Former Kolkata Police chief Rajeev Kumar fails to report to MHA duty on time. | आईपीएस अधिकारी और कोलकाता पुलिस के पूर्व प्रमुख राजीव कुमार ने गृह मंत्रालय में रिपोर्ट किया
चुनाव आयोग ने बुधवार को संविधान के अनुच्छेद 324 का इस्तेमाल किया और पश्चिम बंगाल की नौ लोकसभा सीटों पर मतदान के लिये निर्धारित अवधि से एक दिन पहले, 16 मई को रात दस बजे से चुनाव प्रचार प्रतिबंधित करने का अप्रत्याशित फैसला किया था।

Highlightsउल्लेखनीय है कि मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोडशो के दौरान कोलकाता में व्यापक पैमाने पर हिंसा हुयी थी।चुनाव आयोग ने कुमार को पश्चिम बंगाल में कार्य मुक्त कर बुधवार को गृह मंत्रालय से संबद्ध कर दिया था।

वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी और कोलकाता पुलिस के पूर्व प्रमुख राजीव कुमार ने बृहस्पतिवार को गृह मंत्रालय में रिपोर्ट किया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। चुनाव आयोग ने कुमार को पश्चिम बंगाल में कार्य मुक्त कर बुधवार को गृह मंत्रालय से संबद्ध कर दिया था।

सारदा और रोज वैली चिटफंड घोटालों के संबंध में केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की जांच के सिलसिले में एजेंसी के साथ हुई तनातनी में शामिल रहे कुमार को राज्य में हुई हिंसा की घटनाओं को रोकने में कथित तौर पर विफल रहने के लिए पश्चिम बंगाल के अतिरिक्त महानिदेशक, सीआईडी के पद से बुधवार को हटा दिया था।

साथ ही आयोग ने पश्चिम बंगाल के गृह सचिव अत्रि भट्टाचार्य को भी हटाने का आदेश दिया था। अधिकारियों ने बताया कि आयोग ने उन्हें गृह मंत्रालय में रिपोर्ट करने के निर्देश दिये थे।

चुनाव आयोग ने बुधवार को संविधान के अनुच्छेद 324 का इस्तेमाल किया और पश्चिम बंगाल की नौ लोकसभा सीटों पर मतदान के लिये निर्धारित अवधि से एक दिन पहले, 16 मई को रात दस बजे से चुनाव प्रचार प्रतिबंधित करने का अप्रत्याशित फैसला किया था।

उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में पश्चिम बंगाल की जिन नौ सीटें पर चुनाव होने हैं उनमें दमदम, बारासात, बशीरहाट, जयनगर, मथुरापुर, डायमंड हार्बर, जाधवपुर, कोलकाता दक्षिण और कोलकाता पश्चिम लोकसभा क्षेत्र शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोडशो के दौरान कोलकाता में व्यापक पैमाने पर हिंसा हुयी थी। हिंसा के दौरान महान समाज सुधारक और पश्चिम बंगाल के आदर्श पुरुष के रूप में विख्यात ईश्वरचंद्र विद्यासागर की एक प्रतिमा भी क्षतिग्रस्त कर दी गयी थी।

शाह ने संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया था कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस एक ‘‘साजिश’’ के तहत उनके रोड शो के दौरान हिंसा में शामिल रही है।

वहीं तृणमूल कांग्रेस ने एक वीडियो जारी कर दावा किया था कि ‘‘भाजपा के गुंडों’’ ने विद्यासागर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त किया और वीडियो से न केवल यह पता चलता है कि भगवा पार्टी ने क्या किया बल्कि यह भी साबित होता है कि शाह ‘‘झूठे’’ और ‘‘धोखेबाज’’ हैं। 


Web Title: Former Kolkata Police chief Rajeev Kumar fails to report to MHA duty on time.
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे