उदयपुर दर्जी हत्याकांड में NIA का बड़ा खुलासा, अगर गौस और रियाज हत्या में विफल होते तो दो और आदमी थे तैयार

By रुस्तम राणा | Published: July 2, 2022 06:40 PM2022-07-02T18:40:15+5:302022-07-02T18:46:41+5:30

एनआईए ने कहा कि मोहसिन और आसिफ ने भी हत्यारों को मौके से भागने में मदद की। हत्यारों में से एक, मोहम्मद गौस का एक स्कूटर उदयपुर में खड़ा पाया गया - जो जांच की एक महत्वपूर्ण कड़ी है।

Udaipur Tailor Murder Two Men Were On Standby If First Two Failed, Says NIA | उदयपुर दर्जी हत्याकांड में NIA का बड़ा खुलासा, अगर गौस और रियाज हत्या में विफल होते तो दो और आदमी थे तैयार

उदयपुर दर्जी हत्याकांड में NIA का बड़ा खुलासा, अगर गौस और रियाज हत्या में विफल होते तो दो और आदमी थे तैयार

Next
Highlightsदर्जी की हत्या के लिए स्टैंडबाय पर रहने वाले मोहसिन और आसिफ गुरुवार को हुए थे गिरफ्तारगौस मोहम्मद और रियाज अख्तरी पर दर्जी कन्हैया लाल की हत्या का है आरोप पूरे हत्याकांड की दोनों ने बनाई थी वीडियो, बाद में एक अन्य वीडियो को किया था जारी

जयपुर: उदयपुर निर्मम हत्याकांड को लेकर शनिवार को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बड़ा खुलासा किया है। एनआईए का कहना है कि अगर गौस मोहम्मद और रियाज अख्तरी कन्हैया लाल की हत्या करने में विफल होते तो दो लोग दर्जी की हत्या करने के लिए तैयार थे। स्टैंडबाय पर रहने वाले दो लोगों को - एनआईए ने मोहसिन और आसिफ के रूप में पहचाना और हत्या में कथित साजिश के लिए गुरुवार रात गिरफ्तार कर लिया।

एनआईए ने कहा कि मोहसिन और आसिफ ने भी हत्यारों को मौके से भागने में मदद की। हत्यारों में से एक, मोहम्मद गौस का एक स्कूटर उदयपुर में खड़ा पाया गया - जो जांच की एक महत्वपूर्ण कड़ी है। इससे पहले, एनआईए के सूत्रों ने कहा कि एजेंसी अंतरराष्ट्रीय संबंध रखने वाले "स्थानीय आत्म-कट्टरपंथी गिरोह" की संभावित संलिप्तता की जांच कर रही है।

शनिवार को ही चारो आरोपियों को जयपुर स्थित एनआईए कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने चारो आरोपियों को दस दिन के लिए एनआईए रिमांड पर भेज दिया है। पेशी के दौरान कोर्ट परिसर के बाहर आरोपियों पर गुस्साई भीड़ ने हमला कर दिया। मुश्किल से पुलिस के द्वारा उन्हें भीड़ से बचाकर पुलिस वैन तक ले जाया गया।  
48 वर्षीय कन्हैया लाल की पिछले मंगलवार को रियाज़ अख्तरी और ग़ौस मोहम्मद ने बीजेपी से निलंबित नेता नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाले सोशल मीडिया पोस्ट पर नृशंस हत्या कर दी थी, जिन्होंने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी की थी। 

दोनों ने इस कृत्य को फिल्माया और बाद में इसके बारे में डींग मारते हुए एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें कहा गया कि उन्होंने "इस्लाम के अपमान" का बदला लिया, और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी धमकी दी। हालांकि वारदात के दिन ही पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद पुलिस ने दो अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया।

Web Title: Udaipur Tailor Murder Two Men Were On Standby If First Two Failed, Says NIA

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे