PM Narendra Modi First Press Conference along with BJP Chief Amit Shah | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली 'प्रेस कांफ्रेंस': अमित शाह ने दिए पत्रकारों के सवालों के जवाब, पीएम बने रहे मूकसाक्षी
बीजेपी की प्रेस कांफ्रेंस में पीएम नरेंद्र मोदी।

Highlightsभारतीय जनता पार्टी की प्रेस कांफ्रेंस में बतौर प्रधानमंत्री पहली बार नजर आए नरेंद्र मोदीबीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दिए सभी सवालों के जवाब, पीएम मूकसाक्षी बने रहे

लोकसभा चुनाव के लिए आखिरी चरण के मतदान से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की प्रेस कांफ्रेंस में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी नजर आए। उन्होंने पत्रकारों को संबोधित भी किया लेकिन किसी भी सवाल के जवाब खुद नहीं दिया। बतौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यह पहली प्रेस कांफ्रेंस थी। पत्रकारों के सभी सवालों के जवाब पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने दिए। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में एक बार फिर से पूर्ण बहुमत के साथ बीजेपी की सरकार बनेगी। ये चुनाव सकारात्मक और शानदार रहा है। इस बार हम प्रचार नहीं कर रहे थे बल्कि लोगों का धन्यवाद कर रहे थे।

पांच साल में पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पहले उनका यही काम रहता था। प्रेस कॉन्फ्रेंस में आकर उन्हें अच्छा लगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ''जब देश की सरकार सक्षम हो तो आईपीएल भी होते हैं और चुनाव भी चलता है। हमने विश्व को प्रभावित किया है।

मैं मानता हूं कि कुछ बातें हम गर्व के साथ दुनिया से कह सकते हैं। ये दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, ये लोकत्रंत की ताकत दुनिया के सामने ले जाना हम सबका दायित्व है। हमें विश्व को प्रभावित करना चाहिए कि हमारा लोकतंत्र कितनी विविधताओं से भरा है।

जब मैं चुनाव के लिए निकला और मन बनाकर निकला था और अपने को उसी धार पर रखा।

मैंने देशवासियों को कहा था कि 5 साल मुझे देश ने जो आशीर्वाद दिया उसके लिए मैं धन्यवाद देने आया हूं।

अनेक उतार चढ़ाव आए, लेकिन देश साथ रहा। मेरे लिए चुनाव जनता को धन्यवाद ज्ञापन था।

16 मई को पिछली बार रिजल्ट आया था और 17 मई को एक दुर्घटना हुई थी, 17 मई को सट्टाखोरों को मोदी की हाजिरी का बड़ा नुकसान हुआ था। 

सट्टा लगाने वाले तब सब डूब गये थे, यानी ईमानदारी की शुरुआत 17 मई को हो गई थी।

नई सरकार बनना जनता ने तय कर लिया है। हमने संकल्प पत्र में देश को आगे ले जाने के लिए कई बातें कही हैं। 

जितना जल्दी होगा, उतना जल्दी नई सरकार अपना कार्यभार लेगी। एक के बाद एक करके निर्णय हम लेंगे।''

प्रेस कांफ्रेंस में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, ''देश में दोबारा मोदी सरकार बनने जा रही है। 

इस चुनाव में जनता हमसे आगे रही है...विश्वास है मोदी सरकार फ‍िर बनने जा रही है।" अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले 5 साल में देश की अर्थव्यवस्था को आगे रखा। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा चलायी गयी 133 योजनाओं गेमचेंजर रहीं हैं। 

मोदी सरकार द्वारा किए गए काम नीचे तक पहुंचा है। अमित शाह ने प्रेस वार्ता में पीएम मोदी पर भी टिप्पणी की। प्रेस कॉन्फ्रेंस में नरेंद्र मोदी का मौजूद रहना आनंद की बात है।

मोदी सरकार की योजनाएं जमीन पर दिख रही है। हर 15 दिन में एक योजना शुरू की गई 133 योजनाओं के माध्यम से जनता तक भाजपा पहुंची और देश विकास के पथ पर बड़ा।

बूथ और शक्ति केन्द्रों को मजबूत कर भाजपा जन-जन तक पहुंच रही है। 50 करोड़ गरीबों तक भाजपा पहुंचने में कामयाब रही है। पूरी दुनिया में भारत का मान मोदी सरकार ने बढ़ाया है। कृषि, स्वास्थ्य, सुरक्षा, महिला, दलित सबको ध्यान  में रखकर मोदी सरकार ने विकास किया।  इस चुनाव में महंगाई और भष्टाचार मुद्दा नहीं रहा। विरोधियों के पास बोलने के लिए इस चुनाव में कुछ है ही नहीं।"

शाह ने कहा, ''बंगाल में भाजपा के 80 कार्यकर्ता मारे गए हैं। हम तो पूरे देश में चुनाव लड़ रहे हैं, कहीं और हिंसा क्यों नहीं होती है। हमारे कारण हिंसा होती तो देश के हर हिस्से में होती। मीडिया को ममता जी से पूछना चाहिए कि वहीं ऐसा क्यों होता है?

बहुमत के लिए फिर से एक बात कह दूं। हम 300 से ज्यादा सीटें जीतेंगे। प्रीपोल एलायंस होगा। मोदी जी प्रधानमंत्री होंगे। सबके लिए दरवाजे खुले हैं।

प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवारी फर्जी आरोपों के खिलाफ हमारा सत्याग्रह है।

फर्जी केस भगवा टेरर बनाया, सब बरी हो चुके हैं। 

भारतीय जनता पार्टी के सभी नेताओं के भाषण सुनिए और उन्होंने कितने मिनट विकास की बात की यह निकालिए।

राहुल गांधी के पास कुछ जानकारी थी तो उन्हें सुप्रीम कोर्ट के सामने रखना चाहिए था। 

राफेल डील के अंदर डिंफेंस प्रॉक्युरमेंट डील के बीच कुछ भी भ्रष्टाचार नहीं हुआ है।

हर चीज का जवाब प्रधानमंत्री को देना जरूरी नहीं है, क्योंकि उन सवालों की बुनियाद ही नहीं है।''

राहुल गांधी की समानांतर प्रेस वार्ता

शुक्रवार (17 मई) को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी लगभग उसी समय प्रेस वार्ता की जब बीजेपी की पत्रकार वार्ता जारी थी।

कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि बीजेपी की प्रेस वार्ता में चुनिंदा पत्रकारो को प्रवेश मिला है, बाकियों को रोकने के लिए अंदर से दरवाजा बंद कर दिया गया है। 

राहुल गांधी ने कहा कि वो प्रेस वार्ता के माध्यम से पीएम नरेंद्र मोदी से सवाल पूछना चाहते हैं। 

राहुल गांधी ने कहा कि "मैं पूछना चाहता हूँ कि पीएम मोदी मुझसे राफेल मुद्दे पर डिबेट क्यों नहीं कर रहे है।" राहुल ने कहा कि वो प्रधानमंत्री के आवास पर जाने के लिए तैयार हैं। 

राहुल गांधी ने कहा कि वो पीएम मोदी से पूछना चाहते हैं कि उन्होंने कारोबारी अनिल अंबानी को वायुसेना का तीस हजार करोड़ रुपये क्यों दिए?

बता दें कि देश की 17वीं लोकसभा के लिए सात चरणों में चुनाव हो रहे हैं। पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को हुआ था और 19 मई को सातवें और आखिरी चरण का मतदान होगा। सातवें चरण में यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल, पंजाब और हिमाचल प्रदेश की चुनिंदा सीटों के लिए मतदान हो रहा है। सातवें चरण में प्रधानमंत्री की संसदीय सीट वाराणसी पर भी मतदान होगा।


Web Title: PM Narendra Modi First Press Conference along with BJP Chief Amit Shah