पिछले 6 सालों में अरबपति बना पाक सेना जनरल कमर जावेद बाजवा का परिवार, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

By मनाली रस्तोगी | Published: November 21, 2022 11:39 AM2022-11-21T11:39:41+5:302022-11-21T12:23:05+5:30

फैक्ट फोकस के लिए लिखते हुए पाकिस्तानी पत्रकार अहमद नूरानी ने खुलासा किया है कि कैसे बाजवा के करीबी और विस्तारित परिवार के सदस्यों ने कुछ ही वर्षों में एक नया व्यवसाय शुरू किया, प्रमुख पाकिस्तानी शहरों में फार्महाउस के मालिक बन गए और विदेशी संपत्ति खरीदी, इस प्रक्रिया में अरबों डॉलर कमाए।

Pakistan army chief Bajwa's family became billionaires in last six years says report | पिछले 6 सालों में अरबपति बना पाक सेना जनरल कमर जावेद बाजवा का परिवार, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

पिछले 6 सालों में अरबपति बना पाक सेना जनरल कमर जावेद बाजवा का परिवार, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

Next
Highlightsपाकिस्तान के थल सेनाध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा 29 नवंबर 2022 को सेवानिवृत्त होने वाले हैं।एक रिपोर्ट के अनुसार, छह साल के अंतराल में पाकिस्तानी सेना प्रमुख बाजवा के करीबी परिवार के सदस्यों की संपत्ति में तेजी से इजाफा हुआ है।फैक्ट फोकस की खोजी रिपोर्ट में बहुत सारे डेटा शामिल हैं जिसमें बाजवा के परिवार के वित्तीय व्यवहार दिख सकते हैं।

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के थल सेनाध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा 29 नवंबर 2022 को सेवानिवृत्त होने वाले हैं। उनके रिटायर होने से पहले एक रिपोर्ट सामने आई है, जिसके अनुसार छह साल के अंतराल में पाकिस्तानी सेना प्रमुख बाजवा के करीबी परिवार के सदस्यों की संपत्ति में तेजी से इजाफा हुआ है। 

फैक्ट फोकस के लिए लिखते हुए पाकिस्तानी पत्रकार अहमद नूरानी ने खुलासा किया है कि कैसे बाजवा के करीबी और विस्तारित परिवार के सदस्यों ने कुछ ही वर्षों में एक नया व्यवसाय शुरू किया, प्रमुख पाकिस्तानी शहरों में फार्महाउस के मालिक बन गए और विदेशी संपत्ति खरीदी, इस प्रक्रिया में अरबों डॉलर कमाए।

फैक्ट फोकस की खोजी रिपोर्ट में बहुत सारे डेटा शामिल हैं जिसमें बाजवा के परिवार के वित्तीय व्यवहार दिख सकते हैं। इसमें उनकी पत्नी आयशा अमजद, उनकी बहू महनूर साबिर और परिवार के अन्य करीबी सदस्य शामिल हैं। नूरानी ने लिखा, "छह साल के भीतर दोनों परिवार अरबपति बन गए, एक अंतरराष्ट्रीय व्यापार शुरू किया, कई विदेशी संपत्तियां खरीदीं, विदेशों में पूंजी स्थानांतरित करना शुरू किया, वाणिज्यिक प्लाजा, वाणिज्यिक भूखंडों के मालिक बन गए, इस्लामाबाद और कराची में विशाल फार्महाउस, लाहौर में एक विशाल अचल संपत्ति पोर्टफोलियो और भी बहुत कुछ।"

उन्होंने ये भी लिखा, "पिछले छह वर्षों के दौरान पाकिस्तान के भीतर और बाहर बाजवा परिवार द्वारा जमा की गई ज्ञात संपत्तियों और व्यवसायों का वर्तमान बाजार मूल्य 12.7 बिलियन रुपये से अधिक है।" टैक्स रिटर्न और अन्य वित्तीय विवरणों के आधार पर पाकिस्तानी पत्रकार ने उल्लेख किया कि कैसे 2013 और 2017 के बीच बाजवा ने देश के सेना प्रमुख नियुक्त किए जाने के बाद 2013 के लिए धन विवरण को तीन बार संशोधित किया।

उन्होंने फैक्ट फोकस में लिखा, "साल 2013 के रिवाइज्ड वेल्थ स्टेटमेंट में जनरल बाजवा ने डीएचए लाहौर के फेज VIII में एक कमर्शियल प्लॉट जोड़ा। उन्होंने दावा किया कि वास्तव में उन्होंने यह भूखंड 2013 में खरीदा था लेकिन घोषणा करना भूल गए। वह अगले चार साल तक भूलते रहेंगे और सेना प्रमुख बनने के एक साल बाद 2017 में अपनी चूक को ही याद कर पाएंगे।"

Web Title: Pakistan army chief Bajwa's family became billionaires in last six years says report

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे