Cyclone nisarga Animals were evacuated to the zoo in Mumbai | Cyclone Nisarga: तूफान 'निसर्ग' से पहले मुंबई के चिड़ियाघर में जानवरों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया, कई इलाकों में अलर्ट जारी
Cyclone Nisarga: तूफान 'निसर्ग' से पहले मुंबई के चिड़ियाघर में जानवरों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया, कई इलाकों में अलर्ट जारी

Highlights मुंबई करीब 129 साल बाद किसी इतने शक्तिशाली चक्रवाती तूफान का सामना कर रहा है।चक्रवात मुंबई से 95 किलोमीटर की दूरी पर स्थित अलीबाग से करीब 40 किलोमीटर दूर था।

मुम्बई: चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ के राज्य में दस्तक देने से पहले मुम्बई के चिड़ियाघर के सभी मांसाहारी जानवरों को बारिश और तेज हवाओं से बचाने के लिए सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है। अधिकारी ने बताया कि चिड़ियाघर के आपात प्रतिक्रिया दल को किसी भी अप्रिय स्थिति के लिए सतर्क रहने को कहा गया है।

शहर में बारिश के कारण ‘वीरमाता जीजाबाई उद्यान’ में खराब मौसम और पेड़ों के गिरने से किसी भी नुकसान से जानवरों को बचाने के लिए सभी कदम उठाए जा रहे है । यह चिड़ियाघर 50 एकड़ क्षेत्र में फैला है । बृहन्मुंबई नगर निगम के एक अधिकारी ने बताया कि बाघ, तेंदुए और लकड़बग्धा जैसे मांसाहारी जानवरों को सुरक्षित स्थानों पर रखा गया है।

उन्होंने कहा, ‘‘ ये स्थान पेड़ गिरने से होने वाले किसी भी नुकसान से सुरक्षित हैं। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पशु रखने वाले, माली, पेड़-काटने वाले और सुरक्षा कर्मचारी सहित 20 सदस्यीय चिड़ियाघर का आपात प्रतिक्रिया दल तैनात है।’’ अधिकारियों ने बताया कि जानवरों के बाड़ों पर भी परिसर में लगे सीसीटीवी से नजर रखी जा रही है। 

बता दें कि चक्रवाती तूफान निसर्ग महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों से बुधवार को टकराया। भारत में पिछले दो हफ्तों में ये दूसरा चक्रवाती तूफान है। निसर्ग का सबसे ज्यादा असर मुंबई और महाराष्ट्र के कई इलाकों में पड़ने वाला है। इसके अलावा गुजरात के कई इलाकों में भी अलर्ट है। मुंबई करीब 129 साल बाद किसी इतने शक्तिशाली चक्रवाती तूफान का सामना कर रहा है।

बहरहाल, निसर्ग चक्रवात के महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों में पहुंचने के बारे में भारतीय मौसम विभाग की ओर से जानकारी देते हुए ट्वीट किया गया, 'निसर्ग चक्रवात का केंद्र महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों से काफी करीब है। लैंडफॉल की प्रक्रिया अभी जारी है और अगले तीन घंटे में ये पूरा हो जाएगा। निसर्ग का नॉर्थईस्ट सेक्टर तट पर आ रहा है।' 

चक्रवात के पहुंचने की प्रक्रिया अपराह्न करीब साढ़े 12 बजे आरंभ हो गई थी। आखिर अपडेट के अनुसार चक्रवात मुंबई से 95 किलोमीटर की दूरी पर स्थित अलीबाग से करीब 40 किलोमीटर दूर था। आईएमडी ने एक बयान में कहा, 'बादल का दाहिना हिस्सा महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्र, खासकर रायगढ़ जिले से होकर गुजर रहा है।' उन्होंने बताया कि चक्रवात के कारण इस समय 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं।

Web Title: Cyclone nisarga Animals were evacuated to the zoo in Mumbai
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे