प्रशांत किशोर से नीतीश कुमार की मीटिंग! मुलाकात हुई...क्या बात हुई, पत्रकारों ने पूछा सवाल तो ये बोल गए बिहार के सीएम

By एस पी सिन्हा | Published: September 14, 2022 09:00 PM2022-09-14T21:00:46+5:302022-09-14T21:09:02+5:30

नीतीश कुमार ने कहा कि प्रशांत किशोर से मुलाकात में कोई खास बातचीत नहीं हुई है। उन्होंने ये भी कहा कि जदयू में शामिल होने को लेकर कोई प्रस्ताव उनकी ओर से प्रशांत किशोर के सामने नहीं रखा गया है।

Nitish Kumar meeting with Prashant Kishor, first response came from Bihar CM | प्रशांत किशोर से नीतीश कुमार की मीटिंग! मुलाकात हुई...क्या बात हुई, पत्रकारों ने पूछा सवाल तो ये बोल गए बिहार के सीएम

प्रशांत किशोर से मुलाकात पर नीतीश कुमार ने दी प्रतिक्रिया (फाइल फोटो)

Next
Highlights प्रशांत किशोर से मुलाकात के सवाल पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की आई प्रतिक्रिया।नीतीश कुमार ने कहा कि प्रशांत किशोर से खुद पत्रकार पूछें कि क्या बातचीत हुई है।नीतीश ने साथ ही कहा कि अपनी ओर से उन्होंने प्रशांत किशोर को फिर जदयू में आने जैसी कोई बात नहीं रखी है।

पटना: प्रशांत किशोर से मुलाकात के सवाल पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कोई खास बातचीत नहीं हुई है। साथ आने के बात पर उन्होंने कहा कि उनसे ही पूछ लीजिए क्या बात हुई है? नीतीश ने कहा कि दरअसल पवन वर्मा ने एक बार फोन किया था कि वे मुझसे मिलना चाहते थे। पवन वर्मा मिलने के लिए तो उनसे बात हुई। बाद में पवन वर्मा ही प्रशांत किशोर को लेकर मेरे घर आये। उन्होंने कहा था कि आप ठीक काम किए हैं तो मुलाकात हुई। वे तो हमारे पुराने परिचित हैं। समान्य बातचीत हुई है। 

नीतीश कुमार ने कहा, 'किसी आदमी से मिलने में मुझे क्या दिक्कत है? अगर कोई आदमी हमसे कहेगा कि हम मिलेंगे तो हम उससे काहे नहीं मिलेंगे।' मीडिया ने सवाल पूछा कि क्या प्रशांत किशोर आपके साथ फिर से आयेंगे क्या? नीतीश ने कहा- 'हम आप लोगों से कहेंगे कि उन्हीं से बात कर लीजिये कि वे क्या चाहते हैं? मैंने अपनी ओर से ऐसी कोई बात उनके सामने नहीं रखी है।'

बेगूसराय में गोलीबारी पर नीतीश कुमार ने कही ये बात

बिहार के बेगूसराय में मंगलवार को हुई गोलीबारी कांड पूरे देश में सुर्खियों में है। इस तरह की बिहार में पहली घटना है। हालांकि, गोलीबारी में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। वहीं, इस घटना पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने इशारों-इशारों में इसके लिए भाजपा को भी कटघरे में घेर लिया। उन्होंने कहा कि जिस तरह से चीजें हो रही है, इससे तो साफ है कि जान बूझकर किया जा रहा है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि ने इस तरह की घटना पहले कभी नहीं हुई है। उन्होंने कहा, 'अब एक- एक बिंदुओं पर जांच की जा रही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। अभी कुछ भी बोलना उचित नहीं है। लापरवाही बरतने पर 7 पुलिसकर्मियों को निलंबित भी कर दिया गया है। मामले में जानकारी मिलते ही कल ही घटना की पूरी जानकारी ली। अब अलर्ट होकर मामले की जांच की जा रही है।' 

उन्होंने कहा कि पहले से ही लोगों को अलर्ट किया गया है लेकिन जो चीजें हो रही है। उससे साफ स्पष्ट है कि अलर्ट होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमलोग अब और ज्यादा अलर्ट होकर काम करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस को निर्देश दे दिया गया है कि इस मामले में सभी एंगलों से जांच की जाए।

सुधाकर सिंह के बयान पर उठ रहे सवाल

इन सबके बीच मंत्री सुधाकर सिंह के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने एक बयान दिया था। उनसे पूछा था कि हुआ क्या है? कैबिनेट की बैठक में जब उन्होंने कृषि मंत्री से ये पूछा कि वे क्या बयान दे रहे हैं तो वे बिना जवाब दिये बैठक से निकल गये। हालांकि, नीतीश ने ये मानने से इंकार कर दिया है कि बिहार सरकार के कृषि विभाग में सारे चोर बैठे हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को मामले की जांच के लिए बोल भी दिया था। 

उन्होंने कहा कि मैं खूद उस विभाग को देखता रहता हूं। अभी ही सूखे और बाढ को लेकर कई बार सर्वे भी किया। सरकार इसमें किसनों को मदद भी कर रही है। वैसे सुधाकर सिंह के मामले पर नीतीश कुमार की बेबसी का आलम ये है कि वे कह रहे हैं कि इस मामले को उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव देखेंगे।

Web Title: Nitish Kumar meeting with Prashant Kishor, first response came from Bihar CM

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे