सिद्धू के सलाहकारों की टिप्पणियों को लेकर तिवारी ने सवाल उठाया, भाजपा ने भी निशाना साधा

By भाषा | Published: August 23, 2021 10:07 PM2021-08-23T22:07:21+5:302021-08-23T22:07:21+5:30

Tiwari raised questions about the comments of Sidhu's advisors, BJP also targeted | सिद्धू के सलाहकारों की टिप्पणियों को लेकर तिवारी ने सवाल उठाया, भाजपा ने भी निशाना साधा

सिद्धू के सलाहकारों की टिप्पणियों को लेकर तिवारी ने सवाल उठाया, भाजपा ने भी निशाना साधा

Next

कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के दो सलाहकारों की कथित विवादित टिप्पणियों के खिलाफ पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने सोमवार को खुलकर मोर्चा खोल दिया वहीं भाजपा ने भी इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस नेतृत्व पर निशाना साधा। तिवारी ने पार्टी नेतृत्व से इस पर आत्ममंथन करने का आग्रह किया कि क्या ऐसे लोगों को पार्टी में होना चाहिए, जो जम्मू-कश्मीर को भारत का हिस्सा नहीं मानते और जिनका रुझान पाकिस्तान समर्थक है। कांग्रेस महासचिव और पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने कहा कि इन लोगों की नियुक्तियां पार्टी ने नहीं की हैं, लेकिन अगर वो दोषी पाये गए तो उचित कार्रवाई होगी। खबर है कि सिद्धू ने अपने इन दोनों सलाहकारों को तलब किया और उनकी कथित विवादित टिप्पणियों को लेकर उनसे स्पष्टीकरण मांगा। पूर्व केंद्रीय मंत्री तिवारी ने ट्वीट किया, ‘‘मैं कांग्रेस महासचिव एवं पंजाब के प्रभारी हरीश रावत से आग्रह करता हूं कि इसको लेकर गंभीरता से आत्ममंथन करें कि जो जम्मू-कश्मीर को भारत का हिस्सा नहीं मानते और जिनका स्पष्ट रूप से पाकिस्तान समर्थक रुझान है, क्या उन्हें कांग्रेस की पंजाब इकाई का हिस्सा होना चाहिए?’’ तिवारी ने यह दावा भी किया कि यह उन सभी लोगों का मजाक है, जिन्होंने भारत के लिए अपना खून बहाया है।’’ सिद्धू के दो सलाहकारों प्यारे लाल गर्ग और मलविंदर सिंह माली की कथित टिप्पणियों को लेकर नया विवाद खड़ा हुआ। गर्ग ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा की गई पाकिस्तान की आलोचना पर सवाल उठाया था। दूसरी तरफ, माली ने संविधान के अनुच्छेद 370 को रद्द करने के मुद्दे पर बात की थी, जिसके तहत तत्कालीन राज्य जम्मू-कश्मीर को एक विशेष दर्जा मिला हुआ था। उन्होंने कथित तौर पर कहा था कि अगर कश्मीर भारत का हिस्सा था तो धारा 370 और 35ए हटाने की क्या जरूरत थी। उनकी ओर से पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के बारे में भी कथित तौर पर आपत्तजिनक टिप्पणी की गई है। रावत ने इन टिप्पणियों के बारे में पूछे जाने पर ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘मेरी सिद्धू जी से बात हुई है। उनकी ओर से जानकारी दी गई है कि इनकी बातों को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया है। फिर भी मैं अपने स्तर से इसकी जांच करूंगा और अगर ये लोग दोषी पाये जाते हैं तो उचित कार्रवाई की जाएगी... इनको दंडित किया जाएगा।’’ उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने यह स्पष्ट किया, ‘‘ये सलाहकार कांग्रेस द्वारा नियुक्त नहीं किये गए हैं। प्रदेश अध्यक्ष ने इन्हें अपने स्तर से नियुक्त किया है। अगर ऐसा कोई व्यक्ति निजी राय जाहिर करता है तो इससे पार्टी का क्या संबंध है? इसके बाद भी हम इसकी जांच करा रहे हैं।’’ रावत ने जोर देकर कहा, ‘‘कांग्रेस का हमेशा से यही रुख रहा है कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और पाकिस्तान के साथ उसके कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) को लेकर ही बातचीत हो सकती है।’’ मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इन कथित टिप्पणियों को लेकर रविवार को सिद्धू से कहा कि वह अपने सलाहकारों को काबू में रखें। भाजपा ने सिद्धू के दो सलाहकारों द्वारा की गई इन विवादित टिप्पणियों के लिए विपक्षी पार्टी पर निशाना साधा और उसके नेता राहुल गांधी से मामले पर जवाब देने की मांग की। केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने भी ट्विटर पर सिद्धू द्वारा नवंबर 2019 में दिए बयान को पोस्ट किया जिसमें वह करतारपुर साहिब गलियारे के उद्घाटन समारोह में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की प्रशंसा करते हुए दिख रहे हैं और सवाल किया कि क्या उनके सलाहकारों को इन टिप्पणियों से प्रेरणा मिली है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘‘यह पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सिद्धू के सलाहकारों की पाकिस्तान और कश्मीर पर विचार हैं। प्यारे लाल गर्ग कहते हैं- पाकिस्तान की आलोचना पंजाब के हित में नहीं है। जबकि मालविंदर माली कहते हैं, ‘‘ कश्मीर अलग राज्य है और भारत गैरकानूनी कब्जेदार है।’ राहुल गांधी के पास कोई जवाब है? शर्मनाक।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Tiwari raised questions about the comments of Sidhu's advisors, BJP also targeted

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे