who could not maintain the dignity of the Parliament, dreams to become the Prime Minister: Rajnath Singh in Meerut | राजनाथ सिंह का राहुल गांधी पर तंज, कहा-जो संसद की गरिमा नहीं रख सकता वह PM बनने का ख्वाब देख रहा है
राजनाथ सिंह का राहुल गांधी पर तंज, कहा-जो संसद की गरिमा नहीं रख सकता वह PM बनने का ख्वाब देख रहा है

मेरठ, 11 अगस्त: बीजेपी के वरिष्ठ नेता एवं गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए शनिवार को कहा कि जो व्यक्ति ‘‘संसद की गरिमा नहीं रख सकता वह प्रधानमंत्री बनने का स्वप्न देख रहा है।’’ उन्होंने यह भी दावा किया कि कांग्रेस एवं विपक्षी दलों को केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार का काम पच नहीं रहा है तथा ‘‘कांग्रेस की काठ की हांडी दोबारा नहीं चढ़ेगी।’


आज कहा कि हम राजनीति सत्त्ता चलाने के लिए नहीं, देश चलाने के लिए करते हैं। उन्होंने बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक को यहां संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का मस्तक ऊंचा हुआ है। सिंह ने उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार की सराहना करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शासन चलाने में कामयाब रहे हैं। उन्होंने दावा किया, 'मेरा विश्वास पक्का हो गया है, सभी को देखने के बाद यह यकीन हो गया है कि जीत का एक्सप्रेस-वे यूपी से गुजरेगा।'

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा हाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को संसद में गले लगाने की घटना को 'चिपको अभियान' करार देते सिंह ने कहा, 'जो संसद की गरिमा नहीं बना (रख) सकता वह प्रधानमंत्री बनने का स्वप्न देख रहा है।' सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने जाति-मजहब में बांटने की राजनीति की है। सत्ता हासिल हो या न हो समाज को बंटने नहीं देंगे।' उन्होंने यह भी दावा किया कि कांग्रेस एवं विपक्षी दलों को केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार का काम पच नहीं रहा है तथा 'कांग्रेस की काठ की हांडी दोबारा नहीं चढ़ेगी।'

उन्होंने कहा कि आज दुनिया से निवेशक भारत की ओर आकर्षित हो रहे हैं। भारत के प्रति विश्व में आकर्षण बढ रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की नीयत पर कोई सवालिया निशान नही लगा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने झाड़ू इसलिए उठायी क्योंकि वह संदेश देना चाहते थे कि कोई काम छोटा नही होता है।

राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) के मामले में उन्होंने कहा कि कितने देशी नागरिक हैं और कितने विदेशी, क्या इसका आंकड़ा नही होना चाहिये। गृहमंत्री यह भी दावा किया कि अब सिर्फ आठ जिलों में नक्लवाद बचा है। आतंक के रास्ते पर जाने वाले युवाओं की संख्या कम हुई है। इससे पहले, यहां भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने प्रदेश में विश्वास कायम करने में सफलता हासिल की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने आंबेडकर जयंती पर निर्णय लिया था कि सबको समान रूप से बिजली दी जाएगी और हम ऐसा कर रहे हैं।

उन्होंने दावा किया कि पूर्व सरकार के शासनकाल में बिजली पांच छह जिलों में सिमट कर रह गई थी। बैठक में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पाण्डेय, उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, पूर्व केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र तथा भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी भी मौजूद थे। कार्यसमिति की दो दिन की बैठक का समापन कल बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह करेंगे।

हिंदी खबरों और देश-दुनिया की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें। यूट्यूब चैनल यहां सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट।


Web Title: who could not maintain the dignity of the Parliament, dreams to become the Prime Minister: Rajnath Singh in Meerut
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे