Coronavirus vaccine update: covid-19 vaccine successfully tested in Russia, production from September | Coronavirus Vaccine: यहां हो गया कोरोना वायरस की वैक्सीन का सफल परीक्षण, अगले महीने शुरू होगा उत्पादन
कोरोना वायरस वैक्सीन

कोरोना वायरस के इलाज के लिए रूस पूरे जोर से कोविड-19 वैक्सीन बनाने में जुटा है और सबसे पहले इसे बाजार में उतारना चाहता है। इसके लिए ह्यूमन ट्रायल जारी है। इस बीच रूस ने दावा किया है कि वैक्सीन ने ह्यूमन ट्रायल में शामिल वालंटियर्स पर बेहतर परिणाम दिखाया है। रूस के बर्डेनको अस्पताल में वालंटियर्स पर इसका ट्रायल किया गया है। 

लाइव मिंट की रिपोर्ट के अनुसार, रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि गामालेया नेशनल रिसर्च सेंटर ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी द्वारा विकसित कोरोना वायरस की वैक्सीन ने परीक्षण के दौरान सभी प्रतिभागियों में प्रतिरोधक क्षमता विकसित की है। 

कोविड-19 वैक्सीन ने बढ़ाई प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया

मंत्रालय ने कहा कि चेक-अप में सामने आया है कि वैक्सीन ने वालंटियर्स में प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को बढ़ाया है। सबसे बड़ी बात कि वालंटियर्स के शरीर में इसका कोई दुष्प्रभाव या समस्या नहीं पाई गई है।

सितंबर शुरू हो सकता है उत्पादन

रूस में सितंबर तक पहली घरेलू कोरोना वायरस वैक्सीन के उत्पादन की योजना बन रही है। मंत्री ने कहा कि इसके अलावा, रूस अगले साल की शुरुआत तक प्रति माह कोरोना वायरस के कई मिलियन डोज का निर्माण करेगा। 

वालंटियर्स पर वैक्सीन का सफल परीक्षण देख वेक्टर स्टेट रिसर्च सेंटर ऑफ वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलोजी ने घोषणा की कि नवंबर में कोविड-19 वैक्सीन का उत्पादन शुरू किया जा सकता है। 

अब तक, तीन रूसी कंपनियां सितंबर में गामालेया नेशनल रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी द्वारा विकसित रूस की पहली कोरोना वायरस वैक्सीन का औद्योगिक उत्पादन शुरू करेंगी। 

अगले साल तक कई लाख वैक्सीन का उत्पादन

मंत्री ने कहा कि इस वर्ष शुरुआती चरण में कई हजार वैक्सीन खुराक का उत्पादन करने की योजना है, जबकि अगले साल की शुरुआत में कंपनियां कई लाख तक उत्पादन बढ़ाएंगी। एक रिपोर्ट के अनुसार, सबसे पहले डॉक्टरों और शिक्षकों को वायरस के खिलाफ वैक्सीन दिए जाने का विचार चल रहा है।

कोविड-19 वैक्सीन सुरक्षित

इससे पहले, रूस के सैनिटरी वॉचडॉग अन्ना पोपोवा के प्रमुख ने भरोसा दिलाया है कि कोरोना वायरस के खिलाफ रूसी टीका बिल्कुल सुरक्षित है। उन्होंने कहा कई मुझे कोई संदेह नहीं है कि टीका जो लोगों तक पहुंचने के लिए तैयार है, बिल्कुल सुरक्षित है। 

कोरोना वायरस का प्रभाव थमने का नाम नहीं ले रहा है और इस खतरनाक वायरस से दुबियाभर में अब तक 18,476,302 लोग संक्रमित हो गए हैं और 698,224 लोगों की मौत हो गई है।

रूस में मंगलवार को कोरोना वायरस के 5,159 नए मामले सामने आये हैं। कोरोना प्रभावित देशों की लिस्ट में रूस 861,423 मामलों के साथ चौथे स्थान पर है। देश में कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में 144 लोगों की मौत हो गई, जिससे आधिकारिक मौत 14,351 हो गई।

चीन से निकले इस वायरस से सबसे अधिक अमेरिका प्रभावित हुआ है जहां 4,862,513 लोग संक्रमित हो गए हैं और 158,968 लोगों की मौत हो गई है। इसके बाद ब्राजील और भारत में सबसे ज्यादा लोग संक्रमित हुए हैं। ब्राजील में 2,751,665 लोग जबकि भारत में 1,861,821 लोग संक्रमित हुए हैं।

कई देश कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर अपने अंतिम चरण में पहुंच चुके हैं और इसमें अमेरिका की ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी का भी नाम सबसे आगे है।  

Web Title: Coronavirus vaccine update: covid-19 vaccine successfully tested in Russia, production from September
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे