विध्वंस कचरे को अनिवार्य रूप से कोलकाता नगर निगम को सौंपा जाना चाहिए-बोले मेयर फिरहाद हकीम

By आजाद खान | Published: August 27, 2023 08:13 AM2023-08-27T08:13:29+5:302023-08-27T08:34:09+5:30

मामले में बोलते हुए मेयर फिरहाद हकीम ने कहा है कि "मैंने पुलिस से माझेरहाट पुल पर नजर रखने को कहा है, जहां से इस तरह का कचरा ले जाने वाली लॉरियां जाती हैं।"

Demolition waste should be compulsorily handed over to Kolkata Municipal Corporation said Mayor Firhad Hakim | विध्वंस कचरे को अनिवार्य रूप से कोलकाता नगर निगम को सौंपा जाना चाहिए-बोले मेयर फिरहाद हकीम

फोटो सोर्स: ANI फाइल फोटो

Google NewsNext
Highlightsविध्वंस कचरे कोलकाता नगर निगम के मेयर फिरहाद हकीम ने एक बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि इस तरह के कचरे को केएमसी को जरूर सौंपा जाना चाहिए। यही नहीं फिरहाद ने एक व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया है जिस पर संपर्क करने पर केएमसी घर आकर कचरा भी उठाएगी।

कोलकाता:  मेयर फिरहाद हकीम ने शुक्रवार को कहा है कि किसी भी घर से निकलने वाले विध्वंस कचरे को अनिवार्य रूप से कोलकाता नगर निगम (केएमसी) को सौंपा जाना चाहिए। मेयर ने ऐसा इसलिए कहा है क्योंकि ऐसा करने से निर्माण और विध्वंस कचरे को संसाधित करने वाला संयंत्र बेहतर ढंग से काम कर सकेगा।

यही नहीं नगर निकाय के एक अधिकारी ने यह भी कहा है कि निर्माण के दौरान उत्पन्न कचरे को भी संयंत्र में भेजा जाना है। मेयर हकीम ने लोगों में इसे लेकर जागरूक होने और नेचर के बारे में भी सोचने की बात कही है। इसके लिए एक व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया गया है जिस पर संपर्क करने पर नगर निकाय के लोग आकर अपके घर से विध्वंस कचरे ले जाएंगे। 

मेयर ने क्या कहा है

बता दें कि अखबार टेलीग्राफ ने जुलाई में एक रिपोर्ट पेश की थी जिसमें यह कहा गया था कि प्लांट में प्रतिदिन केवल 15 टन कचरा डाला जा रहा था, जो एक दिन में 500 टन कचरे को संसाधित करने की क्षमता से काफी कम है। केएमसी द्वारा संचालित न्यू टाउन में प्लांट का उद्घाटन अप्रैल में किया गया था।

इस पर बोलते हुए मेयर हमकी ने कहा है कि क्या कहा मेयर ने कई नगर पालिकाओं को निर्माण और विध्वंस कचरे को प्लांट में भेजने के लिए कहा गया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि इसमें प्रसंस्करण के लिए पर्याप्त कच्चा माल है। एक अधिकारी ने कहा कि कोलकाता के आसपास के जिलों में नगर पालिकाओं को कचरा प्लांट में भेजने के लिए सूचित कर दिया गया है।

संपर्क करने पर नगर निगम उठाएगी आपका कचरा

फिरहाद हकीन ने यह भी कहा है कि शहर में उत्पन्न निर्माण और विध्वंस कचरे का एक बड़ा हिस्सा कोलकाता के बाहरी इलाके में जल निकायों को भरने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि बिव्डरों का एक वर्ग है जो इस तरीके से भी काम करता है और इससे पैसे बनाता है। 

हकीम ने शुक्रवार को व्हाट्सएप नंबर 8335999111 दिखाते हुए कहा, "हमसे संपर्क करें और हम साइट से कचरा उठाएंगे।" उन्होंने यह भी कहा, "मैंने पुलिस से माझेरहाट पुल पर नजर रखने को कहा है, जहां से इस तरह का कचरा ले जाने वाली लॉरियां जाती हैं।"

निर्माण और विध्वंस कचरे का क्या होता है

बता दें कि प्लांट में जो कचरा जमा होता है जैसे कंक्रीट के टुकड़े, ईंटें और सीमेंट आदि उससे पेवर ब्लॉक का निर्माण होता है। ये पेवर ब्लॉक का उपयोग कई अपार्टमेंट ब्लॉकों के फुटपाथों और सामान्य क्षेत्रों को पक्का करने के लिए किया जाता है।
 

Web Title: Demolition waste should be compulsorily handed over to Kolkata Municipal Corporation said Mayor Firhad Hakim

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे