छत्तीसगढ़ की 12वी परीक्षा का परिणाम जारी, शिक्षा मंत्री बोले-हमने कम से कम परीक्षा तो आयोजित की, सीबीएसई ने सभी को बिना परीक्षा के पास कर दिया

By वैशाली कुमारी | Published: July 25, 2021 08:51 PM2021-07-25T20:51:16+5:302021-07-25T20:51:16+5:30

छत्तीसगढ़ के शिक्षा मंत्री प्रेसाई सिंह टेकम ने हाल ही में कहा था कि सीबीएसई के विपरीत इस साल हमने कम से कम बोर्ड ने परीक्षाएं कराईं। उन्होंने कहा कि सीबीएसई सभी को बिना परीक्षा दिए ही पास कर रहा है।

Education Minister of Chhattisgarh said on 12th exam result: We conducted at least the exam, CBSE passed all without giving exam | छत्तीसगढ़ की 12वी परीक्षा का परिणाम जारी, शिक्षा मंत्री बोले-हमने कम से कम परीक्षा तो आयोजित की, सीबीएसई ने सभी को बिना परीक्षा के पास कर दिया

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने अपने कक्षा 12 के परिणाम 25 जुलाई, 2021 को जारी किए।

Next
Highlightsछत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 12 के परिणाम 25 जुलाई, 2021 को जारी किए हैं। प्रेमसाय सिंह टेकाम ने हाल ही में कहा कि सीबीएसई के विपरीत इस साल छत्तीसगढ़ बोर्ड ने परीक्षाएं कराईं। टेकाम ने कहा कि पास प्रतिशत में बढ़ोतरी का स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

छत्तीसगढ़ के शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने हाल ही में कहा कि सीबीएसई के विपरीत इस साल छत्तीसगढ़ बोर्ड ने परीक्षाएं कराईं। उन्होंने कहा कि इतने मुश्किल वक्त में हमने परीक्षाएं कराई हैं। सीबीएसई सभी को बिना परीक्षा दिए ही पास कर रहा है। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कक्षा 12 के परिणाम 25 जुलाई, 2021 को जारी किए हैं। जिन छात्रों ने अभी तक अपना परिणाम चेक नहीं किया है,  वे cgbse.nic.in पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

इस वर्ष 97 प्रतिशत से अधिक छात्र हुए सफल 

12वीं के नतीजे पर छत्तीसगढ़ के शिक्षा मंत्री ने यह बयान उस वक्त दिया जब उनसे कॉलेज दाखिले में इस साल छात्रों के बढ़े हुए परीक्षा परिणाम के बारे में पूछा गया। कोविड-19 महामारी के बीच पिछले पांच वर्षों के दौरान छत्तीसगढ़ बोर्ड परिणाम के उत्तीर्ण प्रतिशत में वृद्धि देखी गई है। बोर्ड का रिजल्ट 97.43 फीसदी रहा। पिछले साल पास होने वाले स्टूडेट्स की संख्या 78.59 फीसद थी। 

विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रमों पर नहीं पड़ेगा कोई प्रभाव 

शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने यह भी कहा कि पास प्रतिशत में बढ़ोतरी का स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि छात्रों के लिए पर्याप्त सीटें हैं और प्रवेश के संबंध में कोई समस्या नहीं होगी। 

कोविड महामारी के कारण इस वर्ष रद्द हुयीं थीं परीक्षाएं 

सीबीएसई ने एक जून को कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया था। यह निर्णय छात्रों की सुरक्षा और कोविड महामारी को ध्यान में रखते हुए लिया गया था। एक विस्तृत कैबिनेट बैठक के बाद घोषणा की गई थी कि सीबीएसई बोर्ड के लिए परीक्षाएं नहीं होंगी।

बढ़ायी जायेंगी 20 प्रतिशत सीटें 

अधिकांश बोर्ड्स ने महामारी के कारण परीक्षाओं को रद्द कर दिया था। इस साल कक्षा दस की परीक्षाओं के लिए छात्रों के उत्तीर्ण प्रतिशत में वृद्धि के साथ ओडिशा सरकार ने उच्च माध्यमिक विद्यालयों में 20 प्रतिशत सीटें बढ़ाने का फैसला किया है। जो छात्र छत्तीसगढ़ बोर्ड परीक्षा पास नहीं कर पाए उन्हें आगामी परीक्षाओं में फिर से बैठने की अनुमति दी जाएगी। 

Web Title: Education Minister of Chhattisgarh said on 12th exam result: We conducted at least the exam, CBSE passed all without giving exam

पाठशाला से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे