Vitamin C deficiency symptoms: मसूड़ों में खून, जल्दी बीमार होना, थकान और कमजोरी ये हैं विटामिन सी की कमी के 8 लक्षण

By उस्मान | Published: October 26, 2021 09:01 AM2021-10-26T09:01:54+5:302021-10-26T09:03:17+5:30

इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाकर शरीर को बीमारियों से दूर रखने के लिए विटामिन की जरूरत होती है।

vitamin c deficiency symptoms in Hindi: 8 harmful side effects of vitamin c deficiency in Hindi | Vitamin C deficiency symptoms: मसूड़ों में खून, जल्दी बीमार होना, थकान और कमजोरी ये हैं विटामिन सी की कमी के 8 लक्षण

विटामिन सी की कमी के लक्षण

Next
Highlightsइम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाकर शरीर को बीमारियों से दूर रखने के लिए विटामिन की जरूरतविटामिन सी के किसी भी लक्षण को नजरअंदाज न करेंसर्दियों में विटामिन सी की कमी न होने दें, खट्टे फलों का करें सेवन

इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाकर शरीर को बीमारियों से दूर रखने के लिए विटामिन की जरूरत होती है। विटामिन सी की कमी से स्कर्वी रोग हो सकता है। इमसें मरीजों में कमजोरी, थकावट, दांतों का ढीला होना, कमजोर नाखून, जोड़ों में दर्द और बाल झड़ने जैसी समस्याएं होने लगती हैं। विटामिन सी की कमी पूरी करने के लिए आपको विटामिन से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

विटामिन सी क्यों जरूरी है?

विटामिन सी इम्यून सिस्टम के लिए भी जरूरी है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर में श्वेत रक्त कणिकाओं को असरदार बनाने का काम करता है। नतीजा, हमारे शरीर की रोगों से लड़ने क्षमता यानी इम्युनिटी बढ़ती है।

नेशनल हेल्थ सोसाइटी के अनुसार, धूम्रपान करने वालों को विटामिन सी की कमी का अधिक खतरा हो सकता है, क्योंकि धूम्रपान आपके शरीर को भोजन से मिलने वाले विटामिन सी की मात्रा को कम कर देता है।

एनएचएस के अनुसार, शिशुओं, बच्चों और वृद्ध लोगों को स्वस्थ आहार लेने में मुश्किल होती है, उन्हें भी स्कर्वी का खतरा अधिक हो सकता है। अगर आप  गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो इस समय आपके शरीर को अधिक विटामिन सी की आवश्यकता होती है।

विटामिन सी कमी के लक्षण

विटामिन सी की कमी से स्कर्वी रोग हो सकता है और इसके लक्षणों पर ध्यान देना चाहिए। इसके लक्षण आपकी त्वचा और आपके मुंह के आसपास दिखाई देंगे। एनएचएस का कहना है कि सूजन, मसूड़ों से खून आना विटामिन सी की कमी का संकेत हो सकता है, और चेतावनी देता है कि कभी-कभी दांत गिर सकते हैं।

यदि आपकी त्वचा पर लाल या नीले धब्बे दिखाई देते हैं, जोकि आमतौर पर आपकी पिंडलियों पर दिख सकते हैं, या त्वचा पर आसानी से चोट लग जाती है, तो ये स्कर्वी के लक्षण हो सकते हैं।

इसके अलावा अगर आपको स्कर्वी का खतरा है और आप हर समय बहुत थका हुआ और कमजोर महसूस करते हैं या आप हर समय चिड़चिड़े और उदास महसूस करते हैं। यदि आपको जोड़ों या पैरों में गंभीर दर्द है, तो सलाह के लिए अपने चिकित्सक से मिलें।

रोजाना कितने विटामिन सी की जरूरत होती है

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन की खाना बहुत जरूरी है. स्वस्थ रहने के लिए महिलाओं को रोज 75 मिलीग्राम और पुरुषों को 90 मिलीग्राम विटामिन सी लेना चाहिए। शरीर ना तो खुद विटामिन सी बना पाता है और ना ही स्टोर कर पाता है। ऐसे में आपको अपनी डाइट में हर दिन विटामिन सी से भरपूर तत्व जरूर शामिल करने चाहिए।

विटामिन सी कमी कैसे पूरी करें

अपने आहार में कुछ विटामिन सी जैसे ताजे फल और सब्जियां शामिल करके या विटामिन सी की खुराक लेने से स्कर्वी का आसानी से इलाज किया जा सकता है। फल, विशेष रूप से खट्टे फल, फलों के रस और कई सब्जियां विटामिन सी के उत्कृष्ट स्रोत हैं। कुछ नाश्ते के अनाज विटामिन सी से भरपूर होते हैं।

विटामिन सी वाले खाद्य पदार्थ

संतरे, स्ट्रॉबेरी, ब्लैककरंट, लाल मिर्च, ब्रोकोली और ब्रसेल्स स्प्राउट्स विटामिन सी के अच्छे खाद्य स्रोत होते हैं। लंबे समय तक विटामिन सी की कमी से स्कर्वी रोग हो सकता है। अगर डॉक्टर द्वारा तुरंत निदान किया जाए तो विटामिन सी की कमी का आसानी से इलाज किया जा सकता है।

Web Title: vitamin c deficiency symptoms in Hindi: 8 harmful side effects of vitamin c deficiency in Hindi

स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे