मलेरिया उन्मूलन की दिशा में आगे बढ़ने के लिए प्रौद्योगिकी, नवोन्मेष से लाभ उठाने की जरूरत: अधिकारी

By भाषा | Published: November 25, 2021 09:21 PM2021-11-25T21:21:18+5:302021-11-25T21:21:18+5:30

Need to leverage technology, innovation to move forward towards eradicating malaria: Officials | मलेरिया उन्मूलन की दिशा में आगे बढ़ने के लिए प्रौद्योगिकी, नवोन्मेष से लाभ उठाने की जरूरत: अधिकारी

मलेरिया उन्मूलन की दिशा में आगे बढ़ने के लिए प्रौद्योगिकी, नवोन्मेष से लाभ उठाने की जरूरत: अधिकारी

Next

नयी दिल्ली, 25 नवंबर भारत में मलेरिया की स्थिति तेजी से बदल रही है और देश में इसके मामले सदी की शुरुआत में 20 लाख से कम होकर हाल के वर्षों में दो लाख हो गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रधान सलाहकार डॉ. पी. के. सेन ने ‘मलेरिया नो मोर’ (एमएनएम) द्वारा आयोजित ‘विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं नवोन्मेष सम्मेलन’ को संबोधित करते हुए मलेरिया उन्मूलन के प्रयासों में आगे बढ़ने के लिए प्रौद्योगिकी और नवाचार का लाभ उठाने की आवश्यकता रेखांकित की।

उन्होंने कहा, ‘‘भारत में सदी की शुरुआत में मलेरिया के मामले 20 लाख से कम होकर हाल के वर्षों में दो लाख हो गए हैं। मलेरिया की स्थिति तेजी से बदल रही है, देश में मलेरिया उन्मूलन का ध्यान वर्तमान में मौजूदा साधनों के उपयोग, मौजूदा तकनीक पर अधिक निर्भरता आदि पर है।’’

एमएनएम के एक बयान में कहा गया है कि मलेरिया भारत की लंबे समय से चली आ रही जनस्वास्थ्य समस्याओं में से एक है और लगभग 1.26 अरब की आबादी के लिए खतरा है और यह लगभग 1.9 अरब अमरीकी डालर के आर्थिक बोझ के लिए जिम्मेदार है।

भारत में 2030 तक मलेरिया उन्मूलन के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संकल्प ने देश के मलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम को गति प्रदान की है। तदनुसार, भारत ने 2017 में मलेरिया उन्मूलन के लिए अपनी राष्ट्रीय रणनीतिक योजना शुरू की।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Need to leverage technology, innovation to move forward towards eradicating malaria: Officials

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे