Lalu Prasad Yadav son Tej Pratap Yadav reached home Mohammad Shahabuddin | शहाबुद्दीन की मौत के 11 दिन बाद परिवार से मिलने पहुंचे तेजप्रताप, कहा- अपने परिवार में आया हूं
(फाइल फोटो)

Highlightsइस मुलाकात के बाद विभिन्न दलों ने अपने अपने बयानों के तीर को छोड़ना शुरू कर दिया है। शहाबुद्दीन के परिवार की लालू प्रसाद यादव के परिवार से नाराजगी की खबरें सुर्खियों में थी। राजद के रघुनाथपुर से विधायक हरिशंकर यादव भी लालू परिवार के खिलाफ बगावत का ऐलान कर चुके हैं।

बिहार में सीवान से पूर्व सांसद और राजद बाहुबली नेता मो। शहाबुद्दीन की मौत के बाद आज पहली बार लालू परिवार से उनके बड़े बेटे तेजप्रताप यादव सीवान पहुंचे। तेजप्रताप वहां पर शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा सहाब से मिले। वहीं, शहाबुद्दीन की मौत के 13 दिन बाद तेजप्रताप ओसामा से हुई मुलाकात के बाद सूबे में राजनीति का तापमान गर्म हो गया है। 

आज सुबह-सुबह तेजप्रताप शहाबुद्दीन के पैतृक गांव प्रतापपुर स्थित उनके घर पहुंचे और उनके बेटे ओसामा से मुलाकात की। लेकिन शहाबुद्दीन की पत्‍नी हिना शहाब फिलहाल किसी नेता से मुलाकात नहीं कर रही हैं। इसके पीछे इस्‍लाम की एक रस्‍म है, जिसकी वजह से वह किसी पुरुष से फिलहाल मुलाकात नहीं कर सकती हैं। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि ओसामा हमारा छोटा शहाबुद्दीन है। 

बताया जा रहा है कि तेज प्रताप ने ओसामा को लालू यादव से वीडियो कॉल के जरिए बात भी कराई। इसके बाद हसनपुर से राजद विधायक और तेजप्रताप ने एक पोस्ट लिखा, 'मरहूम मोहम्मद शहाबुद्दीन साहब के परिजनों से मिलने आज सीवान स्थित उनके पैतृक आवास पर पहुंचा। ओसामा हमारा छोटा शहाबुद्दीन है और हमने उनके हर सुख-दुख में साथ देने का वादा किया है।' 

वहीं, शहाबुद्दीन के पैतृक गांव प्रतापपुर में स्वजनों से मुलाकात करने के बाद तेजप्रताप पूर्व सांसद के सीवान के आनंद नगर स्थित आवास पर आए और यहां काफी देर तक ठहरे। तेजप्रताप ने कहा कि शहाबुद्दीन राजद और लालू परिवार के साथ हमेशा खडे रहे। यह उनका अपना परिवार है। कुछ लोगों ने उनसे पूछा कि उनके परिवार से दिल्‍ली में कोई क्‍यों नहीं गया, तो इसका उन्‍होंने कोई जवाब नहीं दिया।

बता दें कि तेजप्रताप से पहले दानापुर के राजद विधायक रीतलाल यादव भी सीवान में पूर्व सांसद के घर गए थे। उन्‍होंने भी ओसामा से मुलाकात की थी। उनके ठीक बाद जदयू नेता राधा चरण सेठ सिवान गए थे। सेठ पहले राजद में ही शामिल थे, लेकिन पिछले चुनाव से पहले उन्‍होंने खेमा बदल लिया था। बताया जा रहा है कि तेजप्रताप के सीवान पहुंचने के पीछे शहाबुद्दीन परिवार को मनाने की कोशिश है। 

दरअसल, दिल्ली के डीडीयू अस्पताल में शहाबुद्दीन का कोरोना से निधन हो गया, जिसके बाद उनके परिवार चाहते थे कि शव का अंतिम संस्कार सीवान में हो। अंतिम संस्‍कार से पहले काफी हंगामा भी हुआ। परिवार के लोग और शुभचिंतक पूर्व सांसद के शव को उनके पैतृक गांव लाने चाहते थे, लेकिन दिल्‍ली के प्रशासन ने इसकी इजाजत नहीं दी। दिल्‍ली की कोर्ट से भी इस मामले में इजाजत नहीं दी गई। शहाबुद्दीन के शुभचिंतकों का कहना था कि इस पूरे मामले के दौरान लालू परिवार का कोई सदस्‍य मिलने तक नहीं आया, जबकि कई लोग तब दिल्‍ली में ही थे। ऐसे में तेजप्रताप के आज के दौरे को शहाबुद्दीन के परिवार की नाराजगी को दूर करने की कोशिश माना जा रहा है।

यहां उल्लेखनीय है कि राजद के रघुनाथपुर से विधायक हरिशंकर यादव भी लालू परिवार के खिलाफ बगावत का ऐलान कर चुके हैं। पिछले दिनों मीडिया से बात करते हुए हरिशंकर यादव ने कहा था कि वे कभी भी शहाबुद्दीन परिवार के साथ गद्दारी नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि मुझे पहली बार विधायक 'साहेब' ने ही बनवाया। उन्होंने ही मुझे राजद से टिकट दिलवाया। यह पूछे जाने पर कि क्या वे तेजस्वी-लालू के साथ जा सकते हैं? इसपर हरिशंकर यादव ने कहा कि मैं किसी लालू और तेजस्वी को नहीं जानता हूं। 

वहीं राजद से इस्तीफा दे चुके विधान परिषद के पूर्व उपसभापति सलीम परवेज ने भी मुलाकात के प्रश्न पर कहा कि जब शहाबुद्दीन अस्पताल में भर्ती थे, उनके परिवार पर दुखों का पहाड टूटा हुआ था। उस समय जब लालू परिवार ने उनका साथ नहीं दिया तो अब घडियाली आंसू बहाने से क्या फायदा? किसी के आने जाने से कोई फर्क नहीं पडता है। उन्होंने यह भी कहा कि शहाबुद्दीन का ब्रटेल मर्डर हुआ है। 

वो इसकी जांच के लिए राज्यपाल व राष्ट्रपति को पत्र लिखेंगे और मुलाकात भी करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि समय आने दीजिए, शहाबुद्दीन साहेब का पूरा समाज जवाब देगा। जनता कोई बात बोलती नहीं, जवाब देती है। लालू परिवार की तरफ से शहाबुद्दीन को देखने के लिए दिल्ली में पांच किलोमीटर के दायरे में रहने के बाद भी कोई नहीं आया, न ही अंतिम संस्कार में कोई आया। अब 13 दिन के बाद आंसू बहाने निकले हैं। घडियाल भी शरमा रहा होगा।

इसी क्रम में हम पार्टी ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। हम के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने आज तेजप्रताप यादव के ओसामा से मिलने को लेकर तेजस्वी यादव पर तंजा कसते हुए कहा कि, “आख़िर तेजस्वी यादव क्यों नहीं जा रहें हैं शहाबुद्दीन साहब के परिवार से मिलने? तेजस्वी ने क्या पाप किया है कि ओसामा से मुंह छुपा रहें हैं? उन्होंने कहा कि राजद नेता कितना भी डैमेज कंट्रोल कर लें उनकी हकीकत दुनिया जान चुकी है।

Web Title: Lalu Prasad Yadav son Tej Pratap Yadav reached home Mohammad Shahabuddin

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे