Pragya Thakur candidature is satyagrah against fake case of Bhagwa terror: Amit Shah | प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवारी भगवा आतंकवाद के फर्जी मामले के खिलाफ सत्याग्रह है: अमित शाह
बीजेपी की प्रेस कांफ्रेंस में पीएम नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह। (फोटो- एएनआई)

Highlightsलोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार थमने से पहले प्रेस कांफ्रेंस में अमित शाह ने कहा कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवार भगवा आतंकवाद के फर्जी मामले के खिलाफ सत्याग्रह है।। अमित शाह के साथ प्रेस कांफ्रेंस में पीएम नरेंद्र मोदी भी नजर आए। पीएम ने पत्रकारों के सवालों के जवाब खुद नहीं दिए।

Lok Sabha Elections 2019: लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान लिए शुक्रवार (17 मई) की शाम प्रचार अभियान थम गया। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की प्रेस कांफ्रेंस में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मौजूद रहकर सबको चौंकाया। दरअसल, बीते पांच साल में बतौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यह पहली प्रेस कांफ्रेंस थी। पत्रकारों ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के नाथूराम गोडसे वाले विवादित बयान पर भी सवाल किया।

दरअसल, भोपाल से बीजेपी की लोकसभा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गुरुवार (16 मई) को समाचार एजेंसी एएनआई को दिए एक बयान में महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था। जिस पर बीजेपी नेतृत्व ने किनारा कर लिया था और प्रज्ञा पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने बात कही थी।


प्रेस कांफ्रेंस में भी अमित शाह ने प्रज्ञा के विवादित बयान पर आधारित सवाल पर वही बात दोहराई जो वह पहले ही कह चुके थे। शाह ने कहा कि उनकी पार्टी की अनुशासन समिति इस मामले को देख रही है और बीजेपी प्रज्ञा के बयान से असहमत है। 

प्रज्ञा सिंह की उम्मीदवारी को लेकर किए गए सवाल पर अमित शाह ने कहा, ''प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवारी भगवा आतंकवाद के फर्जी मामले के खिलाफ एक सत्याग्रह है। मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं, कुछ लोग पहले समझौता एक्सप्रेस मामले में गिरफ्तार किए गए थे जोकि लश्कर-ए-तैयबा से संबंधित थे। भगवा आतंकवाद का एक फर्जी मामला बनाया गया था जिसमें आरोपियों को बरी कर दिया गया था।''
 


Web Title: Pragya Thakur candidature is satyagrah against fake case of Bhagwa terror: Amit Shah