Nabanna Abhiyan: हिरासत में लिए गए बीजेपी नेता सुवेंदु अधिकारी और लॉकेट चटर्जी, पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर बरसाई लाठियां

By रुस्तम राणा | Published: September 13, 2022 04:06 PM2022-09-13T16:06:21+5:302022-09-13T16:22:07+5:30

नबन्ना मार्च के दौरान पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प देखने को मिली। भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी, लॉकेट चटर्जी सहित अन्य को पुलिस ने हिरासत में लिया है और सुकांत मजूमदार को गिरफ्तार किया गया है।

West Bengal Nabanna Abhiyan  suvendu Adhikari and locket Chatterjee detained police lathicharge party workers | Nabanna Abhiyan: हिरासत में लिए गए बीजेपी नेता सुवेंदु अधिकारी और लॉकेट चटर्जी, पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर बरसाई लाठियां

Nabanna Abhiyan: हिरासत में लिए गए बीजेपी नेता सुवेंदु अधिकारी और लॉकेट चटर्जी, पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर बरसाई लाठियां

Next
Highlightsबंगाल भाजपा के अध्यक्ष डॉक्टर सुकांत मजूमदार हुए गिरफ्तार ममता सरकार के खिलाफ बीजेपी का नबन्ना मार्च जारीहिंसक झड़प में पुलिस वाहन जलाए गए, पार्टी कार्यकर्ताओं पर भांजी गई लाठियां

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने ममता सरकार के खिलाफ 'नबन्ना अभियान' (सचिवालय मार्च) के तहत प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प देखने को मिली। भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी, लॉकेट चटर्जी सहित अन्य को पुलिस ने हिरासत में लिया। साथ ही पुलिस के द्वारा बंगाल भाजपा के अध्यक्ष डॉक्टर सुकांत मजूमदार को  गिरफ्तार किया गया है। हालांकि बीजेपी कार्यकर्ताओं का यह प्रदर्शन जारी है।

इस बीच पुलिस और प्रदर्शन कर रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प देखने को मिली। पुलिस ने जहां भाजपा कार्यकर्ताओं के ऊपर आंसू गैस के गोले दागे और लाठी चार्ज किया। तो वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी पुलिस पर पथराव किया। प्रदर्शन के दौरान पुलिस वाहन भी जलाए गए हैं। गिरफ्तारी के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा की मुख्यमंत्री डरी गई हैं। यहां की एकत्रित हुई भीड़ को देखकर वह भाग गई हैं। उन्होंने कहा, यहां केवल 30 फीसदी हैं। शेष कुछ लोगों की कल गिरफ्तार किया गया था।  

कोलकाता और हावड़ा में तैनात पुलिस ने सुबह से ही मध्य कोलकाता की कई सड़कों से यातायात को डायवर्ट कर दिया। भाजपा कार्यकर्ता की आवाजाही को रोकने के लिए हावड़ा पुल, दूसरा हुगली पुल और एस्प्लेनेड पर बैरिकेडिंग की गई थी। अधिकारी ने ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए कहा, “ममता पुलिस युद्धस्तर पर है, एक लोकतांत्रिक राजनीतिक घटना को कुचलने की कोशिश कर रही है।

Web Title: West Bengal Nabanna Abhiyan  suvendu Adhikari and locket Chatterjee detained police lathicharge party workers

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे