'सीएए' और 'धारा 370' की वापसी पर क्या बोले केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री नकवी, जानिए

By रुस्तम राणा | Published: November 21, 2021 12:33 PM2021-11-21T12:33:04+5:302021-11-21T12:33:04+5:30

नकवी ने कहा कि वे लोग अच्छी तरह से जानते हैं कि सीएए किसी की नागरिकता लेने के लिए नहीं, बल्कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में सताए हुए लोगों को नागरिकता देने के लिए है।

Union Minister Naqvi slams those who saying CAA should be repealed | 'सीएए' और 'धारा 370' की वापसी पर क्या बोले केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री नकवी, जानिए

केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी

Next
Highlightsसीएए और धारा 370 की वापसी मांग करने वालों को नकवी ने लताड़ाकहा- वे अच्छी तरह से जानते हैं सीएए सिटीजन लेने का नहीं, सिटिजन देने का कानून है

मुरादाबाद: जब से कृषि कानून की वापसी का ऐलान हुआ है तब से सोशल मीडिया पर 'धारा 370' और सीएए (नागरिकता संशोधन कानून) की वापसी की मांग उठने लगी है। 

केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने इस मामले में कहा है कि, राजनीतिक ड्रामा शुरू हो चुका है। कुछ लोग सीएए और धारा 370 की भी वापसी की मांग कर रहे हैं। वे लोग अच्छी तरह से जानते हैं कि सीएए किसी की नागरिकता लेने के लिए नहीं, बल्कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में सताए हुए लोगों को नागरिकता देने के लिए है। 

वहीं नकवी ने धारा 370 पर कहा कि, जब से जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाया गया है तब से राज्य की कई सारी समस्याएं भी दूर हुई हैं। इससे लोग को मुख्यधारा में आने का मौका मिला है। वे राजनीतिक प्रकिया के भी हिस्सा बने हैं।

बीते शुक्रवार को प्रकाश पर्व के शुभ अवसर पर पीएम मोदी के द्वारा कृषि कानून की वापसी का ऐलान किया था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने धारा 370 और सीएए की भी वापसी की मांग की थी। सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने यह भी पूछा था कि क्या अब मोदी सरकार सीएए और धारा 370 को भी वापस लेगी? 

आपको बता दें कि सीएए के खिलाफ दिल्ली के शाहीनबाग सहित देश के कई हिस्सों में बड़ा आंदोलन चला था। मोदी सरकार द्वारा लाए गए इस कानून का भी जमकर विरोध हुआ था। वहीं धारा जब केन्द्र सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 को हटाया था तब सरकार से इस फैसले से विपक्ष सहित पूरा देश चौंक गया था।

Web Title: Union Minister Naqvi slams those who saying CAA should be repealed

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे