SBI cuts lending rates by 5 Basis Points as RBI Governor calls | RBI गवर्नर के बयान के बाद SBI ने ब्याज दर में की कटौती, होम लोन में भी मिलेगा फायदा
मौद्रिक नीति समिति की अगली बैठक 5 से 9 अगस्त के बीच होगी.

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास द्वारा रेपो दर में कटौती का लाभ ग्राहकों तक तेजी से पहुंचने की उम्मीद व्यक्त किए जाने के एक दिन बाद देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने अपनी सभी अवधि के कर्ज पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर में 0.05 प्रतिशत कटौती की घोषणा कर दी.

बैंक की जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि नई दरें बुधवार से प्रभावी हो जाएंगी. बैंक ने कहा है कि एमसीएलआर में इस कटौती के परिणामस्वरूप 10 अप्रैल 2019 से आवास ऋण पर ब्याज की दर पर 0.20 प्रतिशत कमी आ जाएगी.

इसमें कहा गया है कि एक वर्ष की अवधि के कर्ज पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (एमसीएलआर) यानी कर्ज की न्यूनतम ब्याज दर को 0.05 प्रतिशत घटाकर 8.40 प्रतिशत कर दिया गया है. चालू वित्त वर्ष में बैंक ने यह तीसरी कटौती की है. इससे पहले वह अप्रैल एवं मई में ब्याज दर में 0.05-0.05 प्रतिशत की कमी कर चुका है.

उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने आम बजट पेश होने के बाद वित्त मंत्री के साथ होने वाले पारंपरिक बैठक के मौके पर सोमवार को कहा था कि रेपो दर में एक के बाद एक तीन बार में 0.75 प्रतिशत कटौती किए जाने के बाद उन्हें बैंकों द्वारा इसका लाभ ग्राहकों तक जल्द पहुंचाए जाने की उम्मीद है.

मौद्रिक नीति की जून में हुई समीक्षा के बाद रेपो दर में 0.25 प्रतिशत कटौती होने पर बैंक आफ महाराष्ट्र, कार्पोरेशन बैंक, ओरिएंटल बैंक और आईडीबीआई बैंक ने अपनी एमसीएलआर दर को 0.05 से 0.10 प्रतिशत तक कम किया है. मौद्रिक नीति समिति की अगली बैठक 5 से 9 अगस्त के बीच होगी.


Web Title: SBI cuts lending rates by 5 Basis Points as RBI Governor calls
पर्सनल फाइनेंस से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे