France reports first citizen to die from coronavirus | फ्रांस में कोरोना वायरस से पहली मौत, कई देशों में कोहराम, चीन में हालात खराब
चीन के बाद यूरोप के कई देश इसके चपेट में आ गए हैं।

Highlightsबुजीन ने कहा यह मरीज जनवरी के अंतिम सप्ताह से पेरिस के अस्पातल में भर्ती था।बीते साल के अंत में चीन में फैलना शुरू हुए कोरोना वायरस की चपेट में अबतक 80 हजार लोग आ चुके हैं।

कोरोना वायरस का कहर पूरे विश्व में फैल गया है। चीन के बाद यूरोप के कई देश इसके चपेट में आ गए हैं। इटली में 5 लोगों की मौत हो गई है। इस बीच खबर है कि फ्रांस में 60 साल के एक शख्स की मौत कोरोना वायरस से हुई है।

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि 60 साल के एक व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत हो गयी है। कोरोना वायरस से फ्रांसीसी नागरिक की यह पहली मौत है। स्वास्थ्य मंत्रालय के उप प्रमुख जेरोम सालमन ने बताया कि बुजुर्ग व्यक्ति को गंभीर अवस्था में मंगलवार की शाम पेरिस के अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मौत हो गयी। उन्होंने बताया कि इस मौत से वायरस के कारण देश में मरने वालों की संख्या बढ़ कर दो हो गयी है। इस वायरस से मरने वाला पहला व्यक्ति 80 साल का चीनी पर्यटक था जिसकी मौत मध्य फरवरी में हुई थी।

इससे पहले भी फ्रांस में कोरोना वायरस से पीड़ित 80 वर्षीय चीनी पर्यटक की मौत हो गई थी। कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति की एशिया से बाहर मौत का यह पहला मामला था। फ्रांस स्वास्थ्य मंत्री एग्नेस बुजीन ने यह जानकारी दी थी। बुजीन ने कहा यह मरीज जनवरी के अंतिम सप्ताह से पेरिस के अस्पातल में भर्ती था। 

बीते साल के अंत में चीन में फैलना शुरू हुए कोरोना वायरस की चपेट में अबतक 80 हजार लोग आ चुके हैं। इसके अलावा 2700 लोगों की मौत हो चुकी है। चीन की मुख्यभूमि के बाहर फिलिपींस, हांगकांग और जापान में कोरोना वायरस से संक्रमित तीन लोगों की हो चुकी है। यह सभी देश एशिया में आते हैं। ऐसे में यूरोपीय देश फ्रांस में एक व्यक्ति की मौत को एशिया से बाहर पहली मौत बताया जा रहा है। 

फ्रांस ने कहा कि देश में पांच ब्रिटिश नागरिकों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है जिनमें एक बच्चा भी शामिल है। ये सभी एक ही स्की ‘शैले’ में ठहरे थे। देश की स्वास्थ्य मंत्री आग्नेस बुजयिन ने बताया कि फ्रांस में कोरोना वायरस के कुल 11 मामलों का पता चला है और अब निगाहें सिंगापुर से ब्रिटेन पहुंचे लोगों पर टिकी हैं जो फ्रांसीसी आल्प्स की पहाड़ियों में मोंट ब्लांक के पास कोंटामाइंस-मोंटजोई में ठहरे हैं।

बुजयिन खुद एक डॉक्टर हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इन लोगों में विषाणु के गंभीर संकेत नहीं दिखे हैं।’’ मंत्री ने कहा कि पांच ब्रिटिश नागरिकों में विषाणु की पुष्टि के अलावा छह अन्य ब्रिटिश नागरिकों को भी निगरानी के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ये सभी गत जनवरी में उसी शैले में ठहरे थे। 

रूस ने बुधवार को इटली, दक्षिण कोरिया और ईरान जाने को लेकर चेतावनी जारी की है ताकि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके। इन तीन देशों में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों की संख्या को देखते हुए उपभोक्ता सुरक्षा नियामक रोसपोट्रेब्नादजोर ने रूस के नागरिकों से कहा है कि जबतक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती है वे यात्रा से बचें।

दक्षिण कोरिया में 1100 से अधिक लोगों में इस वायरस की पुष्टि हो चुकी है और 11 लोग इससे मारे जा चुके हैं। चीन के बाद दक्षिण कोरिया इस वायरस से सर्वाधिक प्रभावित है । ईरान में करीब 100 लोगों में इसकी पुष्टि हो चुकी है जिसमें से 15 लोगों की मौत हो गयी है । इटली में कोरोना वायरस से संक्रमित 300 से अधिक लोग हैं जबकि 11 की मौत हो चुकी है । चीन में अबतक इस वायरस से 2700 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 78 हजार इससे प्रभावित हैं । वायरस की पृष्ठभूमि में रूस ने चीन से आने वाले लोगों पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है।

Web Title: France reports first citizen to die from coronavirus
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे