Diet tips: क्या डायबिटीज के मरीजों को केला खाना चाहिए ?, जानिये केले के 5 गंभीर नुकसान

By उस्मान | Published: November 6, 2021 11:46 AM2021-11-06T11:46:29+5:302021-11-06T11:46:29+5:30

केले के सिर्फ फायदे ही नहीं, नुकसान भी हैं

Diet tips: Can Diabetics Eat Banana, side effects of banana in Hindi | Diet tips: क्या डायबिटीज के मरीजों को केला खाना चाहिए ?, जानिये केले के 5 गंभीर नुकसान

डायबिटीज डाइट टिप्स

Next
Highlightsकेले के सिर्फ फायदे ही नहीं, नुकसान भी हैं केले में शुगर और स्टार्च की मात्रा होती है अधिकवजन कम करने वालों के लिए सही विकल्प नहीं केला

डायबिटीज के मरीजों को ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रखने के लिए खाने-पीने का खास ध्यान रखना पड़ता है। आमतौर पर यह माना जाता है कि डायबिटीज के मरीजों को फल नहीं खाना चाहिए क्योंकि उनमें मौजूद फ्रक्टोज होता है जोकि नैचुरल शुगर है। 

अधिकांश फलों में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है जो रक्त शर्करा के स्तर में उतार-चढ़ाव में योगदान नहीं देता है। सीमित मात्रा में फलों के सेवन से शरीर को कई तरीकों से लाभ होता है। हालांकि कुछ फल में शुगर की मात्रा अधिक होती है जिनका अधिक सेवन करने से नुकसान भी हो सकता है।

केला एक फल है जो सबसे अधिक खाया जाता है. इसमें एक मीठा स्वाद है और इसमें कार्बोस और चीनी दोनों शामिल हैं। तो सवाल यह है कि क्या डायबिटीज के मरीज केला खा सकते हैं, क्या केला ब्लड ग्लूकोज लेवल को बढ़ा सकता है ? 

क्या केला खाने से ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है? 
केले में कार्ब्स की मात्रा अधिक होती है। कार्ब्स से भरपूर चीजें ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाने के लिए जानी जाती हैं। एक मध्यम आकार के केले में 14 जीएम श्हुगर और 6 ग्राम स्टार्च होता है। लेकिन केले फाइबर से भी भरपूर होते हैं। केले में कम जीआई स्कोर होता है और यही वजह है कि यह फल डायबिटीज के मरीजों के लिए बेहतर विकल्प है।

एक्सपर्ट्स मानते हैं कि केले में शुगर और कार्ब्स शामिल हैं। लेकिन इमसें फाइबर भी पाया जाता है और इसमें कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है। डायबिटीज के मरीज केले का सेवन कर सकते हैं लेकिन बहुत अधिक मात्रा में नहीं। उन्हें हफ्ते में दो या तीन केले से ज्यादा नहीं खाना चाहिए।

किन लोगों को नहीं खाना चाहिए केला

1) वजन बढ़ने का ख़तरा
फेमस हेल्थ वेबसाइट स्टाइलक्रेज के अनुसार, बेशक केला खाने से आपकी तुरंत ऊर्जा मिलती है लेकिन अधिक मात्रा में इसे खाने से आपका वजन बढ़ सकता है। इसका कारण यह है कि इसमें वजन बढ़ाने के लिए पर्याप्त कैलोरी होती है।

 

2) हाइपरकलेमिया
केला पोटेशियम का भंडार है और इसके अधिक सेवन से हाइपरकेलेमिया का खतरा है। यह एक ऐसी स्थिति है जो रक्त में पोटेशियम की अधिकता के कारण होती है और यह असमान नाड़ी दर, मतली और अनियमित धड़कन जैसे लक्षणों के माध्यम से पहचानी जाती है, जिससे दिल का दौरा भी पड़ सकता है। ऐसा माना जाता है कि 18 ग्राम से अधिक पोटेशियम की एक खुराक वयस्कों में हाइपरकेलेमिया का कारण बन सकती है।  

3) नर्व डैमेज 
चूंकि केले में उच्च मात्रा में विटामिन बी 6 होता है, इसलिए इसके ज्यादा सेवन से तंत्रिका क्षति हो सकती है। ऐसा माना जाता है कि बिना प्रिस्क्रिप्शन के 100 मिलीग्राम से अधिक विटामिन बी 6 के सेवन से तंत्रिका क्षति हो सकती है। हालांकि, केले के सेवन से तंत्रिका क्षति की संभावना दुर्लभ लगती है।

4) सांस की समस्या
एक और समस्या जो रैगवेड एलर्जी की एक समस्या है, वह है सूजन। यह वायुमार्ग को संकुचित कर सकता है और श्वसन समस्याओं का कारण बन सकता है। इससे सांस लेने या निगलने में गंभीर कठिनाई हो सकती है.  

5) पेट दर्द
यदि आप कच्चा केला खाते हैं, तो इससे आप पेट के गंभीर दर्द से पीड़ित हो सकते हैं। आप पेट दर्द के साथ-साथ मतली का अनुभव भी कर सकते हैं। कच्चे केले में स्टार्च होता है, जो आपके शरीर को पचने में लंबा समय लेता है। आपको तत्काल उल्टी या दस्त का भी अनुभव हो सकता है।

Web Title: Diet tips: Can Diabetics Eat Banana, side effects of banana in Hindi

स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे