Congress protests nationwide against agricultural laws, Rahul targets Prime Minister | कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस ने किया देशव्यापी प्रदर्शन, राहुल ने साधा प्रधानमंत्री पर निशाना
कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस ने किया देशव्यापी प्रदर्शन, राहुल ने साधा प्रधानमंत्री पर निशाना

नयी दिल्ली, 15 जनवरी कांग्रेस ने तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ शुक्रवार को देशव्यापी प्रदर्शन किया और इन कानूनों को वापस लेने की मांग की।

पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री देश के किसानों की ‘‘इज्जत’’ नहीं करते और बार-बार बातचीत करके सिर्फ किसानों को थकाना चाहते हैं।

उन्होंने यह दावा भी किया कि मोदी देश के प्रधानमंत्री जरूर हैं, लेकिन ‘उनका रिमोट कंट्रोल’ कुछ पूंजीपतियों के पास है।

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने एक बयान में कहा कि केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने प्रदेश मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन किया और राज भवनों का घेराव किया।

उन्होंने कहा कि पार्टी ने आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में ‘स्पीकअप फॉर किसान अधिकार’ हैशटैग से सोशल मीडिया अभियान भी चलाया।

राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने शुक्रवार को जंतर-मंतर पहुंचकर, पंजाब से पार्टी के उन सांसदों के साथ एकजुटता प्रकट की जो पिछले करीब 40 दिनों से कृषि कानूनों के विरोध में धरने पर बैठे हैं।

पंजाब से संबंध रखने वाले कांग्रेस के लोकसभा सदस्य जसबीर गिल, गुरजीत औजला, रवनीत सिंह बिट्टू और कुछ अन्य नेता कृषि कानूनों के खिलाफ खुले आसमान के नीचे धरना दे रहे हैं। उनकी मांग तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की है।

राहुल गांधी और प्रियंका कुछ देर तक पार्टी के इन सांसदों के साथ धरना स्थल पर बैठे और उनके साथ एकजुटता प्रकट की।

इस मौके पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, ‘‘देश को आजादी 1947 में मिली, लेकिन इस आजादी को किसानों ने कायम रखा। जिस दिन खाद्य सुरक्षा खत्म होगी उस दिन आजादी चली जाएगी।’’

कांग्रेस नेता ने दावा किया, ‘‘एक तरफ हिंदुस्तान है और दूसरी तरफ मोदी जी के कुछ पूंजीपति मित्र हैं। देश के बहुत सारे लोगों को यह बात समझ नहीं आ रही है कि अगर आज किसान का हक छिना तो अगला नंबर मध्य वर्ग का होगा और फिर दूसरे लोग भी होंगे।’’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदी जी कहते हैं कि देश को कोरोना से नुकसान हुआ। नुकसान कोरोना से पहले हुआ था। सच्चाई यह है कि मोदी जी और उनके दो-तीन उद्योगपति मित्र आप से सब छीन रहे हैं। ये ही कुछ उद्योगपति सब कुछ चला रहे हैं।’’

कांग्रेस नेता ने कहा कि किसानों को समझना पड़ेगा कि समय जाया किया जा रहा है और थकाया जा रहा है।

राहुल गांधी ने आरोप लगाया, ‘‘मोदी जी किसानों की इज्जत नहीं करते हैं।.... एक किसान मरे, दो मरे, 100 मरे, नरेन्द्र मोदी को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है।’’

उन्होंने दावा किया, ‘‘नरेन्द्र मोदी जी समझते हैं कि किसान थक जाएगा और भाग जाएगा। मोदी जी, किसान नहीं भागने वाला है, आपको भागना पड़ेगा। आपको समझ जाना चाहिए कि ये हिंदुस्तान पीछे हटने वाला नहीं है। न किसान पीछे हटेंगे और न ही कांग्रेस पीछे हटने वाली है।’’

एक सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने आरोप लगाया, ‘‘नरेन्द्र मोदी जी, देश के प्रधानमंत्री जरूर हैं, लेकिन उनका रिमोट कंट्रोल तीन-चार लोगों के पास है। उन पर दया आती है।’’

इससे पहले राहुल और प्रियंका कृषि कानूनों के खिलाफ उपराज्यपाल के निवास के निकट आयोजित कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए।

इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा, ‘‘कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है। सरकार को ये तीनों कानून वापस लेने होंगे। सरकार जब तक ये कानून वापस नहीं लेगी तब तक कांग्रेस पीछे नहीं हटने वाली है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Congress protests nationwide against agricultural laws, Rahul targets Prime Minister

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे