प्रिंसिपल साहब और गुरु जी पकड़े गये बोर्ड परीक्षा में नकल कराते हुए, जानिए पूरा मामला

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: April 8, 2022 09:03 PM2022-04-08T21:03:57+5:302022-04-08T21:14:37+5:30

यूपी एसटीएफ ने गाजीपुर के सैदपुर में नकल का गोरखधंधा चलाने वाले प्रिंसिपल और मास्टर सहित कुल 6 लोगों को गिरफ्तर किया है। एसटीएफ की माने तो पकड़े गये आरोपी बोर्ड परीक्षा की हल की गई प्रत्येक कॉपी को 25,000 रुपये में बेच रहे थे।

Principal and teacher caught cheating in the up board exam | प्रिंसिपल साहब और गुरु जी पकड़े गये बोर्ड परीक्षा में नकल कराते हुए, जानिए पूरा मामला

प्रिंसिपल साहब और गुरु जी पकड़े गये बोर्ड परीक्षा में नकल कराते हुए, जानिए पूरा मामला

Next
Highlightsएसटीएफ ने गाजीपुर के केदारनाथ इंटर कॉलेज में नकल करा रहे प्रिंसिपल और टीचर को गिरफ्तार किया हैएसटीएफ की माने तो परीक्षा दे रहे छात्रों को हल की कॉपी 25,000 रुपये में बेची जा रही थी गाजीपुर के डीएम ने कहा कि नकल के आरोप में पकड़े गये सभी आरोपियों पर रासुका लगेगा

लखनऊ: पूर्वी उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने एक कॉलेज के प्रिसिंपल, टीचर समेत कुल 6 लोगों को नकल कराने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

गुरुवार को हुई इस गिरफ्तारी के मामले में यूपी पुलिस ने बताया कि पकड़े गये सभी आरोपी यूपी बोर्ड की परीक्षा में छात्रों को पास करवाने के लिए नकल करा रहे थे।

जानकारी के मुताबिक नकल का गोरखधंधा चलाने वाले प्रिंसिपल और मास्टर साहब सैदपुर के धुंआ अर्जुन क्षेत्र के सरकारी इंटर कॉलेज से संबंध थे। सूचना के मुताबिक गुप्त जानकारी के आधार पर स्पेशल टास्क फोर्स की वाराणसी इकाई ने इन गिरफ्तारियों को अंजाम दिया है।

संबंधित गिरफ्तारी के मामले में एसटीएफ की ओर से जारी बयान में कहा गया, "खुफिया सूचना पर कार्रवाई करते हुए एसटीएफ की वाराणसी इकाई ने परीक्षा के दौरान गाजीपुर के केदारनाथ इंटर कॉलेज से सटे एक पंचायत भवन से छह लोगों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए लोग उत्तर प्रदेश बोर्ड द्वारा संचालित परीक्षा में पेपरों की नकल करने में शामिल थे।"

इस संबंध में गाजीपुर के जिलाधिकारी मंगला प्रसाद ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि गिरफ्तार किये गये सभी आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत मामला दर्ज किया जाएगा और पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है कि वो अपनी व्यक्तिगत क्षमता से नकल कांड में शामिल थे या फिर इसके पीछे कोई गिरोह काम कर रहा है।

जानकारी के अनुसार जिस समय केदारनाथ इंटर कॉलेज में फिजिक्स की 12वीं की बोर्ड परीक्षा चल रही थी, तब आरोपी परीक्षा देने छात्रों को हल की गई उत्तर पुस्तिकाएं दे रहे थे। एसटीएफ की माने तो हल की गई प्रत्येक कॉपी को 25,000 रुपये में छात्रों को बेचा जा रहा था।

एसटीएफ ने बताया कि इस छापेमारी में केदारनाथ इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल रवींद्र राय, शिक्षक अशोक कुमार पटेल और सॉल्वर रजनीश कुमार, शैलेंद्र यादव, रवि यादव और पीयूष कुमार यादव को मौके से गिरफ्तार किया गया है।

Web Title: Principal and teacher caught cheating in the up board exam

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे