हिमाचल, उत्तराखंड और कश्मीर में भारी बर्फबारी, मैदानी इलाके में ठंड, देखिए फोटो

By सतीश कुमार सिंह | Published: November 16, 2020 02:31 PM2020-11-16T14:31:00+5:302020-11-16T20:41:27+5:30

Next

हिमाचल प्रदेश के कुफरी में आज बर्फबारी हुई। लोग घर में दुबक गए। सैलानियों ने जमकर लुफ्त उठाया।

हिमाचल प्रदेश के मुख्य पर्यटन स्थलों कुफरी और मनाली में सोमवार को मौसम की पहली बर्फबारी हुई। मौसम विभाग ने यह जानकारी दी।उत्तर भारत में मौसम का मिजाज बदल चुका है, पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी और मैदानी इलाकों में हुई बारिश से ठिठुरन बढ़ने लगी है। शिमला के पास कुफरी में भी इस सीजन की पहली बर्फबारी हो गई है।

शिमला स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि पिछले 24 घंटों में शिमला जिले के कुफरी में सात सेंटीमीटर बर्फबारी हुई जबकि कुल्लू जिले के मनाली में दो सेमी बर्फबारी हुई। ऊंचे पहाड़ों के साथ-साथ उसके आसपास के निचले इलाकों में भी बर्फबारी की वजह से सर्दी बढ़ गई है, पहाड़ी इलाकों से चलने वाली ठंडी हवाएं मैदानी इलाकों में ठिठुरन बढ़ा दी है।

ठंड और बर्फबारी के बीच सोमवार को भैया दूज के पावन पर्व पर उत्तराखंड में उच्च गढ़वाल हिमालयी क्षेत्र स्थित केदारनाथ मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए बंद हो गए। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के उनके समकक्ष त्रिवेंद्र सिंह रावत भी उपस्थित रहे।

उन्होंने बताया कि सांगला में 25 सेमी बर्फबारी हुई, जबकि गोंदला में 20 सेमी, खदराला में 18 सेमी, कल्पा में 5.6 सेमी और केलांग में 4 सेमी बर्फबारी हुई। इसके अलावा, राजधानी शिमला सहित राज्य के कई अन्य क्षेत्रों में बारिश हुई।उत्तराखंड के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में इस मौसम में पहली बार भारी हिमपात हुआ, जिसके बाद राज्य में ठंड बढ़ गई। केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, हरसिल और औली सहित सभी उंचाई वाले क्षेत्रों में रविवार रात से ही हिमपात शुरू हो गया और सोमवार सुबह तक बर्फ की मोटी चादर जम गयी।

केदारनाथ मंदिर के कपाट बंद होने के दौरान भी बर्फबारी हो रही थी और देखते ही देखते पूरा क्षेत्र बर्फ की सफेद चादर में लिपट गया। गढ़वाल हिमालय में स्थित चारधामों में से तीन अन्य धामों में भी रविवार रात से बर्फबारी हो रही है, जिससे इन क्षेत्रों में भीषण ठंड और शीतलहर के हालात बन गए हैं।

चमोली जिले में प्रसिद्ध स्की रिजार्ट औली में रविवार रात से अब तक एक फुट से ज्यादा बर्फ जम चुकी है । देहरादून, मसूरी तथा अन्य क्षेत्रों में रात भर भारी बारिश हुई, जिससे ठंड बढ़ गयी। मौसम विभाग ने एक—दो दिन बारिश और हिमपात जारी रहने की संभावना व्यक्त की है।

शिमला में 21.6 मिलीमीटर बारिश हुई। मौसम अधिकारी ने बताया कि आदिवासी जिले लाहौल और स्पीति के प्रशासनिक केंद्र केलांग राज्य में सबसे ठंड स्थान रहा, जहां का तापमान शून्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। कुफरी का न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस पर आ गया। सिंह ने बताया कि शिमला का न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।