मोदी कैबिनेट ने दी मंजूरी, लद्दाख में सेंट्रल यूनिवर्सिटी, जानें और बड़ी बातें

By सतीश कुमार सिंह | Published: July 22, 2021 03:44 PM2021-07-22T15:44:45+5:302021-07-22T16:14:00+5:30

मंत्रिमंडल ने विशेष विशेष प्रकार के इस्पात के लिये 6,322 करोड़ रुपये की पीएलआई (उत्पादन आधारित प्रोत्साहन) योजना को मंजूरी दी है।

Central University in the union territory of Ladakh Union Cabinet approves establishment | मोदी कैबिनेट ने दी मंजूरी, लद्दाख में सेंट्रल यूनिवर्सिटी, जानें और बड़ी बातें

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इसकी घोषणा की।

Next
Highlightsलद्दाख इंटीग्रेटेड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (LIIDCO) की स्थापना को मंजूरी दी गई है।केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में एक केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना को मंजूरी दी है। 

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में एक केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना को मंजूरी दी है। लद्दाख में लद्दाख इंटीग्रेटेड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (LIIDCO) की स्थापना को मंजूरी दी गई है।

केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना पर 750 करोड़ रुपये की लागत आयेगी। सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने यह जानकारी दी। बैठक के बाद सूचना प्रसारण मंत्री ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया।

उन्होंने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित होने से उच्च शिक्षा में क्षेत्रीय असंतुलन दूर करने में मदद मिलेगी और केंद्र शासित प्रदेश का सम्पूर्ण विकास सुनिश्चित किया जा सकेगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित होने से छात्रों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने का अधिक अवसर मिल सकेगा।

उन्होंने बताया कि इस विश्वविद्यालय का पहला चरण चार वर्षों में पूरा किया जायेगा। इसके अधिकार क्षेत्र में लेह, कारगिल क्षेत्र भी आयेंगे। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि मंत्रिमंडल ने विशेष विशेष प्रकार के इस्पात के लिये 6,322 करोड़ रुपये की पीएलआई (उत्पादन आधारित प्रोत्साहन) योजना को मंजूरी दी है।

Web Title: Central University in the union territory of Ladakh Union Cabinet approves establishment

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे