Ghaziabad suitcase body was someone else as 'victim' found alive | गाजियाबाद: सूटकेस में मिली थी लाश पर अब जिंदा मिली लड़की, पुलिस भी हैरान, जानिए क्या है पूरा मामला
गाजियाबाद में सूटकेस में मिली लड़की की लाश के मामले में नया मोड़, पुलिस भी हैरान (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Highlightsगाजियाबाद में पिछले महीने सूटकेस में मिली लड़की की लाख के मामले में नया मोड़पुलिस जिस लड़की की लाश इसे समझ रही थी, वो जिंदा है और खुद सामने आई है

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। गाजियाबाद में दरअसल 27 जुलाई को एक सूटकेस में लड़की की लाश मिली थी। पुलिस ने लड़की की तस्वीरों को सोशल मीडिया पर भी शेयर किया ताकि उसकी पहचान की जा सके। इसी दौरान अलीगढ़ से एक शख्स और उसकी मां सामने आए। मां ने मिली लाश की पहचान अपनी 24 साल की बेटी वरिसा के तौर पर की। ये उस बॉडी को वहां से अलीगढ़ ले गए और 29 जुलाई को उसे दफना दिया गया।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में वरिसा की हत्या को लेकर पति और ससुराल वालों को आरोपी भी बनाया गया। दहेज का मामला दर्ज हुआ और उन्हें जेल भेज दिया गया। यही नहीं गाजियाबाद की एक पुलिस टीम को परिवार का सही तरह से पता लगाने के लिए 15000 रुपये का इनाम भी मिल गया और इस तरह केस बंद हो गया।

जिसकी मौत की हुई थी बात, वो लड़की जिंदा मिली

पुलिस सुनिश्चित कर चुकी थी कि ये मामला खत्म हो गया। हालांकि, इसमें बड़ा मोड़ सोमवार को उस समय आया जब वरिसा अलीगढ़ में एक कॉन्सटेबल के पास पहुंची। इसके बाद पुलिस इस बात को जानकार हैरान रह गई कि सूटकेस में जो लड़की मिली थी, वो कोई और थी और उसकी पहचान करना अभी बाकी है।

मामला सामने आने के बाद बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया है कि वरिसा अपने ससुराल वालों द्वारा किए जाने वाले मारपीट से परेशान होकर 23 जुलाई को भाग गई थी। वरिसा की शादी आमिर खान से एक जून को हुई थी। ससुराल से परेशान वरिसा भागकर नोएडा चली गई थी जहां वो पहले एक बिजली का सामान बनाने वाली कंपनी में काम करती थी। वो वहां से सोमवार से अलीगढ़ लौटी है।

पुलिस ने कहा है कि वो ससुराल वालों पर मौत से जुड़े आरोप अब हटायेगी हालांकि उत्पीड़न का मामला बना रहेगा। पुलिस ने कहा है कि इन सभी बातों की जानकारी अब कोर्ट को दी जाएगी।

जिसकी लाश मिली, वो कौन थी

गाजियाबाद में पुलिस ने कहा है कि सभी प्रक्रियाओं का पालन करने के बाद ही लड़की की लाश वरिसा के परिवार वालों को सौंपी गई थी। गाजियाबाद एसएसपी कलानिधि नैथनी के अनुसार अब इस मामले में पुलिस हत्या और सबूतों को नष्ट करने का मामला दर्ज करेगी और लड़की की मिली लाश के संबंध में अपनी जांच शुरू करेगी।

पुलिस के अनुसार लड़की की पोस्टमार्टम की गई थी और उसकी विसरा और डीएनए रिपोर्ट पुलिस के पास ही है। इससे जांच में मदद मिलेगी। वहीं, बुलंदशहर पुलिस की ओर से बताया गया कि 28 जुलाई को ही वरिसा के ससुराल वालों को दहेज के लिए उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था। साथ ही उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भी कोर्ट द्वारा भेजा गया था।  

English summary :
Police have been shocked in a case involving Ghaziabad and Aligarh. Actually, the Ghaziabad police found a corpse in a suitcase. It was identified by a family and was also handed over to the body. Now however, the girl whose dead body was supposedly handed over to the family is found alive.


Web Title: Ghaziabad suitcase body was someone else as 'victim' found alive
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे