Latest Book Review (पुस्तक समीक्षा), Best books, Novels, Fiction, Non-Fiction, Mystery | The Most-Read Book Reviews

लाइव न्यूज़

AllNewsPhotosVideos
पुस्तक समीक्षा

पुस्तक समीक्षा

Book review, Latest Hindi News

साहित्य, सिनेमा, राजनीति, दर्शन और पर्यावरण समेत तमाम मुद्दों पर बहुत अच्छा रचा और प्रकाशित किया जा रहा है। लोकमत न्यूज पर पढ़ें ताजा तरीन पुस्तकों की जानकारी और समीक्षा। 
Read More
बिहार: राजीव कुमार झा की किताब 'बोये हुए शब्द' और 'क्या लिखूं मैं' का लोकार्पण, प्रेरक कविताओं का है संकलन - Hindi News | Bihar: Rajeev Kumar Jha two book of Hindi Poem launched | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :बिहार: राजीव कुमार झा की किताब 'बोये हुए शब्द' और 'क्या लिखूं मैं' का लोकार्पण, प्रेरक कविताओं का है संकलन

राजीव झा की दो किताबें 'क्या लिखूं मैं' और 'बोये हुए शब्द' कविता की किताबें हैं. इन्हें कोरोना लॉकडाउन के दौरान लिखा गया. ...

किताब में नहीं है कई अहम शख्सियतों के नाम, फैंस के आरोप का प्रियंका चोपड़ा ने ऐसे दिया जवाब - Hindi News | Priyanka Chopra gave such an answer to the allegation of the fans | Latest bollywood News at Lokmatnews.in

बॉलीवुड चुस्की :किताब में नहीं है कई अहम शख्सियतों के नाम, फैंस के आरोप का प्रियंका चोपड़ा ने ऐसे दिया जवाब

सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाली प्रियंका चोपड़ा आजकल अपनी किताब की वजह से चर्चा में हैं। उनकी किताब 'अनफिनिश्ड', जिसे उन्होंने 9 फरवरी को लॉन्च किया था अब बेस्ट सेलर्स में शामिल हो गई है। ...

समीक्षा: विकास की मार से त्रस्त आम भारतीयों की मार्मिक कराह है शिरीष खरे की किताब 'एक देश बारह दुनिया' - Hindi News | shirish khare hindi book ek desh barah duniya review | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :समीक्षा: विकास की मार से त्रस्त आम भारतीयों की मार्मिक कराह है शिरीष खरे की किताब 'एक देश बारह दुनिया'

पत्रकार शिरीष खरे की नई किताब 'एक देश बारह दुनिया' इन दिनों चर्चा में है। इस किताब की समीक्षा कर रहे हैं नीरज। ...

युवा हिन्दी लेखक प्रेमचंद से सीख सकते हैं ये तीन बातें - Hindi News | premchand birth anniversary premchand hindi writings and its lession | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :युवा हिन्दी लेखक प्रेमचंद से सीख सकते हैं ये तीन बातें

प्रेमचंद का जन्म 31 जुलाई 1880 को वाराणसी के लमही गाँव में हुआ था। एक दर्जन से ज्यादा उपन्यास और तीन सौ से ज्यादा कहानियाँ लिखने वाले प्रेमचंद को कथा सम्राट माना जाता है। प्रेमचंद का निधन अक्टूबर 1936 में हुआ। आज प्रेमचंद जयंती पर रंगनाथ सिंह बता रहे ...

क्या हिंदी की प्रख्यात लेखिका कृष्णा सोबती ने आपातकाल का समर्थन किया था? - Hindi News | Krishna Sobti biography by Girdhar Rathi published by Raza Foundation | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :क्या हिंदी की प्रख्यात लेखिका कृष्णा सोबती ने आपातकाल का समर्थन किया था?

कृष्णा सोबती का जन्म अविभाजित भारत के गुजरात में 18 फरवरी 1925 को हुआ था। अपने लेखने के लिए साहित्य के सभी प्रमुख पुरस्कारों से सम्मानित सोबती का निधन 25 जनवरी 2019 को हुआ। ...

आज़ादी की डगर पे पाँव: शहीदों की चिताओं पर जुड़ेंगे हर बरस मेले... - Hindi News | shah alam book azadi ki dagar pe paon review by rangnath singh | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :आज़ादी की डगर पे पाँव: शहीदों की चिताओं पर जुड़ेंगे हर बरस मेले...

पत्रकार और एक्टिविस्ट शाह आलम की नई किताब में 'आजादी की डगर पे पाँव' में भारत की आजादी के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने वाले क्रांतिकारियों के परिजनों, शहादत स्थलों और उनसे जुड़ी अन्य निशानियों की पड़ताल की गयी है। ...

समीक्षा: हाइवे के किनारे खड़ा है "ग्लोबल गांव का आदमी" - Hindi News | Book review "Man of Global Village" standing side highway manju shree gupta | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :समीक्षा: हाइवे के किनारे खड़ा है "ग्लोबल गांव का आदमी"

मंजुश्री गुप्ता का ताजा प्रकाशित काव्य संग्रह ग्लोबल गांव का आदमी इस दृष्टि से एक बेहद महत्वपूर्ण काव्य संग्रह है। एक ऐसा संग्रह, जिसमें अपने युग की शिनाख्त की गयी है। ...

रस्किन बांड की साहित्य यात्रा, ‘द सोंग ऑफ इंडिया’ नामक सचित्र पुस्तक 20 जुलाई तक बाजार में, साहित्य जीवन का 70 वां साल - Hindi News | Ruskin Bond's literary journey Illustrated book  70 years successful author publishers Puffin Books Penguin Random House India | Latest india News at Lokmatnews.in

भारत :रस्किन बांड की साहित्य यात्रा, ‘द सोंग ऑफ इंडिया’ नामक सचित्र पुस्तक 20 जुलाई तक बाजार में, साहित्य जीवन का 70 वां साल

‘द सोंग ऑफ इंडिया’ में बांड 16 साल की अपनी अवस्था की कहानी बयां करते हैं और बताते हैं कि कैसे वह अपनी लेखन यात्रा शुरू करने के लिए संघर्ष कर रहे थे। यह पुस्तक उनके संस्मरण की चौथी किस्त है। इससे पहले उनके संस्मरण से जुड़ी ‘लुकिंग फोर रैनबो’ (2017), ‘ ...