महाराष्ट्र में कोरोना वायरस: कोरोना की तीसरी लहर की आशंका, राजेश टोपे बोले- घबराएं नहीं, सावधान रहें, 80 फीसदी से ज्यादा लोगों का टीकाकरण

By सतीश कुमार सिंह | Published: November 24, 2021 06:53 PM2021-11-24T18:53:13+5:302021-11-24T18:54:17+5:30

महाराष्ट्र में कोविड-19 के उपचाराधीन रोगियों की संख्या 9,493 हो गयी है। संक्रमण से ठीक होने की दर 97.68 प्रतिशत हो गयी है जबकि मृत्यु दर 2.12 प्रतिशत बनी हुई है।

CoronaVirus in Maharashtra Threat third wave in December Don't panic but be careful says Rajesh Tope | महाराष्ट्र में कोरोना वायरस: कोरोना की तीसरी लहर की आशंका, राजेश टोपे बोले- घबराएं नहीं, सावधान रहें, 80 फीसदी से ज्यादा लोगों का टीकाकरण

महाराष्ट्र में अब तक 6,48,44,896 नमूनों की कोविड संक्रमण के लिए जांच की गयी है।

Next
Highlightsमुंबई क्षेत्र में सर्वाधिक 310 नये मामले सामने आए।पुणे क्षेत्र में 243 नये रोगियों का पता चला।राजधानी मुंबई में इस दौरान कोविड-19 के 190 नये मामले सामने आए।

मुंबईः देश में कोरोना की दूसरी लहर मई के पहले हफ्ते के बाद थम गई। महाराष्ट्र में कोविड-19 के 766 नये मामले सामने आने के साथ कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 66,31,297 हो गयी जबकि 19 और रोगियों की मौत होने से मृतकों की तादाद 1,40,766 तक पहुंच गई है।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि दिसंबर में राज्य में कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका है। हालांकि इस लहर की तीव्रता कम हो सकती है। लोगों को डरना नहीं चाहिए। लेकिन सावधान रहें। कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आने लगी। जैसे ही कोरोना का प्रकोप नियंत्रण में लाया गया, कई लोगों ने लापरवाही से व्यवहार करना शुरू कर दिया। इससे कोरोना का खतरा बढ़ गया है।

राज्य में कोरोना की तीसरी लहर दिसंबर में आ सकती है। हालांकि इसकी तीव्रता ज्यादा नहीं होगी। राज्य में टीकाकरण की गति अच्छी है। इसलिए, तीसरी लहर की तीव्रता अधिक नहीं होगी। कोरोना की पहली लहर सितंबर 2020 में और दूसरी अप्रैल 2021 में आई थी। राज्य में 80 फीसदी से ज्यादा लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।

टीकाकरण ने कोरोना को फैलने से रोकने में अहम भूमिका निभाई है। संक्रमण दर पहले की तुलना में कम है। मृत्यु दर शून्य के करीब है। लेकिन दिसंबर में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। हालांकि टीकाकरण की रफ्तार अच्छी होने के कारण मामले ज्यादा नहीं होंगे। टोपे ने कहा कि इस दौरान आईसीयू और ऑक्सीजन की जरूरत भी कम होगी।

राज्य में मृत्यु दर 2.12 प्रतिशत है। यह दर देश में सबसे ज्यादा है। टोपे ने कहा कि इस समय राज्य में 9,678 कोरोना मरीजों का इलाज चल रहा है. राज्य में टीकों की कोई कमी नहीं है। हमारे पास टीकों की पर्याप्त खुराक उपलब्ध है। वर्तमान में, 1.77 करोड़ खुराक शेष हैं, जिसमें कोविशील्ड की 1.13 करोड़ खुराक और कोवैक्सिन की 64 लाख खुराक शामिल हैं।

Web Title: CoronaVirus in Maharashtra Threat third wave in December Don't panic but be careful says Rajesh Tope

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे