Ministry of Housing advocates power wiring, telecommunication facilities among other systems in new buildings | आवास मंत्रालय ने नई इमारतों में बिजली तार, अन्य प्रणाली के साथ दूरसंचार सुविधाओं की वकालत की
आवास मंत्रालय ने नई इमारतों में बिजली तार, अन्य प्रणाली के साथ दूरसंचार सुविधाओं की वकालत की

नयी दिल्ली, 19 फरवरी आवास और शहरी मामलों के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने शुक्रवार को नई इमारतों के भीतर बिजली के तार, चिमनी जैसी अन्य जरूरी प्रणाली के साथ साथ दूरसंचार कनेक्शन की लाइनें भी स्थापित करने की आवश्यकता पर बल दिया है।

उन्होंने कहा कि घरों में डिजिटल कनेक्टिविटी यानी संपर्क बिजली और पानी के कनेक्शन की तरह बुनियादी सुविधा बन गया है।

मिश्रा ने ब्रॉडबैंड इंडिया फोरम के कार्यक्रम में कहा, ‘‘यह नया भारत है। हम दूरसंचार संपर्क सुविधा के बिना काम नहीं कर सकते। जो भी नई इमारत, मकान, कमरा हम बनाने जा रहे हैं, उसमें संपर्क सुविधा की व्यवस्था होनी चाहिए। जिस प्रकार बिजली, पानी की तरह आप कोई काम नहीं कर सकते, वही स्थिति दूरसंचार कनेक्टिविटी की हो गयी है।’’

राष्ट्रीय डिजिटल संचार नीति, 2018 में हर नये शहर और बड़ी सड़क परियोजनाओं आदि में साझा सेवा व्यवस्था और उपयोगी गलियारा बनाने का प्रस्ताव किया गया है।

मिश्रा ने कहा कि स्मार्ट शहरों में स्मार्ट सड़कें बनायी जा रही हैं। इन सड़कों एक ही प्रणाली बनायी गयी है जिसके जरिये सभी प्रकार के तार (केबल) और कनेक्शन सेवाएं जाने की व्यवस्था है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की साझा व्यवस्था से सड़कों को नुकसान नहीं पहुंचता।

सचिव ने कहा, ‘‘इमारतों में दूरसंचार के लिये साझाी व्यवस्था के लिये हम कोई परामर्श नहीं देंगे बल्कि यह इमारत निर्माण के उप-नियमों में लागू होगा। दूरसंचार मंत्रालय के साथ मिलकर हम कुछ प्रकार का प्रोत्साहन देंगे ताकि यह एक नई परिपाटी बन जाए।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Ministry of Housing advocates power wiring, telecommunication facilities among other systems in new buildings

कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे