तेजस्वी यादव और मीसा भारती सहित छह लोगों के खिलाफ प्राथमिकी, लोकसभा चुनाव में टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ ठगी करने का आरोप

By एस पी सिन्हा | Published: September 22, 2021 09:16 PM2021-09-22T21:16:20+5:302021-09-22T21:18:00+5:30

कांग्रेस नेता ने मुकदमे में आरोप लगाया है कि राजद में उनसे लोकसभा चुनाव का टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये ठग लिए गए. टिकट भी नहीं दिया गया.

rjd Tejashwi Yadav and Misa Bharti FIR against six people including cheating five crores ticket in Lok Sabha elections | तेजस्वी यादव और मीसा भारती सहित छह लोगों के खिलाफ प्राथमिकी, लोकसभा चुनाव में टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ ठगी करने का आरोप

कोर्ट ने इन सभी पर परिवादी की रिपोर्ट पर प्राथमिकी करने के आदेश दिये. (file photo)

Next
Highlightsसदानंद सिंह के बेटे शुभानंद मुकेश तथा राजेश राठौर सहित कुल छह लोगों को आरोपित बनाया गया.तेजस्वी यादव और मदन मोहन झा को पांच करोड़ रुपये दिए थे.एसएसपी उपेंद्र शर्मा के माध्‍यम से कोतवाली थाना को प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया.

पटनाः बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव व उनकी बहन राज्यसभा सदस्य डा. मीसा भारती सहित छह लोगों पर पटना के कोतवाली थाना में ठगी का मुकदमा दर्ज किया गया है.

उनपर बीते लोकसभा चुनाव में पैसे लेकर टिकट नहीं देने का आरोप लगाया गया है. यह पूरा मामला लोकसभा चुनाव में रुपये देकर टिकट बांटने से जुड़ा हुआ है. इस मामले को लेकर परिवादी ने इन नेताओं पर प्राथमिकी दर्ज कारने के लिए याचिका दायर की थी. इसके बाद कोर्ट ने इन सभी पर परिवादी की रिपोर्ट पर प्राथमिकी करने के आदेश दिये.

प्राप्त जानकारी के अनुसार कांग्रेसी नेता संजीव कुमार सिंह के दायर परिवाद पत्र मामले में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, मीसा भारती सहित छह लोगों के खिलाफ कोर्ट ने पटना के कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया था. यह मामला लोकसभा चुनाव में टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये ठगी करने का है.

कांग्रेसी नेता ने इस मामले में तेजस्वी यादव पर जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप लगाया है. कांग्रेस नेता व अधिवक्‍ता संजीव कुमार सिंह ने पटना के मुख्‍य न्‍यायिक दंडाधिकारी की अदालत में 18 अगस्त को तेजस्वी यादव व मीसा भारती तथा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, सदानंद सिंह के बेटे शुभानंद मुकेश तथा राजेश राठौर सहित कुल छह लोगों को आरोपित बनाया गया.

संजीव कुमार सिंह ने उनपर बीते लोकसभा चुनाव में पैसे लेकर टिकट देने का आरोप लगाया है. अपने आवेदन में संजीव कुमार सिंह ने कहा है कि टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ की ठगी की गई है. कांग्रेस नेता ने मुकदमे में आरोप लगाया है कि राजद में उनसे लोकसभा चुनाव का टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये ठग लिए गए. टिकट भी नहीं दिया गया.

फिर, बाद में विधानसभा चुनाव का टिकट देने का गलत आश्वासन दिया गया. संजीव का आरोप है कि उन्‍होंने टिकट के लिए राजद कार्यालय में तेजस्वी यादव और मदन मोहन झा को पांच करोड़ रुपये दिए थे. बाद में टिकट नहीं मिलने पर रुपये वापस मांगने पर तेजस्वी यादव ने हत्‍या की धमकी दी थी.

संजीव कुमार सिंह के मुकदमे में सीजेएम कोर्ट ने 16 सितंबर को पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा के माध्‍यम से कोतवाली थाना को प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया. इसके बाद आज यह प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. वहीं, इस मामले में तेजस्वी यादव ने कहा कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो तो सब साफ हो जाएगा. आरोप लगाने वाले से यह भी पूछना जरूरी है कि उसके पास पांच करोड़ रुपये कहां से आए? कानून अपना काम करेगा.

Web Title: rjd Tejashwi Yadav and Misa Bharti FIR against six people including cheating five crores ticket in Lok Sabha elections

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे