Trump facing second impeachment was isolated | दूसरे महाभियोग का सामना कर रहे ट्रंप अलग-थलग पड़े
दूसरे महाभियोग का सामना कर रहे ट्रंप अलग-थलग पड़े

वाशिंगटन, 14 जनवरी (एपी) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने खिलाफ दूसरे महाभियोग की कार्यवाही का सामना अकेले और खामोशी के साथ कर रहे हैं। हालांकि, चार साल से भी अधिक समय के दौरान वह राष्ट्रीय विमर्श में इस कदर छाये रहे, जो उनके किसी पूर्वाधिकारी के कार्यकाल के दौरान नहीं देखने को मिला।

राष्ट्रपति के तौर पर ट्रंप के कार्यकाल के दौरान अमेरिका में विभाजन बढ़ गया, सदी की सबसे भयावह महामारी से निपटने में वह नाकाम रहे और चुनाव में मिली शिकस्त को स्वीकार करने से उन्होंने इनकार कर दिया।

लगभग खाली पड़े व्हाइट हाउस के नजदीक ट्रंप सबकी नजरों से दूर एक स्थान पर मौजूद रहे, जब कड़ी सुरक्षा से लैस यूएस कैपिटल (अमेरिकी संसद भवन) में उनके खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही चल रही है। अमेरिकी संसद भवन पर पिछले हफ्ते ट्रंप के समर्थकों द्वारा की गई हिंसा को उकसावा देने का उन पर आरोप है। इस घटना के दौरान संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया गया था।

अपनी ही पार्टी के कुछ लोगों द्वारा अकेला छोड़ दिये गये ट्रंप इस वक्त टीवी पर इतिहास का एक और अध्याय देखने के सिवा कुछ नहीं कर सकते हैं। उनके ट्विटर अकाउंट को निलंबित कर दिया गया है और इस तरह रिपब्लिकन से संपर्क साधने के अपने सबसे कारगर माध्यम से भी वह कट से गये हैं। इससे यह भी संकेत मिलता है कि पहली बार उनकी पार्टी पर उनकी पकड़ कमजोर पड़ती दिख रही है।

हिंसा की घटना के बाद ट्रंप ने कहा, ‘‘मैं बहुत स्पष्ट रूप से कहना चाहता हूं: मैं पिछले हफ्ते हुई हिंसा की निंदा करता हूं। उनका कोई भी सच्चा समर्थक कभी भी राजनीतिक हिंसा का सहारा नहीं ले सकता।’’

हालांकि, ट्रंप ने एक वीडियो में अपने खिलाफ महाभियोग पर एक शब्द भी नहीं बोला। हालांकि, उन्होंने सोशल मीडिया पर लगाये गये प्रतिबंध को लेकर शिकायत की।

महाभियोग प्रस्ताव पर व्हाइट हाउस में चर्चा के दौरान कुछ रिपब्लिकन सांसदों ने ट्रंप का बचाव किया और अंत में 10 रिपब्लिकन ने महाभियोग के पक्ष में मतदान किया।

यह ट्रंप के खिलाफ प्रथम महाभियोग से कुछ अलग था। उनके खिलाफ दिसंबर 2019 में हाउस में प्रथम महाभियोग की कार्यवाही की गई थी। वह देश के ऐसे तीसरे राष्ट्रपति हैं जिन्हें महाभियोग की कार्यवाही का सामना करना पड़ा है। हालांकि, 2020 में सीनेट ने ट्रंप को बरी कर दिया था। लेकिन इस बार उनकी ही पार्टी के कुछ सदस्यों ने उन पर महाभियोग चलाने लायक अपराध करने का आरोप लगाया है और ट्रंप अलग-थलग पड़ गये हैं।

प्रतिनिधि सभा की रिपब्लिकन सदस्य लिज चेनेय ने कहा कि किसी राष्ट्रपति द्वारा इससे बड़ा विश्वासघात नहीं हो सकता।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Trump facing second impeachment was isolated

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे