौत हुई है। 

कर्नाटक में अभी तक दो लोग जान गंवा चुके हैं जबकि मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, बिहार, पंजाब, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में एक-एक शख्स की मौत हुई। आंकड़ों के अनुसार, देश में कोविड-19 के ऐसे मामलों की संख्या 640 है जिनमें रोगियों का उपचार चल रहा है जबकि 66 लोग या तो स्वस्थ हो गए या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई तथा एक व्यक्ति कहीं चला गया। मंत्रालय ने बताया कि संक्रमित लोगों के कुल 724 मामलों में 47 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। 
 

Web Title: Indian Army has code-named its anti COVID19 operations as Operation Namaste
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे