बिहार में अवैध बालू खनन, सस्पेंड SP राकेश दुबे के ठिकानों पर रेड, तीन करोड़ की संपत्ति का चला पता

By एस पी सिन्हा | Published: September 16, 2021 08:28 PM2021-09-16T20:28:12+5:302021-09-16T20:30:45+5:30

राकेश दुबे के बिहार-झारखंड के चार ठिकानों पर आज सुबह से आर्थिक अपराध इकाई ने छापेमारी की है. आर्थिक अपराध इकाई से मिली जानकारी के अनुसार केस नंबर 17/21 अंडर सेक्शन 13(2)आर डब्ल्यू 13(1)(बी) पीसी एक्ट 1988 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

bihar sand mafia bhojpur suspended ips rakesh dubey eou 3 crore connection patna jharkhand | बिहार में अवैध बालू खनन, सस्पेंड SP राकेश दुबे के ठिकानों पर रेड, तीन करोड़ की संपत्ति का चला पता

अवैध खनन मामले में राकेश दुबे समेत बिहार पुलिस के दो आईपीएस अधिकारियों पर माफिया के साथ सांठ-गांठ का आरोप लगा था.

Next
Highlightsझारखंड के सचिन रेजिडेंसी होटल जसीडीह और उनके गांव जसीडीह के सिमरिया में भी छापेमारी की गई है.कोर्ट ने निलंबित एसपी के ठिकानों की जांच के लिए कल ही सर्च वारंट जारी किया था. बालू के अवैध खनन मामले में हटाए गए सभी 41 पुलिस और प्रशासनिक पदाधिकारियों पर विभागीय कार्यवाही भी जारी है.

पटनाः बिहार में इन दिनों बालू माफियाओं का तांडव बरकरार है. इस बीच सरकार पूरी तरह से अपनी नजर उनपर बनाई हुई है. नीतीश सरकार द्वारा लगातार बिहार के ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल कसा जा रहा है.

 

अवैध बालू खनन के मामले में निलबिंत एसपी राकेश दुबे के कई ठिकानों पर आर्थिक अपराध ईकाई ने छापेमारी की है. अब तक की जांच में करीब 3 करोड़ से ऊपर आय से अधिक संपत्ति का पता चला है. टीम अभी पूरी आकलन नही कर पाई है. बता दें कि आर्थिक अपराध इकाई ने निलंबित एसपी राकेश दुबे के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज किया था.

राकेश दुबे के बिहार-झारखंड के चार ठिकानों पर आज सुबह से आर्थिक अपराध इकाई ने छापेमारी की है. आर्थिक अपराध इकाई से मिली जानकारी के अनुसार केस नंबर 17/21 अंडर सेक्शन 13(2)आर डब्ल्यू 13(1)(बी) पीसी एक्ट 1988 के तहत मामला दर्ज किया गया है. राकेश दुबे के ठिकानों में पटना के गांधी पार्क श्री कृष्णा पुरी स्थित आवासीय मकान नंबर 119, पटना के फ्लैट संख्या 204, सुदामा पैलेस जलालपुर, अभियंता नगर के अलावे झारखंड के सचिन रेजिडेंसी होटल जसीडीह और उनके गांव जसीडीह के सिमरिया में भी छापेमारी की गई है.

कोर्ट ने निलंबित एसपी के ठिकानों की जांच के लिए कल ही सर्च वारंट जारी किया था. तलाशी के दौरान उनके बैंक खाते, शेयर, बीमा, आयकर रिटर्न, चल-अचल संपत्ति से जुडे दस्तावेज आदि की पड़ताल की जा रही है. देर शाम तक ईओयू के पदाधिकारी संपत्ति का आकलन कर फाइनल रिपोर्ट देंगे.

ईओयू के एडीजी नैयर हसनैन खान ने बताया कि ईओयू ने बुधवार को एसपी पर आय से अधिक संपत्ति मामले में प्राथमिकी दर्ज करते हुए कोर्ट से सर्च वारंट हासिल किया था. यहां बता देम कि बालू के अवैध खनन मामले में हटाए गए सभी 41 पुलिस और प्रशासनिक पदाधिकारियों पर विभागीय कार्यवाही भी जारी है.

अधिकारियों से उनपर लगे आरोपों को लेकर स्पष्टीकरण मांगा गया है. कई अधिकारियों ने जवाब दे दिया है, जबकि कई को जवाब देना है. इसके बाद उन पर विभाग के स्तर से भी कार्रवाई होनी है. अभी तक इस मामले में पांच अफसरों पर आय से अधिक संपत्ति मामले में प्राथमिकी दर्ज कर छापेमारी की जा चुकी है.

ईओयू सूत्रों के अनुसार, जल्द ही बालू खनन में कई अन्य अफसरों के ठिकानों पर भी छापेमारी हो सकती है. बालू के अवैध खनन मामले में राकेश दुबे समेत बिहार पुलिस के दो आईपीएस अधिकारियों पर माफिया के साथ सांठ-गांठ का आरोप लगा था. आरोप को आधार बनाते हुए राज्य सरकार ने दो महीने पहले 14 जुलाई को दोनों ही अधिकारियों को एसपी के पद से निलंबित कर दिया था.

उस वक्त राकेश कुमार दुबे आरा और आईपीएस सुधीर कुमार पोरिका औरंगाबाद के एसपी थे. उल्लेखनीय है कि अवैध बालू खनन मामले में जुलाई में 41 पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को निलंबित किया गया था. आर्थिक अपराध इकाई बालू के अवैध धंधे से अकूत संपत्ति बनाने वाले अधिकारियों के खिलाफ जांच कर रही है.

ईओयू ने इससे पहले आरा और पालीगंज के निलंबित एसडीपीओ, रोहतास व डेहरी के एसडीओ और एक एमवीआई के ठिकानों पर छापेमारी की थी. इस मामले में राकेश दुबे पहले आईपीएस अधिकारी हैं, जिनके घर पर छापा मारा गया है

Web Title: bihar sand mafia bhojpur suspended ips rakesh dubey eou 3 crore connection patna jharkhand

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे