Rafale in India: Rafale aircraft reached Ambala airbase, Air Chief Marshal Air Chief Marshal RKS Bhadauria welcomed | Rafale in India: अंबाला एयरबेस पर पहुंचे राफेल विमान, रक्षा मंत्री बोले- सेना के इतिहास में एक नए युग की शुरुआत
रक्षा मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा, 'बर्ड्स भारतीय वायुसीमा में पहुंच गई हैं भारतीय वायुसीमा में पहुंच गई हैं।

Highlights राफेल लड़ाकू विमानों की पहली खेप ने भारतीय वायुसीमा में प्रवेश कर लिया है। इन्हें रिसीव करने के लिए खुद वायुसेना अध्यक्ष एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया मौजूद रहे ।

नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना की ताकत को कई गुना बढ़ाने वाले राफेल लड़ाकू विमानों की पहली खेप ने भारतीय वायुसीमा में प्रवेश कर लिया है। विमान अंबाला एयरबेस पहुंच चुका है। यहां इन्हें रिसीव करने के लिए खुद वायुसेना अध्यक्ष एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया मौजूद हैं।

वहीं, रक्षा मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा, 'बर्ड्स भारतीय वायुसीमा में पहुंच गई हैं भारतीय वायुसीमा में पहुंच गई हैं। हैप्पी लैंडिंग इन अंबाला।'

बता दें कि राफेल विमान भारत द्वारा पिछले दो दशक से अधिक समय में लड़ाकू विमानों की पहली बड़ी खरीद है। इन विमानों के आने से भारतीय वायुसेना की युद्धक क्षमता में महत्वपूर्ण रूप से बढ़ोत्तरी होने की संभावना है। मालूम हो कि फ्रांस से अंबाला तक अपनी लंबी उड़ान के बीच ये पांचों विमान करीब सात घंटे से अधिक समय तक उड़ान भरने के बाद संयुक्त अरब अमीरात में अल दफरा एयरबेस पर उतरे थे। पहला राफेल जेट पिछले साल अक्टूबर में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की फ्रांस यात्रा के दौरान भारतीय वायुसेना को सौंपा गया था। राफेल जेट का पहला स्क्वाड्रन अंबाला एयरबेस पर जबकि दूसरा पश्चिम बंगाल के हासिमारा बेस पर रहेगा।

बता दें कि भारत ने 23 सितंबर 2016 को फ्रांसीसी एरोस्पेस कंपनी दसॉल्ट एविएशन से 36 राफेल लड़ाकू विमान खरीदने के लिए 59,000 करोड़ रुपये का सौदा किया था। छह राफेल प्रशिक्षु विमानों की पूंछ पर आरबी श्रृंखला की संख्या अंकित होगी। आरबी एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया के नाम के पहले और अंतिम शब्द का संक्षिप्त रूप होगा। उन्होंने इस सौदे में मुख्य वार्ताकार के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

'हैप्पी लैंडिंग, हैप्पी हंटिंग'

राफेल विमान जैसे ही पश्चिमी अरब सागर के ऊपर से निकले तो यहां तैनात भारतीय नौसेना के वॉरशिप आईएनएस कोलकाता ने इसका अलग अंदाज में स्वागत किया। आईएनएस कोलकाता डेल्टा 63 की ओर से कहा गया, 'ऐरो लीडर (राफेल) हिंद महासागर में आपका स्वागत है।' 

इस पर राफेल की ओर से भी जवाब दिया गया, 'बहुत शुक्रिया।' इसके बाद आईएनएस कोलकाता ने कहा- आप आकाश की उंचाईयों को नापे, हैप्पी लैंडिंग। इसके तत्काल बाद राफेल की ओर से भी जवाब दिया गया- हैप्पी हंटिंग ओवर एंड आउट।'

राफेल को लेकर दिग्विजय सिंह ने मोदी सरकार पर उठाए कई सवाल

 विपक्षी पार्टी कांग्रेस द्वारा लोकसभा चुनाव-2019 के वक्त राफेल डील का मुद्दा बड़े जोर-शोर के साथ उठाया गया था। इसी क्रम में बुधवार (29 जुलाई) को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला है। दिग्विजय सिंह ने आज सुबह कुछ ही घंटों में छह से ज्यादा ट्वीट राफेल को लेकर किया। दिग्विजय सिंह ने कहा, आज राफेल आ ही जाएगा...अब तो इसकी कीमत बता दीजिए मोदी जी। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, ''एक राफेल की कीमत कांग्रेस सरकार ने ₹746 करोड़ तय की थी लेकिन ''चौकीदार'' महोदय कई बार संसद में और संसद के बाहर भी मांग करने के बावजूद आज तक एक राफेल कितने में खरीदा है, बताने से बच रहे हैं। क्यों? क्योंकि चौकीदार जी की चोरी उजागर हो जायेगी!! 'चौकीदार'' जी अब तो उसकी कीमत बता दें!!''

English summary :
Ambala air base is considered an important base of the Indian Air Force as the Indo-Pakistan border is just 220 km from here. Of the 36 Rafale aircraft that India has purchased, 30 are fighter aircraft and six are trainee aircraft.


Web Title: Rafale in India: Rafale aircraft reached Ambala airbase, Air Chief Marshal Air Chief Marshal RKS Bhadauria welcomed
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे