लखीमपुर खीरी हिंसा: राहुल गांधी ने राष्ट्रपति से की मुलाकात, अजय मिश्रा की कैबिनेट से बर्खास्तगी की मांग की

By विशाल कुमार | Published: October 13, 2021 12:51 PM2021-10-13T12:51:58+5:302021-10-13T13:07:13+5:30

मुलाकात के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हमने राष्ट्रपति को बताया कि आरोपी के पिता गृह राज्यमंत्री हैं और उन्हें उनके पद से हटाया जाना चाहिए क्योंकि उनके पद पर रहते हुए पारदर्शी जांच संभव नहीं है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि राष्ट्रपति ने हमें भरोसा दिलाया कि वह खुद आज सरकार के साथ इस मामले को उठाएंगे.

lakhimpur kheri violence president ram nath kovind rahul gandhi congress delegation | लखीमपुर खीरी हिंसा: राहुल गांधी ने राष्ट्रपति से की मुलाकात, अजय मिश्रा की कैबिनेट से बर्खास्तगी की मांग की

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करता कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल. (फोटो: एएनआई)

Next
Highlightsराहुल और प्रियंका गांधी ने पीड़ितों से मिलने के बाद राष्ट्रपति से मुलाकात का समय मांगा था.राष्ट्रपति से सुप्रीम कोर्ट के दो मौजूदा जजों से जांच कराने की मांग की.राष्ट्रपति ने सरकार के साथ इस मामले को उठाने का भरोसा दिलाया.

नई दिल्ली: लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी के पांच सदस्यीय दल ने आज केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा की बर्खास्तगी की मांग करते हुए बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की.

मुलाकात के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हमने राष्ट्रपति को बताया कि आरोपी के पिता गृह राज्यमंत्री हैं और उन्हें उनके पद से हटाया जाना चाहिए क्योंकि उनके पद पर रहते हुए पारदर्शी जांच संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि इसके साथ ही हमने राष्ट्रपति से सुप्रीम कोर्ट के दो मौजूदा जजों से जांच कराने की मांग की.

कांग्रेस दल का हिस्सा प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि राष्ट्रपति ने हमें भरोसा दिलाया कि वह खुद आज सरकार के साथ इस मामले को उठाएंगे.

कांग्रेस के इस पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, वरिष्ठ नेता एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद शामिल थे.

बता दें कि, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने लखीमपुर खीरी का दौरा करके पीड़ितों से मिलने के बाद राष्ट्रपति से मुलाकात का समय मांगा था. उस दौरान प्रियंका गांधी को एक दिन हिरासत में भी रहना पड़ा था.

गौरतलब है कि किसानों का एक समूह उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की यात्रा के खिलाफ तीन अक्टूबर को प्रदर्शन कर रहा था, तभी लखीमपुर खीरी में एक एसयूवी (कार) ने चार किसानों को कथित तौर पर कुचल दिया.

इससे गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने भाजपा के दो कार्यकर्ताओं और एक चालक की कथित तौर पर पीट-पीट कर हत्या कर दी, जबकि हिंसा में एक स्थानीय पत्रकार की भी मौत हो गई थी.

तिकोनिया थानाक्षेत्र में हुई इस घटना में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा और अन्य के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. आशीष मिश्रा फिलहाल पुलिस हिरासत में है.

Web Title: lakhimpur kheri violence president ram nath kovind rahul gandhi congress delegation

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे