aaj ka taja samachar West Bengal assembly elections BJP's eye Amit Shah JP Nadda visit every month | पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावः बिहार के बाद मिशन बंगाल पर भाजपा, अमित शाह और जेपी नड्डा हर महीने दौरा करेंगे
राजग के बिहार में सत्तासीन होने के बाद भाजपा ने स्पष्ट कर दिया है कि मिशन बंगाल उसके लक्ष्यों में शीर्ष पर है। (file photo)

Highlightsअगले साल अप्रैल-मई में 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए चुनाव होने वाले हैं। भाजपा नेता चुनाव से पहले पार्टी संगठन का जायजा लेने के लिए हर महीने पश्चिम बंगाल की अलग अलग यात्रा करेंगे।पार्टी सूत्रों ने बताया कि ऐसी संभावना है कि शाह दो दिन के लिए और नड्डा तीन दिनों के लिए पश्चिम बंगाल आयेंगे।

कोलकाताः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) बिहार में जीत हासिल करने के बाद अब पश्चिम बंगाल पर नजरें गड़ायी हुई है और इसी सिलसिले में प्रदेश भाजपा ने बुधवार को कहा कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा विधानसभा चुनाव तक हर महीने राज्य में आयेंगे।

अगले साल अप्रैल-मई में 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए चुनाव होने वाले हैं। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने बताया कि ये दोनों वरिष्ठ भाजपा नेता चुनाव से पहले पार्टी संगठन का जायजा लेने के लिए हर महीने पश्चिम बंगाल की अलग अलग यात्रा करेंगे। घोष ने कहा, ‘‘ अमित शाह और जे पी नड्डा विधानसभा चुनाव के पूरा हो जाने तक हर महीने राज्य की अलग अलग यात्रा करेंगे। तारीखें अभी तय नहीं की गयी हैं । उनकी नियमित यात्राओं से पार्टी कायकर्ताओं में ऊर्जा का संचार होगा। ’’

पार्टी सूत्रों ने बताया कि ऐसी संभावना है कि शाह दो दिन के लिए और नड्डा तीन दिनों के लिए पश्चिम बंगाल आयेंगे। शानदार प्रदर्शन के बाद राजग के बिहार में सत्तासीन होने के बाद भाजपा ने स्पष्ट कर दिया है कि मिशन बंगाल उसके लक्ष्यों में शीर्ष पर है। बिहार में चुनाव प्रचार नहीं कर पाये शाह ने बंगाल चुनाव में भाजपा की तैयारी का जायजा लेने के लिए पांच नवंबर को दो दिन के लिए राज्य की यात्रा की थी। वैसे भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा भी शाह के साथ बंगाल जाने वाले थे लेकिन एक रात पहले ही उनकी यात्रा रद्द हो गयी।

भाजपा कार्यकर्ता मदन गोराई के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की

अपनी यात्रा के दौरान शाह ने भाजपा कार्यकर्ता मदन गोराई के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की । पिछले महीने पूरबा मेदिनीपुर के पताशपुर में न्यायिक हिरासत में गोराई की कथित रूप से हत्या कर दी गयी थी। शाह ने कथित अल्पसंख्यक तुष्टिकरण और बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा। पूर्व भाजपा अध्यक्ष ने राज्य में राजनीतिक हत्याओं पर श्वेतपत्र की भी मांग की। कांग्रेस-माकपा गठबंधन पर प्रहार करते हुए घोष ने कहा कि दोनों ही दलों को बहुत पहले ही राज्य के लोग खारिज कर चुके हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ पश्चिम बंगाल के लोगों ने कांग्रेस, माकपा और तृणमूल कांग्रेस को मौका दिया है। तीनों ही दल जनसमूह की आकांक्षाओं पर खरे नहीं उतरे, अब उन आकांक्षाओं को भाजपा ही पूरा करेगी। पार्टी सूत्रों के अनुसार चुनाव पर नजर टिकायी हुई भाजपा ने राज्य को पांच संगठनात्मक क्षेत्रों को बांट दिया और केंद्रीय नेताओं को उनका प्रभारी बना दिया।

भाजपा के वरिष्ठ नेताओं — सुनील देवधर, विनोद तावड़े, दुष्यंत गौतम, हरीश द्विवेदी एवं विनोद सोनकर — को पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने उत्तर बंगाल, रढ़ बंगा(दक्षिण पश्चिम जिलों), नबाद्वीप, मिदनापुर, एवं कोलकाता संगठनात्मक क्षेत्रों का प्रभारी नियुक्त किया है ।

कोलकाता क्षेत्र के प्रभारी भाजपा महासचिव गौतम ने यहां पहुंचने के बाद विश्वास प्रकट किया कि भगवा पार्टी विधानसभा चुनाव के बाद सत्ता में आएगी। पश्चिम बंगाल में सीमित उपस्थिति के बावजूद पिछले साल लोक सभा चुनाव में 42 में से 18 सीट जीत कर भाजपा, सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के मुख्य प्रतिद्वंद्वी के रूप में उभरी थी ।

राज्य में पिछले कुछ सालों से भाजपा की ताकत बढ़ने के बीच पार्टी नेताओं ने विश्वास प्रकट किया कि भाजपा 2021 विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के दस साल के कार्यकाल पर पूर्ण विराम लगाने में कामयाब होगी। 

Web Title: aaj ka taja samachar West Bengal assembly elections BJP's eye Amit Shah JP Nadda visit every month

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे