डायबिटीज एक ऐसी खतरनाक बीमारी है जिसका कोई स्थायी इलाज नहीं है। एक्सपर्ट्स मानते हैं कि डायबिटीज पीड़ितों को अंधेपन, किडनी फेलियर, हार्ट अटैक, स्ट्रोक जैसी जानलेवा बीमारियों का ज्यादा खतरा होता है।  डायबिटीज के कई कारण है जिनमें खाराब खान-पान, एक्सरसाइज नहीं करना और आनुवांशिक कारण शामिल हैं। हालांकि डायबिटीज को बिना दवाओं के भी कंट्रोल रखा जा सकता है और आप स्वस्थ जीवन जी सकते हैं। बस आपको इन बातों पर ध्यान देना चाहिए। 

1) नियमित रूप से व्यायाम करें


हेल्थलाइन के अनुसार, नियमित व्यायाम आपको वजन कम करने और इंसुलिन संवेदनशीलता बढ़ाने में मदद कर सकता है। इंसुलिन संवेदनशीलता बढ़ने का मतलब है कि आपकी कोशिकाएं आपके खून में मौजूद शुगर का उपयोग करने के लिए बेहतर हैं। व्यायाम आपकी मांसपेशियों को ऊर्जा और मांसपेशियों के संकुचन के लिए ब्लड शुगर का उपयोग करने में भी मदद करता है। इसमें हल्का वजन उठाना, तेज चलना, दौड़ना, बाइक चलाना, नृत्य, लंबी पैदल यात्रा, तैराकी और बहुत कुछ शामिल हैं।

2) कार्बोहाइड्रेट कम खायें 
आपका शरीर कार्ब्स को शुगर में तोड़ता है और फिर इंसुलिन शुगर को कोशिकाओं में ले जाता है। जब आप बहुत अधिक कार्ब्स खाते हैं या इंसुलिन फ़ंक्शन की समस्या होती है, तो यह प्रक्रिया विफल हो जाती है और ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। इसलिए आपको कार्बोहाइड्रेट वाली चीजों का कम सेवन करना चाहिए। 

3) फाइबर का सेवन बढ़ाएँ
फाइबर वाली चीजें खाने से कार्ब्स का पाचन और चीनी के अवशोषण को धीमा कर देता है। इन कारणों से, यह ब्लड शुगर लेवल को बहुत ज्यादा नहीं बढ़ने देता है। अघुलनशील और घुलनशील दोनों तरह के फाइबर महत्वपूर्ण हैं। इसके अलावा फाइबर वाला आहार ब्लड शुगर को कंट्रोल करने और डायबिटीज टाइप 1 से बचाने में मदद करता है।

4) खूब पानी पिएं और हाइड्रेटेड रहें
पर्याप्त पानी पीने से आपको अपने रक्त शर्करा के स्तर को स्वस्थ सीमा के भीतर रखने में मदद मिल सकती है। पानी आपको निर्जलीकरण से बचाता है और आपके गुर्दे को अतिरिक्त ब्लड शुगर को मूत्र के माध्यम से बाहर निकालने में मदद करता है। 

5) कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थ खायें
कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थ खाने से टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज में ब्लड शुगर को कम करने में मदद मिलती है। कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों में सी फूड, मांस, अंडे, जई, जौ, सेम, दाल, फलियां, मीठे आलू, मक्का, यम, अधिकांश फल और गैर-स्टार्च वाली सब्जियां शामिल हैं।

6) तनाव से बचें
तनाव आपके रक्त शर्करा के स्तर को प्रभावित कर सकता है। तनाव के दौरान ग्लूकागन और कोर्टिसोल जैसे हार्मोन स्रावित होते हैं। इन हार्मोनों के कारण रक्त शर्करा का स्तर बढ़ता है। ऐसा माना जाता है कि व्यायाम, विश्राम और ध्यान ने तनाव को कम किया है और छात्रों के लिए रक्त शर्करा के स्तर को कम किया जा सकता है। 

7) ब्लड शुगर की जांच करते रहें 
रक्त शर्करा के स्तर को मापने और निगरानी करने से आपको उन्हें नियंत्रित करने में भी मदद मिल सकती है। उदाहरण के लिए आपको ध्यान रखना चाहिए कि आपने समय पर दवा और खाना खाया है या नहीं। इससे आपको यह पता लगाने में भी मदद मिलेगी कि आपका शरीर कुछ खाद्य पदार्थों पर कैसे प्रतिक्रिया करता है। हर दिन अपने स्तर को मापने की कोशिश करें और संख्या का ध्यान रखें।

English summary :
Experts believe that diabetes at greater risk of life-threatening illnesses such as blindness, kidney failure, heart attack, stroke. Diabetes can be cured by healthy food proper nutritional value, resistance training.


Web Title: Diabetes Tips and home remedies to treatment of diabetes, diet tips for diabetics, easy way to low your blood sugar without medicine
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे