बिन ब्याही मां बनी युवती ने पुलिस से इंसाफ की गुहार की

By भाषा | Published: June 19, 2021 08:39 PM2021-06-19T20:39:56+5:302021-06-19T20:39:56+5:30

The girl who became an unmarried mother pleaded with the police for justice | बिन ब्याही मां बनी युवती ने पुलिस से इंसाफ की गुहार की

बिन ब्याही मां बनी युवती ने पुलिस से इंसाफ की गुहार की

Next

मेदिनीनगर (झारखंड), 19 जून पलामू जिले में बिन ब्याही मां बनी 23 वर्षीया एक स्नातकोत्तर युवती ने अपने हक के लिए जिला पुलिस से इंसाफ की गुहार की है ।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि यह मामला पाण्डु थानाक्षेत्र के एक गांव का है जहां स्नातकोत्तर की पढाई कर रही एक छात्रा एक युवक के प्रेम जाल में फंस कर डेढ़ वर्ष पूर्व मां बन गई और अब युवक उसे अपनाने से इनकार कर रहा है।

गुरुवार को आरोपी युवक मिथिलेश कुमार के चाचा भगतु पाल, उसकी पत्नी ललिता देवी और उनके बेटे अमृत पाल ने युवती के घर पहुंचकर उसके साथ मारपीट की और कथित तौर पर जान से मारने की कोशिश की। पुलिस मामले की जांच करने का दावा कर रही है।

युवती के परिजनों ने बताया कि इससे पूर्व इस घटना की सूचना देने पाण्डु थाना पहुंची पीड़िता को पुलिस ने डांट कर भगा दिया था, तब विवश होकर उसने जिला मुख्यालय मेदिनीनगर में विश्रामपुर अनुमंडल पुलिस अधिकारी सुरजीत कुमार को लिखित शिकायत की जिसके आधार पर उन्होंने प्राथमिकी दर्ज करने के निर्देश पाण्डु के थानेदार को दिया है ।

फिलहाल पीड़िता मेदिनीनगर में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के स्थानीय नेता राजीव कुमार के आवास पर रहकर इंसाफ की बाट जोह रही है । युवती के अनुसार ट्यूशन पढने के दौरान उसका अपनी सहेली के चचेरे भाई मिथिलेश कुमार से प्रेम हुआ और उससे शारीरिक संबंध भी बने, जिससे पैदा हुआ उसका अपना डेढ़ साल का एक बच्चा है ।

उसने बताया कि उसका प्रेम प्रसंग 2017 से शुरू हुआ और अक्तूबर 2019 को बगैर शादी के वह मां बन गई। प्रारंभ में मिथिलेश शादी के लिए तैयार था, मगर जैसे ही वन विभाग में उसकी नौकरी लगी, वह शादी से मुकर गया ।

इस मामले में महिला थाना में मिथिलेश के विरुद्ध शिकायत दर्ज हुई और वह छह माह जेल में था, बाद में सुलह होने पर इस शर्त पर वह जेल से निकला कि वह युवती को अपना लेगा, मगर जेल से बाहर आते ही एक बार फिर वह शादी करने से मुकर गया ।

अनुमंडल पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस मामले की जांच पुलिस गंभीरता से कर रही है और शीघ्र ही दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: The girl who became an unmarried mother pleaded with the police for justice

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे