दुर्गा पूजा: डीपीसीसी ने लोगों से घरों में ही बाल्टी या टब में मूर्ति विसर्जन करने को कहा

By भाषा | Published: October 13, 2021 10:11 PM2021-10-13T22:11:00+5:302021-10-13T22:11:00+5:30

Durga Puja: DPCC asks people to immerse idols in buckets or tubs at home | दुर्गा पूजा: डीपीसीसी ने लोगों से घरों में ही बाल्टी या टब में मूर्ति विसर्जन करने को कहा

दुर्गा पूजा: डीपीसीसी ने लोगों से घरों में ही बाल्टी या टब में मूर्ति विसर्जन करने को कहा

Next

नयी दिल्ली, 13 अक्टूबर दुर्गा पूजा उत्सव से पहले दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) ने बुधवार को किसी भी जलाशय में मूर्ति विसर्जन पर रोक लगा दी और लोगों से कहा कि वे अपने घरों में ही बाल्टी या कंटेनर में मूर्ति विसर्जन करें। समिति ने कहा कि इसके परिणामस्वरूप नदियों और झीलों में होने वाला प्रदूषण चिंता का विषय है।

डीपीसीसी ने एक अधिसूचना में कहा, '' आगामी दुर्गा पूजा के दौरान यमुना नदी या किसी अन्य जलाशय/तालाबों/घाटों सहित किसी भी सार्वजनिक स्थान पर मूर्ति विसर्जन की अनुमति नहीं होगी। मूर्ति विसर्जन अनुष्ठान घर में ही बाल्टी या कंटेनर में किया जा सकता है।''

प्रदूषण नियंत्रण निकाय ने कहा, '' मूर्ति विसर्जन के कारण पानी की गुणवत्ता में गिरावट को लेकर किए गए अध्ययनों से पता चलता है कि इससे पानी के संदर्भ में वाहकता, जैव रासायनिक ऑक्सीजन की मांग और भारी धातु एकाग्रता के संबंध में गुणवत्ता में गिरावट आती है।''

डीपीसीसी ने कहा है कि प्लास्टर ऑफ पेरिस (पीओपी) से मूर्ति बनाने के बजाय पारंपरिक मिट्टी जैसी प्राकृतिक सामग्री का उपयोग किया जाना चाहिए। उसने कहा कि पीओपी से बनी मूर्तियों पर लगाए गए रसायनिक रंगों और पेंट के कारण जलीय जीवों के जीवन पर बेहद हानिकारक प्रभाव पड़ता है।

डीपीसीसी ने कहा कि मूर्तियों को रंगे जाने के लिए केवल पानी में घुलनशील और गैर विषैले प्राकृतिक रंगों का उपयोग किया जाना चाहिए।

डीपीसीसी ने इन निर्देशों के साथ ही संबंधित एजेंसियों को हर शुक्रवार को नियमों का उल्लंघनों करने वालों के खिलाफ की गई कार्रवाई की रिपोर्ट सौंपने को भी कहा है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Durga Puja: DPCC asks people to immerse idols in buckets or tubs at home

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे