बिहार: पटना में पुलिस थाने के पास दिनदहाड़े अपराधियों ने दिया बड़ी घटना को अंजाम, लूटे दस करोड़ के गहने

By एस पी सिन्हा | Published: January 21, 2022 08:28 PM2022-01-21T20:28:01+5:302022-01-21T20:32:16+5:30

बिहार की राजधानी पटना के गांधी मैदान थाने के पास अपराधियों ने एक ज्वेलरी की दुकान से करीब 10 करोड़ रुपये के गहनों की लूट को अंजाम दिया है।

Bihar: Patna Gandhi Maidan incident criminals looted jewelry worth ten crores | बिहार: पटना में पुलिस थाने के पास दिनदहाड़े अपराधियों ने दिया बड़ी घटना को अंजाम, लूटे दस करोड़ के गहने

पटना में ज्वेलरी की दुकान से दस करोड़ के गहने की लूट (फाइल फोटो)

Next
Highlightsपटना के गांधी मैदान थाने पास एक ज्वेलरी की दुकान में दस करोड़ के गहने की लूट।लूट के बाद भागते हुए व्यापारियों ने एक लुटेरे को धर दबोचा, पुलिस मामले की जांच में जुटी।घटना से नाराज व्यापारियों ने अपनी दुकानें भी बंद की, पुलिस पर अपराध को लेकर लापरवाही बरतने का आरोप।

पटना: बिहार में आपराधिक घटनाएं इन दिनों तेजी से बढ़ने लगी हैं. आलम ये है कि अपराधी पुलिस थाने के बगल में भी किसी आपराधिक घटना को अंजाम देने से नही डर रहे हैं. इसका ताजा उदाहरण राजधानी पटना में आज दोपहर देखने को मिला, जहां अपराधियों ने पटना के गांधी मैदान थाने के ठीक पीछे एक ज्वेलरी की दुकान को लूट लिया. 

घटनास्थल से कुछ सौ मीटर की दूरी पर एसएसपी से लेकर आईजी तक का कार्यालय है. कदमकुआं थाना क्षेत्र के बाकरगंज स्थित एसएस ज्वेलरी शाप में घुसकर चार अपराधियों ने हथियार के बल पर करीब दस करोड़ की लूट को अंजाम दिया है.

घटना के 45 मिनट बाद पहुंची पुलिस

लुटेरे बैग में भरकर हीरा, सोना और चांदी ले गये. वहीं, घटना के बाद व्यापारियों ने खुद एक लुटेरे को धर दबोचा. थाना पास में होने के बावजूद पुलिस घटनास्थल पर 45 मिनट बाद पहुंची. बिहार में सोने चांदी के इस सबसे बड़ी मंडी में आजतक कभी लूट नहीं हुई थी. 

कहा जा रहा है कि ग्राहक बनकर घुसे लुटेरों ने दुकान मालिक संजीव के बेटे यश और युवराज पर पिस्टल तान कर लुटपाट शुरू की. तीन बैग लेकर घुसे अपराधियों ने करीब 15 मिनट में सारे आभूषण भरे और दुकान से निकल गए. इस दौरान विरोध करने पर यश पर अपराधियों ने फायर भी किया मगर वह मिस हो गया. 

भागते हुए पकड़ा गया एक बदमाश

वारदात के समय दुकान मालिक संजीव कहीं गए थे. इस दौरान तीन अपराधी अपने साथ तीन बैगों में भरकर आभूषण ले गए. लुटेरे जब भाग रहे थे तो स्थानीय दुकानदारों की नजर उन पर पड़ गई. स्थानीय लोगों ने ईंट पत्थर फेंकना शुरू कर दिया. इसमें ही एक लुटेरा फंस गया. लोगों ने उसे धर दबोचा. उसके पास से एक बाइक, बैग में रखे कुछ गहने और पिस्टल बरामद हुआ है. 

बताया जाता है कि जिस वक्त लूटेरे दुकान में घुसे थे, उस वक्त दुकान से जुड़े 5 लोग मौजूद थे. लुटेरों ने सबसे पहले सारे लोगों का मोबाइल फोन ले लिया. फिर सारे गहने जेवरात को एक झोले में समेट लिया. फिर हथियार लहराते हुए बाहर निकल गये. घटना की जानकारी होने पर सिटी एसपी समेत बडी संख्या में पुलिसकर्मी मामले की छानबीन करने पहुंचे. 

सीसीटीवी फुटेज के जरिए बदमाशों की पहचान की कोशिश

दुकान के अंदर और आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है. वहीं, पकड़ा गया आरोपी जहानाबाद का रहने वाला है. पुलिस का कहना है कि उसने वारदात में शामिल अपने अन्य साथियों के नाम भी बता दिए हैं. लूट कितने की हुई है? इसका आकलन किया जा रहा है.

वहीं, सर्राफा कारोबारी संघ के अध्यक्ष ने बताया कि इतिहास में अब तक यहां कभी लूट नहीं हुई है. पुलिस की विफलता के कारण लुटेरे इस घटना को अंजाम दे सके हैं. लिहाजा आक्रोशित व्यापारियों ने बाजार को बंद कर दिया. व्यापारियों का कहना है कि जब तक लुटेरों को पकड़ा नहीं जाता है और माल बरामद नहीं होता तब तक बाजार नहीं खुलेगा. 

व्यापारी संघ के अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने घटना के बाद खुद पटना के एसएसपी को 4-5 दफे फोन किया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया. बाद में जब डीएसपी को फोन किया तो उन्होंने फोन उठाया. कदमकुंआ थाने की पुलिस 45 मिनट बाद घटनास्थल पर पहुंची. पुलिस की यही सक्रियता है तो लुटेरों का मन क्यों नहीं बढेगा? 

वहीं, स्थानीय व्यापारी कह रहे हैं कि पुलिस तो शराब पकड़ने में लगी है, अपराधी क्यों नहीं बेलगाम होंगे? व्यापारियों का कहना है कि बाकरगंज मोड़ के पास हमेशा पुलिस तैनात रहती है, उसने भी लुटेरों को पकड़ने को कोई कोशिश नहीं की. 

Web Title: Bihar: Patna Gandhi Maidan incident criminals looted jewelry worth ten crores

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे