Next

पीएम मोदी के सोशल मीडिया छोड़ने के पीछे का सच

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: March 3, 2020 06:55 PM2020-03-03T18:55:29+5:302020-03-03T18:55:29+5:30

सोशल मीडिया अकाउंट छोड़ने पर विचार करने वाले ट्वीट का राज़ पीएम ने खुद ही खोल दिया. वो सोशल मीडिया छोड़कर कहीं नहीं जा रहे दरअअसल पीएम अपने सोशल मीडिया अकाउंट उन महिलाओं को सौंपेंगे जिनका जीवन एवं काम इंसपायर करने वाला हो. उन्होंने लोगों से ऐसी महिलाओं की कहानियां उनके साथ शेयर करने का अनुरोध किया है. मोदी ने ट्वीट किया, इस महिला दिवस यानि 8 मार्च को मैं अपने सोशल मीडिया अकाउंट ऐसी महिलाओं को सौंप दू्ंगा जिनका जीवन और कार्य हमें प्रेरित करते हैं.  इससे लाखों लोगों को प्रोत्साहित करने में मदद मिलेगी. पीएम ने कहा कि क्या आप इस तरह की महिला हैं या आप इसी तरह की किसी इंस्पायरिंग महिला को जानते हैं? .‘हैशटैग शीइन्सपायरअस’ के साथ ऐसी कहानियां शेयर करिये. 

पीएम मोदी के सोशल मीडिया छोड़ने पर विचार करने की खबरों पर बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने तंज करते हुये कहा कि यह कदम वास्तव में उनकी पार्टी और सरकार की कमियों से जनता का ध्यान बंटाने का एक और राजनीतिक स्वार्थ भरा प्रयास ही ज्यादा लगता है.  मायावती ने कहा कि ''पीएम श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा सोशल मीडिया से पूरी तरह से अलग होने की कल की गई एलान काफी सुर्खियों में है. 

सोमवार रात को यह ट्वीट जैसे ही आया सोशल मीडिया पर हलचल मच गयी. पीएम ने कल कहा था  ‘‘सोच रहा हूं कि इस रविवार को फेसबुक, ट्विटर, इंस्ट्राग्राम एवं यूट्यूब पर अपना सोशल मीडिया अकाउंट छोड़ दूं.  मोदी के इस ट्वीट को एक घंटे के भीतर करीब 26 हजार बार रीट्वीट किया गया.  प्रधानमंत्री मोदी सोशल मीडिया पर सबसे अधिक फॉलो किये जाने वाले दुनिया के चुनिंदा नेताओं में शामिल हैं.  ट्विटर पर उनके 5 करोड़ से ज्यादा  करोड़ फॉलोअर हैं जबकि फेसबुक पर 4.4 करोड़ और इंस्टाग्राम पर 3.52 करोड़ फॉलोअर हैं. 

 

 

टॅग्स :पीएम मोदी ने सोशल मीडिया छोड़ाफेसबुकट्विटरयू ट्यूबमायावतीPM Modi Quits Social MediaFacebookTwitterYoutubeMayawati