रेलवे में नौकरी के बदले जमीन मामले में सीबीआई के निशाने पर है लालू परिवार, राजद कार्यकर्ताओं में फैला भारी रोष

By एस पी सिन्हा | Published: May 22, 2022 05:02 PM2022-05-22T17:02:19+5:302022-05-22T17:07:08+5:30

रेल भर्ती घोटाले में लालू यादव से संबंधित ठिकानों पर हुई सीबीआई के रेड से राष्ट्रीय जनता दल के कार्यकर्ताओं में भारी रोष है। राजद का कहना है कि तेजस्वी यादव और नीतीश कुमार के बीच बढ़ी नजदीकी भाजपा को रास नहीं आ रही है।

Lalu family is on the target of CBI in the land in lieu of job in Railways, there is huge anger among RJD workers | रेलवे में नौकरी के बदले जमीन मामले में सीबीआई के निशाने पर है लालू परिवार, राजद कार्यकर्ताओं में फैला भारी रोष

फाइल फोटो

Next
Highlightsरेल भर्ती घोटाले में सीबीआई द्वारा की गई छापेमारी से लालू परिवार और राजद में काफी गुस्सा हैसीबीआई अब लालू, राबड़ी, मीसा भारती और हेमा यादव समेत 16 लोगों से पूछताछ की तैयारी में हैराजद का आरोप है कि मोदी सरकार नीतीश को डराने के लिए सीबीआई और ईडी का दुरुपयोग कर रही है

पटना: रेलवे में नौकरी के बदले जमीन लेने के मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के यहां सीबीआई के द्वारा की गई छापेमारी के बाद लालू परिवार और राजद के कार्यकर्ताओं में काफी गुस्सा है।

सीबीआई की छापेमारी के बाद जिस तरीके से सवाल उठ रहे हैं कि तेजस्वी और नीतीश की नजदीकियां बढ़ी हैं। उसके बाद मोदी सरकार के तरफ से नीतीश को डराने के लिए सीबीआई और ईडी का दुरुपयोग किया जा रहा है।

इस बीच सीबीआई अब राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, राज्यसभा सांसद मीसा भारती व हेमा यादव समेत 16 लोगों से पूछताछ की तैयारी में है।

इन सब के बीच राजद प्रमुख के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव इंटरनेट मीडिया पर लगातार अपनी बात रख रहे हैं। तेज प्रताप ने ट्वीट कर अब लिखा है कि "याचना नहीं अब रण होगा, युद्ध बड़ा भीषण होगा"।

इससे पहले उन्होंने ट्वीट करके मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राज्यसभा सांसद सुशील मोदी पर हमला किया था। तेजप्रताप के ट्वीट में  एक कार्टून को दिखाया गया है।

जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बिहार की सत्ता की कुर्सी पर बंधा हुआ दिखाया गया है और बगल में सुशील मोदी को खड़ा हुआ दिखाया गया है, बाकि पोस्टर में बिहार को डूबते हुए दिखाया गया है।

इससे पहले तेजप्रताप ने ट्वीट करके कहा था कि यादव की ताकत से पूरा ब्रह्मांड डोलता है। इसके साथ ही राबड़ी आवास के बाहर और राजद कार्यालय के सामने 'लालू झुकेगा नहीं' का पोस्टर लगा दिया गया है।

राजद कार्यकर्ताओं ने अब पार्टी दफ्तर के बाहर एक पोस्टर लगाया है। जिसमें सीबीआई को एक बार फिर से तोता बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पालतू बताया है।

इस पोस्टर में सीधे तौर पर 10 सर्कुलर आवास की तस्वीर है। जहां लालू प्रसाद यादव का एक बड़ा सा कट-आउट लगा हुआ है। दूसरी तरफ नीतीश और तेजस्वी यादव की तस्वीर लगाई हुई है, जिसमें दोनों आपस में बात कर रहे हैं।

वहीं साथ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी एक पोस्टर लगा हुआ है, जिसके हाथ में पिंजरे में बंद तोते यानी सीबीआई और ईडी को दिखाया गया है।

बता दें कि जब सीबीआई की टीम छापेमारी कर रही थी तो राजद के समर्थकों ने खूब बवाल किया था। सीबीआई के ऊपर हमला भी करने की कोशिश की गई थी लेकिन पुलिस की मौजूदगी में सीबीआई की टीम किसी तरीके से राबड़ी आवास से बाहर निकल पाई थी। लेकिन राजद समर्थकों का गुस्सा शांत नहीं हुआ। इसके बाद अब पोस्टर लगाकर सीबीआई और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रिश्ते को लेकर सवाल उठाया जा रहा है।

Web Title: Lalu family is on the target of CBI in the land in lieu of job in Railways, there is huge anger among RJD workers

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे