तेजस्वी यादव ने अमित शाह के 'जंगल राज' आरोपों पर किया पलटवार, बोले- "अमित शाह, जिस दिल्ली में बैठते हैं, वह अपराध में अव्वल नंबर पर है"

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: September 23, 2022 05:17 PM2022-09-23T17:17:41+5:302022-09-23T17:21:22+5:30

अमित शाह ने पूर्णिया की 'जन भावना महासभा' में लालू-नीतीश के मेल को 'जंगल राज' की शुरूआत बताया। जिस पर पलटवार करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि मैंने तो पहले ही कहा था कि बिहार में अमित शाह बेकार की बात करेंगे।

Tejashwi Yadav's attack on Amit Shah, said- "Amit Shah, the Delhi in which he sits, is at number one in crime" | तेजस्वी यादव ने अमित शाह के 'जंगल राज' आरोपों पर किया पलटवार, बोले- "अमित शाह, जिस दिल्ली में बैठते हैं, वह अपराध में अव्वल नंबर पर है"

फाइल फोटो

Next
Highlightsबिहार में अमित शाह के आरोपों पर उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने किया तीखा पलटवारअमित शाह आप जहां दिल्ली में बैठते है वो अपराध में अव्वल नंबर पर आता हैयह राजद का आरोप नहीं एनसीआरबी का आकड़ा है कि दिल्ली में अपराध बिहार से अधिक है

पटना:बिहार में सत्ता और सियासत का खेल जंगल राज की चर्चा के बिना अधूरा है। गृह मंत्री अमित शाह ने पूर्णिया के रंगभूमि मैदान में भाजपा द्वारा आयोजित 'जन भावना महासभा' में भी इस जंगल राज के किस्से को एक बार फिर छेड़ा। जाहिर है बिहार में सत्ताधारी राष्ट्रीय जनता दल को यह बात बेहद नागवार गुजरी क्योंकि जंगल राज का स्पष्ट संकेत राजद प्रमुख लालू यादव के कार्यकाल के लिए किया जाता है।

अमित शाह के आरोपों पर बिहार के उपमुख्यमंत्री और लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव से पटना में पत्रकारों से बात करते हुए कहा, "मैंने कहा था कि जब अमित शाह आएंगे तो बेकार की बात करेंगे। क्या हुआ 15 लाख देने का? कल मैंने प्रधामंत्री मोदी का 2014 का वीडियो ट्वीट किया था जिसमें बिहार पर विशेष ध्यान देने की बात थी। उन्होंने रोजगार पर बात नहीं कि महंगाई पर बात नहीं की।"

इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने कहा, "मैंने कहा था जब अमित शाह आएंगे तो कहेंगे की जंगल राज है। अमित शाह आप जहां दिल्ली में बैठते है वो अपराध में अव्वल नंबर पर आता है। एनसीआरबी के आकड़ों के मुताबिक दिल्ली में अपराध बिहार से अधिक है। देश की राजधानी सुरक्षित नहीं है।"

बिहार की सियासत में अमित शाह के दो दिवसीय दौरे से खासी हलचल मची हुई है। महागठबंध में राजद की साझेदार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने भी अमित शाह पर तीखा हमला बोला है। जदयू कोटे से बिहार सरकार के मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि अमित शाह बिहार में माहौल बनाने के लिए आए हैं, लेकिन उन्हें इसमें कभी भी सफलता नहीं मिलने वाली है। 

अशोक चौधरी ने कहा, "मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सबको साथ लेकर चलने में भरोसा करते हैं, इसलिए बिहार में भाजपा की विभाजनकारी नीति नहीं चल पाएगी। बिहार के लोगों ने आज नहीं पहले भी कभी इस तरह के लोगों को प्रश्रय नहीं दिया है। हम अच्छे से समझ रहे हैं कि अमित शाह ने अपनी विभाजनकारी नीति के तहत रैली के लिए सीमांचल का इलाका चुना है। भाजपा का काम ही रहा है देश की जनता को मुख्य मुद्दा से भटकाना।"

जदयू नेता अशोक चौधरी ने कहा कि चुनाव में महंगाई और बेरोजगारी मुद्दा नहीं बने इसके लिए भाजपा लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है। नीतीश कुमार के फैसले से जनता में आशा की लहर पैदा होती है। पिछले 17 साल के उनके कार्यकाल में बिहार की जनता अमन-चैन के साथ रह रही है। बिहार में सरकार क्या बदली एक महीने के भीतर भाजपा को सीमांचल में घुसपैठिए दिखने लगे, जब वो सरकार में थे तो क्या उस वक्त उन्हें घुसपैठिए नहीं दिखाई दे रहे थे।

Web Title: Tejashwi Yadav's attack on Amit Shah, said- "Amit Shah, the Delhi in which he sits, is at number one in crime"

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे