मल्लिकार्जुन खड़गे का बड़ा आरोप- पीएम मोदी-शाह की जोड़ी क्या महाराष्ट्र की महा अघाड़ी सरकार को गिराने में जुटी है?

By शीलेष शर्मा | Published: July 21, 2021 08:28 PM2021-07-21T20:28:50+5:302021-07-21T20:30:18+5:30

खड़गे ने दलील दी कि जिस तरह पेगासस सॉफ्टवेयर की मदद से मोदी -शाह ने कांग्रेस और जेडीएस नेताओं की जासूसी कर कर्नाटक में चुनी हुयी सरकार गिरायी।

congress Mallikarjun Kharge's big allegation – Is PM Modi-Shah duo engaged in toppling the Maha Aghadi government of Maharashtra | मल्लिकार्जुन खड़गे का बड़ा आरोप- पीएम मोदी-शाह की जोड़ी क्या महाराष्ट्र की महा अघाड़ी सरकार को गिराने में जुटी है?

पेगासस सॉफ्टवेयर के ज़रिये मोदी -शाह की जोड़ी ने न जाने किस किस की जासूसी कराई है।

Next
Highlightsमध्य प्रदेश में भी कांग्रेस सरकार को गिरा कर भाजपा की सरकार बना ली और अब निगाह महाराष्ट्र पर है। जो कुछ कर्नाटक और मध्य प्रदेश में हुआ वह अब महाराष्ट्र की ओर इशारा कर रहा है।  सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग आसानी से देखा जा सकता है।

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी महाराष्ट्र की महाअघाड़ी सरकार को गिराने की साजिश रच रहे हैं।

ताकि राज्य में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार का गठन किया जा सके। यह खुलासा राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने किया। खड़गे ने दलील दी कि जिस तरह पेगासस सॉफ्टवेयर की मदद से मोदी -शाह ने कांग्रेस और जेडीएस नेताओं की जासूसी कर कर्नाटक में चुनी हुयी सरकार गिरायी, उसके बाद इस जोड़ी ने मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस सरकार को गिरा कर भाजपा की सरकार बना ली और अब निगाह महाराष्ट्र पर है। 

यह पूछे जाने पर कि क्या यह जोड़ी आज भी पेगासस के ज़रिये महाराष्ट्र में जासूसी करा रही है। खड़गे ने कहा कि मुझे नहीं मालूम कि यह जोड़ी पेगासस की मदद अभी ले रही है या नहीं लेकिन जो कुछ कर्नाटक और मध्य प्रदेश में हुआ वह अब महाराष्ट्र की ओर इशारा कर रहा है। 

राज्य में भाजपा और संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों की कार्यशैली देखें तो साफ़ नज़र आता है कि इनके इरादे ठीक नहीं हैं। सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग आसानी से देखा जा सकता है। पेगासस सॉफ्टवेयर के ज़रिये मोदी -शाह की जोड़ी ने न जाने किस किस की जासूसी कराई है। इसका खुलासा जांच से ही हो सकता है। 

मोदी और डोभाल ने जब की इजराइल की यात्रा 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2018 - 2019 में प्रधानमंत्री मोदी की इज़राइल यात्रा को लेकर अब सवाल उठ रहे हैं और राजनीतिक दलों को आशंका है कि इसी यात्रा के दौरान एनएसओ से पेगासस सॉफ्टवेयर का सौदा हुआ होगा।

कथित रूप से बताया जा रहा है कि  मोदी की इज़राइल यात्रा के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने इज़राइल की अनेक यात्रायें  कीं आखिर इन यात्राओं के पीछे क्या मकसद था ,क्या पेगासस की डील से जुड़ी यह यात्राएं तो नहीं थीं 

Web Title: congress Mallikarjun Kharge's big allegation – Is PM Modi-Shah duo engaged in toppling the Maha Aghadi government of Maharashtra

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे