Delhi crime murder Person shot dead moving car argument bike riders | बाइक सवारों से बहस के बाद चलती कार में शख्स की गोली मारकर हत्या
भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Highlightsप्रीत विहार मेट्रो स्टेशन के पास कुछ अज्ञात बाइक सवार लोगों के साथ उनकी बहस हो गई। अधिकारी ने बताया कि बहस के दौरान, एक आरोपी ने पिस्तौल निकाल ली और गोली चला दी।

नई दिल्लीः पूर्वी दिल्ली के प्रीत विहार में रोड रेज की एक संदिग्ध घटना में कुछ अज्ञात बाइक सवार लोगों ने चलती कार के अंदर 30 वर्षीय एक व्यक्ति की कथित तौर पर गोली मारकर हत्या कर दी।

पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि उसके रिश्ते के भाई को भी गोली लगी, जो कार में उसके बगल में बैठा था पुलिस के अनुसार, घटना बृहस्पतिवार देर रात 12 बजे की है जब मानसरोवर पार्क निवासी सोमेश छाबड़ा अपने चचेरे भाई शिवम दुआ और दोस्त राहुल के साथ कनॉट प्लेस गया था।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जब तीनों घर लौट रहे थे, तो रास्ते में प्रीत विहार मेट्रो स्टेशन के पास कुछ अज्ञात बाइक सवार लोगों के साथ उनकी बहस हो गई। अधिकारी ने बताया कि बहस के दौरान, एक आरोपी ने पिस्तौल निकाल ली और गोली चला दी।

गोली पहले छाबड़ा के सीने में लगी और उसके चचेरे भाई के जबड़े में जा धंसी। अधिकारी ने बताया कि छाबड़ा ने वाहन पर से नियंत्रण खो दिया, जिससे कार एक डिवाइडर से टकरा गई। पीड़ितों को अस्पताल ले जाया गया, जहां छाबड़ा ने दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस आरोपी व्यक्तियों की पहचान करने के लिए इलाके के सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रही है। 

ट्रेन की चपेट में आने से चाचा-भतीजे की मौत

फतेहपुर जिले के मलवां थाना क्षेत्र के चक्की नाका रेल पुल पर शुक्रवार को ट्रेन की चपेट में आने से चाचा-भतीजे की मौत हो गई। नगर पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) कपिलदेव मिश्रा ने बताया कि "शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे मलवां थाना क्षेत्र के चक्की नाका रेल पुल पर दो युवकों की ट्रेन से कटकर मौत हो गयी जिनकी पहचान बरमतपुर गांव निवासी धीरेंद्र पासवान (18) व रामू पासवान (19) के रूप में हुई है।"

उन्होंने परिजनों के हवाले से बताया कि "दोनों रिश्ते में चाचा-भतीजे थे और मुंबई में रहते थे। लॉकडाउन घोषित होने के दौरान काम-धंधा बंद होने पर दोनों घर लौटे थे।" सीओ ने बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं और पुलिस हादसे की जांच कर रही है।

लापता युवक का शव मिला

पिछले एक सप्ताह से लापता एक युवक का शव शुक्रवार को शहर के बाहरी इलाके में स्थित चेरा गांव में मिल गया। पुलिस उपनिरीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि 26 वर्षीय हिमांशु बिष्ट 20 दिन पहले ही मुंबई से लौटा था। पिछले सप्ताह से वह गायब था और उसके परिवार ने उसके लौट आने की उम्मीद में उसके गायब होने की पुलिस में कोई रिपोर्ट नहीं दर्ज कराई थी।

उन्होंने बताया कि उसका शव चेरा गांव में दो चटटानों के बीच पड़ा मिला। शव बुरी तरह से सड़-गल गया था। अधिकारी ने कहा कि मौत की सही वजह जानने के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है लेकिन ऐसा लगता है कि पहाड से गिरने के कारण उसकी मौत हो गयी। युवक के एक करीबी रिश्तेदार गोविंद सिंह बिष्ट ने बताया कि हिमांशु अवसाद से ग्रस्त था।

बीमारी और कर्ज से परेशान बुजुर्ग किसान ने फांसी लगाई

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के अतर्रा थाना क्षेत्र के बरेंहड़ा गांव के पतारी पुरवा में बीमारी और कर्ज से परेशान एक बुजुर्ग किसान ने पेड़ से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। अतर्रा थाना के प्रभारी निरीक्षक रवींद्र तिवारी ने बताया कि पतारी पुरवा में बृहस्पतिवार को बुजुर्ग किसान कल्लू उर्फ रामेश्वर (60) ने पेड़ से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। पोस्टमॉर्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

उन्होंने मृत किसान के बेटे शिवपूजन के हवाले से बताया कि उसका पिता ब्रेन टीबी का मरीज था और लखनऊ में इलाज चल रहा था। साथ ही बैंक का 60 हजार रुपये का कर्जदार था। शिवपूजन ने पुलिस को बताया कि बीमारी और कर्ज अदायगी के नोटिस से परेशान होकर उसके पिता ने आत्महत्या की है। एक अन्य घटना में गिरवां थाना के प्रभारी निरीक्षक शशि कुमार पांडेय ने बताया कि सहेवा गांव में रामबाबू (27) ने कोई जहरीला पदार्थ पी लिया, जिससे उसकी मौत हो गयी है।

पोस्टमॉर्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। पाण्डेय ने रामबाबू के पिता के हवाले से बताया कि 10 दिन पूर्व तीन बेटों के बीच घर और डेढ़ बीघे खेत का बंटवारा किया था, तब से वह अलग रह रहा था। एसएचओ ने कहा कि परिजन आत्महत्या करने का खास कारण नहीं बता पाए। आगे की जांच की जा रही है। 

प्रवासी मजदूर ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

चित्रकूट जिले की सदर कोतवाली क्षेत्र के भुईहरी माफी गांव में बृहस्पतिवार को गृहकलह से परेशान एक प्रवासी मजदूर ने कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। कर्वी सदर कोतवाली पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि भुईहरी माफी गांव में तीन माह पूर्व सूरत से लौटे प्रवासी मजदूर शिवमूरत (30) ने गृहकलह से परेशान होकर बृहस्पतिवार को खेत में स्थित पेड़ से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है।

शिवमूरत की बीमार पत्नी आरती के हवाले से पुलिस ने बताया कि इलाज कराने को लेकर बुधवार की शाम उसके और पति के बीच विवाद हुआ था और पति पैसा न होने की बात कहकर शाम को ही घर से निकल गया था । सुबह शव पेड़ से लटका मिला । पुलिस ने बताया कि पोस्टमॉर्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। घटना की जांच शुरू कर दी गयी है ।

Web Title: Delhi crime murder Person shot dead moving car argument bike riders
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे