I respect the fact that BSP-SP decided to fight the elections together in UP. From the Congress party perspective, I have to push the Congress ideology in UP. | कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, भाजपा के साथ नहीं जाएंगे मायावती और अखिलेश
23 मई को जनता जो भी फैसला करेगी हम मानेंगे। उससे पहले कुछ नहीं कहेंगे।

Highlightsमुझे नहीं लगता कि मायावती, अखिलेश या (तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू) नायडू भाजपा के साथ नहीं जाएंगे।सोनिया गांधी जी और मनमोहन सिंह जी का बहुत अनुभव है। मैं नरेंद्र मोदी नहीं हूँ कि अनुभवी लोगों दरकिनार कर दूं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनाव बाद गठबंधन की संभावना की ओर संकेत देते हुए शुक्रवार को उम्मीद जताई कि मायावती और अखिलेश यादव भाजपा के साथ नहीं जाएंगे। गांधी ने यह भी कहा कि चुनाव बाद संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी के अनुभव का फायदा उठाया जाएगा।



 

उन्होंने संवादाताओं से कहा, ''मुझे नहीं लगता कि मायावती, अखिलेश या (तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू) नायडू भाजपा के साथ नहीं जाएंगे।'' उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ''सोनिया गांधी जी और मनमोहन सिंह जी का बहुत अनुभव है। मैं नरेंद्र मोदी नहीं हूँ कि अनुभवी लोगों दरकिनार कर दूं। हम सोनिया जी के अनुभव का फायदा उठाएंगे।'' प्रधानमंत्री पद के सवाल पर गांधी ने कहा, ‘‘मैंने बहुत स्पष्ट किया है। 23 मई को जनता जो भी फैसला करेगी हम मानेंगे। उससे पहले कुछ नहीं कहेंगे।’’ 


Web Title: I respect the fact that BSP-SP decided to fight the elections together in UP. From the Congress party perspective, I have to push the Congress ideology in UP.