इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में पहला स्थान पाने वाली दिव्या से जुड़वा बहन ने छीना खिताब, केवल 2 अंकों से ऐसे बनी ‘यूपी टॉपर’

By भाषा | Published: October 21, 2022 01:16 PM2022-10-21T13:16:05+5:302022-10-21T13:51:51+5:30

इस पर बोलते हुए फतेहपुर की जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआईओएस) देवकी सिंह ने बताया कि अब उत्तर प्रदेश टॉपर सूची में पहला और दूसरा स्थान जय मां सरस्वती ज्ञान मंदिर इंटर कॉलेज, राधानगर के हिस्से में आ गया है।

Twin sister divyanshi snatched title Divya got first place Intermediate Board Exam became UP Topper | इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में पहला स्थान पाने वाली दिव्या से जुड़वा बहन ने छीना खिताब, केवल 2 अंकों से ऐसे बनी ‘यूपी टॉपर’

फोटो सोर्स: ANI (प्रतिकात्मक फोटो)

Next
Highlightsयूपी इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में टॉप करने वाली दिव्या को उसकी ही जुड़वा बहन ने पछाड़ दिया है।अपनी बहन से केवल दो अंक ज्यादा लाकर दिव्यांशी ‘यूपी टॉपर’ बन गई है। ऐसे में जुड़वा बहनों के टॉप करने से एक ही घर से ‘यूपी टॉपर’ का खिताब रह गया।

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश माध्‍यमिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में प्रदेश में पहला स्‍थान प्राप्‍त करने वाली फतेहपुर जिले की दिव्यांशी से उसकी जुड़वा बहन दिव्या ने यह खिताब छीनकर अब अपने नाम दर्ज करा लिया है। शिक्षा विभाग की एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी है। 

अपने ही जुड़वा बहन व टॉपर को पीछे छोड़ हासिल की पहला स्थान

फतेहपुर की जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआईओएस) देवकी सिंह ने शुक्रवार को बताया कि उत्‍तर प्रदेश इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में जय मां सरस्वती ज्ञान मंदिर इंटर कॉलेज, राधानगर की छात्रा दिव्यांशी ने 500 में 477 अंक पाकर राज्य में पहला स्थान हासिल किया था, लेकिन अब इसी विद्यालय की छात्रा और उसकी जुड़वा बहन दिव्या को यह स्थान मिल गया। 

आपको बता दें कि दिव्यांशी अब प्रदेश में दूसरे नंबर पर हो गई है। 18 जून को घोषित बोर्ड परीक्षा परिणाम में करीब 22 लाख परीक्षार्थियों के बीच दिव्यांशी ने यह मुकाम हासिल किया। 

कैसे बनी दिव्यांशी टॉपर

इस पर बोलते हुए देवकी सिंह ने बताया कि दरअसल, अंकपत्र में दर्ज हिंदी विषय के नंबरों से असंतुष्ट दिव्या ने फिर से पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन किया था। पुनर्मूल्यांकन में दिव्या के हिंदी में और 38 नंबर बढ़ने से अब वह टॉपर रहीं अपनी जुड़वां बहन दिव्यांशी से दो अंक आगे पहुंच गईं। 

देवकी सिंह ने बताया कि अब उत्तर प्रदेश टॉपर सूची में पहला और दूसरा स्थान जय मां सरस्वती ज्ञान मंदिर इंटर कॉलेज, राधानगर के हिस्से में आ गया है। 

इस तरह दिव्या बनी थी सबसे पहले टॉपर

मामले में सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में दिव्यांशी ने 500 में 477 अंक पाकर राज्य में टॉपर होने का खिताब हासिल किया था। हालांकि दिव्यांशी की जुड़वां बहन दिव्या को हिंदी के अलावा अन्य सभी विषयों में दिव्यांशी से अच्छे नंबर मिले थे। हिंदी में उसे सिर्फ 56 अंक मिलने से उसे मेधा सूची में स्थान नहीं मिला था। ऐसे में दिव्या ने पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन किया था। 

सिंह ने कहा कि पुनर्मूल्यांकन में हिंदी विषय में उसके नंबर बढ़कर 94 हो जाने से दिव्या इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में टॉपर घोषित हो गईं। डीआईओएस ने बताया कि अब दिव्या के प्राप्तांकों का योग दिव्यांशी के 477 की तुलना 479 पहुंच गया है। बोर्ड ने संशोधित नंबर बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कराते हुए दूसरा अंकपत्र जारी किया है। 
 

Web Title: Twin sister divyanshi snatched title Divya got first place Intermediate Board Exam became UP Topper

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे