Rat-Bite First Aid, medical treatment, signs and symptoms of Rat-bite fever | अगर रात को सोते समय चूहा काट ले तो सुबह होने तक जरूर कर लें ये 4 काम, वरना जीवनभर होगा पछतावा
अगर रात को सोते समय चूहा काट ले तो सुबह होने तक जरूर कर लें ये 4 काम, वरना जीवनभर होगा पछतावा

लगभग सभी घरों में चूहे पाए जाते हैं लेकिन लोग इन्हें गंभीरता से नहीं लेते हैं। आपको बता दें कि चूहे बहुत ज्यादा जहरीले होते हैं। वैसे तो चूहे थोड़ी बहुत आहट होने पर डर कर भाग जाते हैं लेकिन रात को सोते समय वो आपके बिस्तर और आपके ऊपर नाच रहे होते हैं। कई बार वो चीजों को कुतरने के साथ सोते हुए आदमी को काट भी लेते हैं। अक्सर बच्चे इनका शिकार बनते हैं। कभी-कभी सोते समय पता नहीं चल पाता है कि आपको किसी ने काटा है। ऐसे में अगर आपको पता चल जाए, तो आपको तुरंत इन उपायों पर काम करना चाहिए।  

कैसे पता चलेगा कि चूहे ने काटा है? 
चूहे के काटने पर प्रभावित हिस्से पर एक छोटा घाव बन सकता है। इसमें दर्द के साथ खून आ सकता है और उस हिस्से में सूजन हो सकती है। घाव को नजरअंदाज करने पर वो बढ़ सकता है और उसमें मवाद भर सकती है। कई मामलों में, चूहे के काटने से बुखार हो सकता है।

चूहे के काटने से बुखार
चूहे के काटने के बाद अगर घाव को नजरअंदाज कर दिया जाता है और उसमें संक्रमण हो जाता है, तो उस स्थिति को रैट बाइट फीवर कहा जाता है। सिर्फ चूहे के नहीं बल्कि बिल्ली, छछूंदर या गिलहरी के काटने से भी बुखार हो सकता है। 

चूहे के काटने से शरीर में दिख सकते हैं ये लक्षण
चूहे के काटने के लक्षण तुरंत नजर नहीं आते हैं। इसके लक्षण कम से 3 से 10 दिनों के भीतर दिखते हैं। आमतौर इसके लक्षणों में जोड़ों का दर्द, बुखार और ठंड लगना, मांसपेशियों में दर्द, सिरदर्द, त्वचा के लाल चकत्ते, उल्टी, गले की खराश, अल्सर और दस्त होना शामिल हैं। 

चूहे के काटने पर तुरंत करें ये घरेलू उपाय
1) अगर आपको चूहे ने काट लिया है, तो जितनी जल्दी हो सकता है प्रभावित हिस्से को गर्म पानी और साबुन से अच्छी तरह धोयें। उस हिस्से को साफ कपड़े से पोंछकर सूखा लें। इसके बाद उस पर एंटीबायोटिक क्रीम लगायें और साफ पट्टी या बैंडेज से कवर कर लें।

2) अगर काटने के निशान बड़ा है, तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। चूहे के काटने से संभावित गंभीर संक्रमण होने का खतरा होता है। इसलिए आपको एक टेटनस शॉट के भी आवश्यकता होती है, खासकर यदि आपने पिछले एक से पांच साल के बीच ये टीका नहीं लगवाया है।

3) चूहे के काटने के कुछ मामलों में इन्फेक्शन से निपटने के लिए पीड़ित को एंटीबायोटिक्स दी जा सकती हैं। इसलिए मरीज को इलाज के दौरान यह ध्यान रखना चाहिए कि उसके लक्षण बदल तो नहीं रहे हैं। उदहारण के लिए प्रभावित हिस्से की त्वचा में किसी तरह का बदलाव होना, प्रभावित हिस्से में लालिमा और सूजन होना, उस हिस्से में मवाद बनना, तेज दर्द होना, बेवजह बुखार और ठंड लगना और जोड़ों में दर्द रहना। 

4) इस मामले में आपको 7 से 10 दिनों तक एंटीबायोटिक लेने की आवश्यकता हो सकती है। इसलिए यह सुनिश्चित करें कि आप डॉक्टर द्वारा एंटीबायोटिक्स का पूरा कोर्स करें, भले ही आप उन्हें खत्म करने से पहले बेहतर महसूस करना शुरू कर दें। अन्यथा, जीवाणु पूरी तरह नहीं मर सकते हैं, जो उन्हें एंटीबायोटिक दवाओं के लिए प्रतिरोधी बना सकते हैं।

चूहे के काटने से होने इन्फेक्शन का इलाज नहीं कराने से हो सकती हैं ये बीमारियां
अगर आपने चूहे के काटने के इन्फेक्शन का सही समय पर इलाज नहीं कराया, तो आपको मायोकार्डिटिस, एंडोकार्डिटिस, निमोनिया, सिस्टेमेटिक वैस्कुलिटिस, पेरीकार्डिटिस, पॉलीआर्थराइटिस नोडोसा, हेपेटाइटिस, नेफ्रैटिस, मेनिनजाइटिस, फोकल एब्सकेसेस, अमिनियोटिस जैसे रोग हो सकते हैं। 

Web Title: Rat-Bite First Aid, medical treatment, signs and symptoms of Rat-bite fever
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे